वाराणसी / गवर्नर राम नाईक सदन में विधायकों के आचरण से नाराज, बोले- सभ्यता का परिचय देना चाहिए

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 05:41 PM IST


कार्यक्रम का उद्घाटन करते गवर्नर। कार्यक्रम का उद्घाटन करते गवर्नर।
X
कार्यक्रम का उद्घाटन करते गवर्नर।कार्यक्रम का उद्घाटन करते गवर्नर।
  • comment

  • लोकबंधु राजनारायण की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे गर्वनर वाराणसी

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक गुरुवार को गंगापुर स्थित राज नारायण इंटर कॉलेज में लोकबंधु राजनारायण कि स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए इशारों में विपक्षी पार्टियों के विधायकों पर निशाना साधा। उन्होंने बीते दिनों विधान सभा सत्र के दौरान सदन में विधायकों के आचरण को लेकर चिंता जाहिर की। कहा कि विधानसभा में विधायकों ने मेरे ऊपर भी कागज के गोले फेंके, लेकिन मैंने अपने दायित्वों का निर्वहन किया। ऐसे ही सभी राजनेताओं को अपने दायित्वों का निर्वाहन करना चाहिए। 

अखिलेश यादव को प्रयागराज जाने से रोके जाने के मामले में विपक्ष के प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात के बारे में राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि, विपक्ष का एक प्रतिनिधिमंडल मुझसे कल मिलने आया था और मैंने उनकी बातों को भी सुना और उनके द्वारा दिए गए पत्रक को लिया और उसे आज मुख्यमंत्री के पास भेजा गया है। सरकार से उचित कार्रवाई के लिए कहा है। 

 

राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि, राजनीति में सभी को सभ्यता का परिचय देना चाहिए। जो पहले के नेताओं में दिखता था, लेकिन दुर्भाग्य से आज के नेताओं में वह नहीं दिखाई देता है।

 

इस दौरान उन्होंने लोकबंधु राजनारायण इंटर कॉलेज के आर्शीवाद समारोह का उद्घाटन किया। साथ ही 'राजनारायण और प्रजातांत्रिक पुनर्जागरण और उनकी उपयोगिता' आधारित विचार गोष्ठी पर अपने विचार व्यकत किए। इस विषय पर अन्य वक्ताओं ने भी अपनी बात रखी।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें