Hindi News »Uttar Pradesh News »Varanasi News» Three Arrested For Fraud Using Fake Matrimonial Websites

शादी का झांसा देकर फ्रॉड करता था गिरोह, बेरोजगार लड़कियों से करवाता था कॉल

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 11, 2017, 11:39 AM IST

पुलिस ने मेट्रोमोनियल साइटों के जरिए लोगों को शादी का झांसा देकर बेवकूफ बनाने वाले गिरोह का खुलासा किया है।
  • शादी का झांसा देकर फ्रॉड करता था गिरोह, बेरोजगार लड़कियों से करवाता था कॉल
    +1और स्लाइड देखें
    मेट्रीमोनियल साइट के जरिए लोगों से फ्रॉड करते थे तीनों।
    वाराणसी.यहां पुलिस ने मेट्रोमोनियल साइटों के जरिए लोगों को शादी का झांसा देकर बेवकूफ बनाने वाले गिरोह का खुलासा किया है। गिरोह के तीन सदस्यों को पुलिस और साइबर क्राइम टीम ने काशी के खजुरी इलाके से गिरफ्तार किया है। एसएसपी आरके भारद्वाज ने बताया, ''मैट्रिमोनियल वेबसाइट बनाकर 5000 रु. फीस लेकर योग्य वर और वधु दिलाने के नाम तीनों आरोपी काफी दिनों से फ्रॉड कर रहे थे। कई दिनों से इसकी शिकायत आ रही थी। पूरे देश में 60 से 70 फर्म खोलकर बेरोजगार लड़कियों से कॉल कराया जाता था। फर्मों में काम करने के लिए खूबसूरत लड़कियों को रखा जाता था और उनकी आईडी का इस्तेमाल गलत तरीके से किया जाता था।''
    ऑनलाइन शादी के प्रपोजल का एड करते थे जारी
    - एसएसपी ने बताया, शादी करवाने के नाम पर विभिन्न फर्मों जैसे- मैच प्वाइंट, बेस्ट पार्टनर, मेट्रोमोनी डॉट कॉम, हमसफर मेट्रोमोनी डाटकाम के नाम से ऑनलाइन शादी के प्रपोजल का एड जारी किया जाता था।
    - लोगों को फोन करके बताया जाता था कि आप अपने लड़के या लड़की, जिसकी शादी होना है उसकी डीटेल के साथ वेबसाइट पर अपलोड कर दें।
    - आपकी डिमांड के हिसाब से लड़का या लड़की मिल जाएगी तो आपको फोन नम्बर और अन्य डीटेल दे दी जाएगी। इसके बाद आपस में बातचीत कर शादी तय कर लेना।
    ऐसा चलता था पूरा नेटवर्क

    - आरोपी हिमांशु पाठक ने बताया, तीनों लोगों ने आपसी सहमति से पैसा कमाने का मास्टर प्लान किया गया।
    - शादी के लिए परेशान लड़की और लड़का वाले फंस जाएंगे।
    - फर्म में काम करने के‍ लिए स्थानीय लोंगो को ही रखने का प्लान बनाया गया।
    - पुलिस कार्यवाही से बचने के लिए हम लोग ऑफि‍स में काम करने वाले कर्मियों की धोखे से मूल आईडी ले लेते। उन्हीं के नाम से फर्म रजिस्टर्ड कराया और बैंकों में अकांउट खोले गए।
    - उनका प्रयोग हम लोगों द्वारा किया जा रहा था। बैंकों में लेनदेन के हिसाब से एसएमएस एलर्ट के लिए अपना मोबाइल दिया गया था, जिससे हमे लेनदेन की जानकारी म‍िलती रहे।
    - इस तरह की फर्म तीन वाराणसी में और तीन इलाहाबाद में अलग-अलग नामों से चल रही हैं, जिससे हम लोग जुड़े हुए है। इसका कलेक्शन हम लोगों को मिलता रहता है। इसी तरह के 60 से 70 फर्म पूरे देश में संचालित है, जो कि हमारी जानकारी में हैं।
  • शादी का झांसा देकर फ्रॉड करता था गिरोह, बेरोजगार लड़कियों से करवाता था कॉल
    +1और स्लाइड देखें
    कई दिनों से म‍िल रही सूचना के बाद पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को किया अरेस्ट।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Varanasi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Three Arrested For Fraud Using Fake Matrimonial Websites
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Varanasi

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×