मऊ / सात समंदर का सफर तय कर वोट डालने के लिए भारत पहुंचीं प्रिया

Dainik Bhaskar

May 19, 2019, 01:35 PM IST



प्रियंका सिंह। प्रियंका सिंह।
X
प्रियंका सिंह।प्रियंका सिंह।

  • कहा- स्वीडन में पीएम नरेंद्र मोदी ने रखा था भारत के विकास का विजन
  • तभी तय किया कि वोट डालने जरुर आऊंगी भारत

मऊ. मताधिकार के प्रति चैतन्यता कहें या नए भारत के प्रति युवाओं का समर्पण.... कुछ भी हो रविवार को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में यूरोप से चलकर एक युवती घोसी लोकसभा क्षेत्र में मतदान के लिए पहुंची। युवती ने कहा कि, उन्होंने स्वीडन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण सुना था, तभी मन बना लिया था कि वोट देने अवश्य अपने देश जाऊंगी। हालांकि युवती के पति अवकाश न मिल पाने के कारण वोटिंग में हिस्सा नहीं ले सके। इसका उन्हें मलाल है। 

 

मतदान के एक दिन पहले पहुंची अपने घर

नगर के निजामुद्दीनपुरा निवासी राणा प्रताप सिंह की बेटी प्रिया सिंह शनिवार को एयरपोर्ट पर उतरने के बाद वे अपने भाई उज्ज्वल सिंह के साथ कार से यहां पहुंची। प्रिया ने बताया कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वीडन गए थे, वहां उनका भाषण, भारत देश के चहुंमुखी विकास के प्रति उनका विजन सुना तभी मन बना लिया था कि अगले चुनाव में वोट देने अवश्य जाऊंगी। फिर क्या था, चुनाव के बारे में पता चला तो अपनी नौकरी से अवकाश लेकर चली आईं। 

 

तीन साल पहले बना पहचान पत्र

तीन वर्ष पूर्व प्रिया सिंह का मतदाता पहचान पत्र बना था, अभी वे अपने मताधिकार का प्रयोग कर पातीं कि इसी बीच उनका विवाह हो गया और वे पति विजय विक्रम सिंह के साथ स्वीडन चली गईं। वे वहां नौकरी करते हैं। वहीं इन्होंने भी नौकरी ज्वाइन कर ली। पिछले वर्ष जब प्रधानमंत्री स्वीडन गए तो अन्य प्रवासी भारतीयों की तरह प्रिया और विजय विक्रम भी उन्हें सुनने पहुंचे। उनकी नीतियों से इतने प्रभावित हुए कि तभी तय कर लिया देश का विकास करने वाले हाथों को मजबूत करना है। प्रिया सिंह दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष शक्ति सिंह की चचेरी बहन हैं।
 

COMMENT