उत्तरप्रदेश / सोनभद्र में 3346 टन स्वर्ण भंडार मिलने का अनुमान; यह भारत के गोल्ड रिजर्व का करीब 5 गुना

सोन पहाड़ी जहां जियोलॉजिकल टीम ने टैगिंग की।
हेलिकॉप्टर की मदद से टैगिंग की जा रही है। हेलिकॉप्टर की मदद से टैगिंग की जा रही है।
इसी साइट पर सोने का भंडार मिलने का अनुमान। इसी साइट पर सोने का भंडार मिलने का अनुमान।
X
हेलिकॉप्टर की मदद से टैगिंग की जा रही है।हेलिकॉप्टर की मदद से टैगिंग की जा रही है।
इसी साइट पर सोने का भंडार मिलने का अनुमान।इसी साइट पर सोने का भंडार मिलने का अनुमान।

  • सोन पहाड़ी में 2700 टन और हरदी क्षेत्र में 646.15 टन सोने का भंडार होने का अनुमान
  • 2005 में जीएसआई द्वारा किया गया दावा सही निकला, जियो टैगिंग के लिए 7 सदस्यीय टीम गठित

दैनिक भास्कर

Feb 21, 2020, 08:44 PM IST

सोनभद्र. उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले की सोन पहाड़ी में 2700 टन सोना और हरदी क्षेत्र में 646.15 टन सोने का भंडार होने का अनुमान है। भूतत्व एवं खनिकर्म निदेशालय ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि की। ई-टेंडरिंग से इसकी नीलामी का आदेश भी जारी कर दिया गया है। इससे पहले, खनिज स्थलों की जियो टैगिंग के लिए सात सदस्यीय टीम गठित कर दी गई है, जिसकी रिपोर्ट 22 फरवरी तक लखनऊ को सौंपी जाएगी। बता दें कि भारत सरकार के पास 618 टन सोना रिजर्व है।

जीएसआई ने 2012 में कर दी थी पुष्टि
2005 से ही यहां जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) की टीम अध्ययन कर रही है। टीम ने इस आधार पर ही सोनभद्र में सोना होने का दावा किया था। इसकी पुष्टि 2012 में हुई थी कि सोनभद्र की पहाड़ियों में सोना मौजूद है। हालांकि, अब तक इस दिशा में काम शुरू नहीं हुआ था। अब प्रदेश सरकार ने तेजी दिखाते हुए सोने के ब्लॉक के आवंटन के संबंध में प्रक्रिया शुरू कर दी है। करीब 12 लाख करोड़ रुपए की खनिज संपदा मिलने का अनुमान है।

निदेशालय ने नीलामी के लिए जारी किया आदेश।

अन्य खनिज भी मिले, यूरेनियम का भंडार संभव
सोनभद्र के सलैयाडीह क्षेत्र में एडालुसाइट, पटवध क्षेत्र में पोटाश, भरहरी में लौह अयस्क और छपिया ब्लाक में सिलीमैनाइट के भंडार की भी खोज की गई है। जिले के खनिज अधिकारी केके राय ने बताया कि सोनभद्र जिले में यूरेनियम का भी भंडार होने की संभावना है, जिसकी तलाश में केंद्रीय और अन्य टीमें लगी हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना