--Advertisement--

फरियादी लड़की से इस IAS ने की शादी, सामने आया कुछ और ही सच

19 नवंबर को हुई IAS संजय खत्री की शादी को लेकर खबरें हैं कि अफसर ने फरियाद लेकर आई लड़की से शादी की।

Danik Bhaskar | Nov 27, 2017, 07:42 PM IST
लड़की के भाई ने बताया, ये लव मैरिज नहीं, बल्क‍ि सभी की रजामंदी से हुई। लड़की के भाई ने बताया, ये लव मैरिज नहीं, बल्क‍ि सभी की रजामंदी से हुई।

गाजीपुर. यहां की लड़की से 19 नवंबर को हुई IAS संजय खत्री की शादी को लेकर खबरें हैं कि अफसर ने फरियाद लेकर आई लड़की से शादी की। बताया जा रहा है कि गाजीपुर जिले के डीएम रहने के दौरान लड़की अपनी प्रॉब्लम लेकर बार-बार संजय से मिलती थी। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे और शादी कर ली। DainikBhaskar.com आज आपको इस शादी के पीछे के सच को बताने जा रहा है। इसके लिए हमने लड़की के भाई से बात की।

 

 

 

...तो ये है डीएम की लव मैरिज की सच्चाई

- गाजीपुर जिले के चीतनाथ जेरे किला मोहल्ले की रहने वाली विजयलक्ष्मी की शादी 19 नवंबर को रायबरेली के वर्तमान डीएम संजय खत्री से हुई।

- विजयलक्ष्मी के पिता रामजी वर्मा का निधन हो चुका है। इनके 3 भाई और 2 बहनें हैं। लुदर्स कांवेंट इंटर कॉलेज से इंटर करने के बाद ये आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली चली गईं।

- भाई रंजीत ने बताया, बहन से DM की शादी को कुछ लोग लव मैरिज बताकर अफवाह फैला रहे हैं। जबकि सच ये है कि दोनों पक्ष के परिवारवालों की सहमति से अरेंज मैरिज हुई। दोनों एक-दूसरे को पहले से जानते थे।

- बहन दिल्ली में IAS की तैयारी कर रही थी, वहीं उसकी मुलाकात संजय खत्री से हुई थी। दोनों दोस्त थे। बहन ने एग्जाम दिया, लेकिन क्‍िलयर नहीं कर पाई और वापस गाजीपुर आ गई।

- उसकी शादी के लिए काफी दिन से रिश्ता देखा जा रहा था। कई लड़के देखे गए, लेकिन कोई पसंद नहीं आया। इस बीच संजय खत्री गाजीपुर के डीएम बनकर आए। बहन उनको पहले से जानती थी, इसलिए परिवारवाले उनके पास विजयलक्ष्मी का रिश्ता लेकर गए।

- संजय और उनके परिवारवालों को बहन पसंद थी। सभी की रजामंदी से दोनों की गाजियाबाद में शादी करा दी गई।

- बता दें, संजय खत्री 2010 बैच के IAS अफसर हैं। वो मूल रूप से राजस्थान के जयपुर के रहने वाले हैं।