वाराणसी / रात को वाट्सएप पर भेजा अपनी हत्या होने का मैसेज ,सुबह रेलवे ट्रैक पर मिला शव



मृतक शुभम  (फाइल फोटो) मृतक शुभम (फाइल फोटो)
X
मृतक शुभम  (फाइल फोटो)मृतक शुभम (फाइल फोटो)

  • हत्या से पहले चचेरे भाई के वाट्सअप पर भेजा था मैसेज
  • लिखा- ये लोग मुझे मार देंगे, बचा लीजीए

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 03:14 PM IST

वाराणासी. जिले में फुलपुर थाना अंतर्गत खालिसपुर रेलवे ट्रैक पर शुक्रवार सुबह एक 23 वर्षीय युवक का शव बरामद किया गया। जीआरपी और पुलिस ने जब शिनाख्त करवाया तो उसकी पहचान सहमलपुर गांव के बीए पास शुभम यादव के रूप में हुई। परिजनों का आरोप है कि उसकी हत्या की गई है,जबकि पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

 

मौत की कहानी तब रहस्यमय बन गई, जब चचेरे भाई ने बताया उनके वाट्स एप पर शुभम ने मैसेज किया था कि मुझे 10 लोग उठाकर ले जा रहे है,मेरी बाईक मझवां के पास खड़ी है। मुझे ये लोग मार देंगे।

 

चचेरे भाई चंद्रशेखर को रात 1.00 बजे शुभम ने अपने मौत का आखरी संदेश वाट्सअप पर भेजा था। उसने लिखा, ''हाय ,ये लोग मुझे मार देंगे। बाइक मैंने छोड़ दिया है। रेलवे ट्रैक के पास ले जा रहे हैं। मैंने शर्ट पर भी बहुत कुछ लिख दिया है ,मुझे बचा लीजीए।''

 

चचेरे भाई चंद्रशेखर ने बताया कि शुभम गुरुवार रात को चारोगांव में शादी में गया था। एक भाई एक बहन है। पढ़ने में अच्छा होने की वजह से वो वीडीओ बनने की तैयारी भी कर रहा था। शुभम के पिता भईया लाल ट्रक ड्राइवर हैं। शुभम ने मरने से पहले डॉट पेन से अपने शर्ट के हाथ पर और अपनी हथेली पर कुछ लिखा था,जो खून की वजह से स्पष्ट नही हो पा रहा है। 

 

इंस्पेक्टर श्याम बाबू ने बताया सारे साक्ष्य इकठ्ठा किये जा रहे हैं। वाट्सएप मैसेज को भी लोकेशन के हिसाब से ट्रैक किया जा रहा है।

COMMENT