मिर्जापुर / 4 साल की बच्ची से दुष्कर्म मामले में अदालत ने 277 दिन में आरोपी को दी आजीवन कारावास की सजा

प्रतीकात्मक। प्रतीकात्मक।
X
प्रतीकात्मक।प्रतीकात्मक।

  • 11 अप्रैल 2019 को चुनार थाना इलाके में हुई थी वारदात
  • अदालत ने दोषी पर 50 हजार जुर्माना लगाया, इसमें 30 हजार पीड़ित परिवार को मुआवजा मिलेगा

दैनिक भास्कर

Jan 14, 2020, 12:54 PM IST

मिर्जापुर. उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में 4 वर्षीय बालिका से दुष्कर्म मामले में पॉक्सो एक्ट की विशेष अदालत ने आरोपी को मौत तक जेल की सजा दी है। कोर्ट ने कहा- जब तक आरोपी ने मौत नहीं होती है, तब तक उसे जेल में रखा जाए। घटना 11 अप्रैल 2019 की है। अदालत ने 277 दिन में फैसला सुनाया है। 

विशेष न्यायाधीश ज्ञानेंद्र राव ने दोषी पर 40 हजार का अर्थदंड भी लगाया है। आदेश के अनुसार, अर्थदंड की धनराशि से 30 हजार रुपए पीड़िता को बतौर क्षतिपूर्ति दिए जाएंगे। अभियोजन से मुकदमे की पैरवी सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी सुनील गुप्ता ने की। उन्होंने बताया कि, अदालत में कुल आठ गवाहों को परीक्षित कराया। अदालत ने स्पष्ट किया है कि, अर्थदंड न अदा करने पर दो माह के अतिरिक्त साधारण कारावास और पॉक्सो एक्ट के तहत उम्र कैद की सजा दी गई है। 

यह था मामला
चुनार थाना इलाके के एक गांव में 11 अप्रैल 2019 को चार साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में पुलिस ने गाजीपुर जिले के बखराबाद गांव निवासी दुलारे को को गिरफ्तार किया था। बच्ची खेत में मिली थी। घटना की प्राथमिकी पीड़ित के पिता ने चुनार कोतवाली में उसी दिन दर्ज कराई थी। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना