जौनपुर / पूर्वांचल विश्वविद्यालय में गवर्नर ने छात्राओं को शपथ दिलाई- 'दहेज लेने वाले दूल्हे के साथ शादी नहीं करेंगे'

जौनपुर पहुंचने पर राज्यपाल का फूलों से किया स्वागत। जौनपुर पहुंचने पर राज्यपाल का फूलों से किया स्वागत।
X
जौनपुर पहुंचने पर राज्यपाल का फूलों से किया स्वागत।जौनपुर पहुंचने पर राज्यपाल का फूलों से किया स्वागत।

  • वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में 23वें दीक्षांत समारोह में पहुंची राज्यपाल आनंदीबेन पटेल
  • 65 मेधावियों को गोल्ड मेडल और 121 शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधि मिली

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 04:22 PM IST

जौनपुर. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की छात्राओं को शादी में दहेज लेने वाले दूल्हे से शादी नहीं करने की शपथ दिलाई। राज्यपाल ने कहा- शादी में वर पक्ष की तरफ से दहेज की डिमांड की जाए तो बेटियां मंडप से उठ जाएं। साफ कह दें कि, उन्हें विवाह नहीं करना है। लड़का कोई और दुल्हन तलाश ले। मंगलवार को राज्यपाल यहां विश्विद्यालय के 23वें दीक्षांत समारोह में शामिल होने पहुंची थीं।

ये भी पढ़े

समारोह में राज्यपाल ने 65 मेधावियों को गोल्ड मेडल और 121 शोधार्थियो को पीएचडी की उपाधि प्रदान की। कहा- इन्हीं छात्रों से राष्ट्र का भविष्य है। युवा शक्ति से देश हर समस्या का सामाना करता है। यहां के युवाओं में बहुत क्षमता है। युवा वर्ग को दृढ़ संकल्प के साथ सामने आना होगा। समाज व देश को पीछे ले जाने वाली कुरीतियों का सामना करना होगा। बिना दहेज के शादी कर मिसाल पेश करनी होगी। गोल्ड मेडल आपको मिला है, इसको देखकर सोचिए कि अब शादी में गोल्ड की मांग नहीं करेंगे। लड़कियों को दहेज के लिए खुदकुशी करनी पड़ती है। युवा वर्ग तय कर ले कि हमें सोना, गाड़ी, बंगला नहीं चाहिए, तभी शिक्षा का महत्व है। 

राज्यपाल ने जौनपुर के ऐतिहासिक महत्व पर भी बात की। कहा- जौनपुर का अस्तित्व वैदिक काल से है। टीबी एक गंभीर बीमारी है। विश्व के चार मरीजों में से एक भारत का है। पीएम मोदी ने 2025 तक भारत को टीबी से मुक्त कराने का संकल्प लिया है। इसमें सहभागी बनना चाहिए। उन्होंने माताओं-बहनों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने में सहयोग करने की अपील की। कहा- अब भी बाल विवाह हो रहा है। इस पर लगाम जरुरी है। इसमें शामिल लोगों को जेल होनी चाहिए। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना