वाराणसी / राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने किए बाबा विश्वनाथ के दर्शन, कहा- काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर का निर्माण अच्छी पहल

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने बाबा विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने बाबा विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की।
X
राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने बाबा विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की।राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने बाबा विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की।

  • जंगमबाड़ी मठ की ओर से आयोजित वीर शैव महाकुंभ में शामिल होने पहुंचे हैं राज्यपाल
  • पीएम मोदी भी अगले महीने महाकुंभ में शिरकत करने पहुंचेंगे, मठ की तरफ से उनको भी निमंत्रण दिया गया है

दैनिक भास्कर

Jan 16, 2020, 10:11 AM IST

वाराणासी. हिमांचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने गुरुवार को श्री काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्होंने काशी विश्वनाथ धाम काॅरिडोर की प्रशंसा करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने काशी के लिए जो कार्य किया है अब वो दिखाई पड़ रहा है। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्णय उन्होंने बहुत ही अच्छे से लिया है। यह कॉरिडोर जब बनकर तैयार होगा तो पूरे विश्व में इसकी गूंज सुनायी देगी। 

राज्यपाल ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ऐसा कार्य जहां कहीं भी होता है तो विवाद होता है। लेकिन काशीवासियों ने पीएम के निर्णय को सहज स्वीकार किया। यह काफी अच्छी बात है।दत्तात्रेय ने कहा कि दर्शन के दौरान मैंने हिमांचल के साथ पूरे भारत की उन्नति की कामना बाबा से की है। जंगमबाड़ी मठ में कल से शुरू हुए वीरशैव महाकुंभ में शामिल होने आया था। देश की 130 करोड़ जनता स्वस्थ रहे यही भगवान से प्रार्थना की है।

नागरिकता कानून को लेकर पूछे गए सवाल का उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि संसद में यह पास हो चुका है। इस मुद्दे पर बोलना उचित नहीं होगा।

देश की प्रगति के लिए सबको साथ लेकर चलना होगा

उन्होंने कहा कि भारत के देव क्षेत्र जनता को संगठित करने का काम करते हैं। देश की प्रगति होना, सभी को साथ लेकर चलना होगा। काशी में जैसे कॉरिडोर के कार्य में लोगों ने खुशी से 200 से ज्यादा मकान गिराने के लिए राजी हुए और सरकार ने भी उनको पुनर्वासित करने का काम किया है, यह अच्छा संदेश है।

मोदी 16 फरवरी को यहां सिद्धान्तशिखमणि ग्रंथ का लोकार्पण करेंगे

उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक नगरी वाराणसी में स्थित जंगमबाड़ी मठ में 15 जनवरी से 21 फरवरी के बीच श्री जगदगुरु गुरुकुल शतमानोत्सव एवं वीरशैव महाकुंभ का आयोजन किया जाएगा। खास बात यह है कि इस कार्यक्रम में शामिल होने पीएम मोदी भी आएंगे। मोदी 16 फरवरी को यहां सिद्धान्तशिखमणि ग्रंथ का लोकार्पण करेंगे। सिद्धान्तशिखामणि ग्रंथ का 19 भाषाओं में अनुवाद किया गया है। इससे जुड़े एक मोबाइल ऐप को भी वह लांच करेंगे। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना