आज से बदल जाएगा मुगलसराय स्टेशन का नाम, पंडित दीनदयाल उपाध्याय होगा नाम; शाह-गोयल-योगी रहेंगे मौजूद / आज से बदल जाएगा मुगलसराय स्टेशन का नाम, पंडित दीनदयाल उपाध्याय होगा नाम; शाह-गोयल-योगी रहेंगे मौजूद

11 फरवरी 1968 में इसी स्टेशन के पास मृत पाए गए थे पंडित दीनदयाल उपाध्याय

DainikBhaskar.com

Aug 05, 2018, 09:59 AM IST
mughalsarai railway station named deen dayal upadhyay

चंदौली. मुगलसराय जंक्शन का नाम आज से पंडित दीनदयाल उपाध्याय हो गया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रेलमंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को इस स्टेशन के नए नाम का उद्घाटन किया। इसी साल जून महीने में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इस रेलवे स्टेशन का नाम बदलने का गजट नोटिफिकेशन जारी किया था।

एनआरसी मं अपना पक्ष रखें सपा-बसपा और कांग्रेस: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा- सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन करते हुए हम एनआरसी लेकर आए। एनआरसी असम से अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों को बेदखल करने का एक तरीका है। मैं समाजवादी पार्टी, बसपा और कांग्रेस से अपने स्टैंड को स्पष्ट करने के लिए कहूंगा। वह अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों को यहां रहने देना चाहते हैं या बेदखल करना चाहते हैं। कांग्रेस पार्टी ओबीसी वर्ग को संवैधानिक दर्जा देने वाले बिल का समर्थन करे या ना करे, भारतीय जनता पार्टी ओबीसी वर्ग को उनका अधिकार दिलाकर रहेगी। शाह ने मुख्यमंत्री योगी की तारीफ करते हुए कहा कि योगी जी की सरकार में उत्तर प्रदेश से माफिया राज पूरी तरह समाप्त हो गया। वहीं, उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा, बसपा और कांग्रेस एक हो जाएं फिर भी बीजेपी को नहीं हारा सकते हैं।

हम सब को एक नई पहचान मिल रही है: कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की प्रेरणा से बहुत बड़ा ऐतिहासिक कार्य इस क्षेत्र में हो रहा है। हम सब को एक नई पहचान मिल रही है। वर्षों से इस स्थान की पहचान मुगलसराय जंक्शन के नाम पर थी आज से यहां की पहचान पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के रूप में हो गई। मैं इसके लिए प्रधानमंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष और रेलमंत्री जी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। आज इस देश-प्रदेश के अंदर के अंदर जितनी भी लोक कल्याणकारी कार्यक्रम हो रहे हैं चाहे वह किसानों, नौजवानों, दलितों, वंचितों और महिलाओं के कल्याण के हित के लिए हो इन सब के प्रेरणा पुंज अगर कोई है तो वह नाम है पं. दीनदयाल उपाध्याय जी।

1862 बना था रेलवे स्टेशन: मुगलसराय जंक्शन रेलवे स्टेशन 1862 में बना था। 11 फरवरी 1968 में इसी स्टेशन के पास पंडित दीनदयाल उपाध्याय मृत पाए गए थे। कार्यक्रम के लिए स्टेशन की मेन बिल्डिंग पर भगवा रंग का बॉर्डर बनाया गया था।

X
mughalsarai railway station named deen dayal upadhyay
COMMENT