--Advertisement--

सीने से पेट तक जुड़ी थीं 4 दिन की जुड़वां बच्चियां, 20 डॉक्टरों की टीम ने साढ़े 4 घंटे ऑपरेशन कर दोनों को किया अलग; 10 लाख बच्चों में एक जुड़वां लेता है इस तरह से जन्म

डॉ. ने बताया, उनके लिए सबसे बड़ा चैलेंज क्या था

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 06:11 PM IST
varanasi news: bhu doctors seperated 4 days twins with common chest and head after 4   hours operation

अमित मुखर्जी, वाराणसी. वाराणसी के बीएचयू हॉस्पिटल (बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी) में गुरुवार को 4 दिन की जुड़वां बच्चियों को ऑपरेशन कर अलग किया गया है। दोनों बच्चियां सीने से पेट तक आपस में जुड़ी थीं। उन्हें अलग करने के लिए 20 डॉक्टरों की टीम को साढ़े 4 घंटे का समय लगा। डॉक्टर वैभव पांडेय ने बताया कि पहले बच्चियों का ब्लड प्रेशर, शुगर, हार्ट बीट टेस्ट करके देखा गया था। दोनों बच्चियों को एक साथ बेहोश करना बड़ा चैलेंज था। उन्होंने बताया कि 10 लाख बच्चों में से कोई एक जुड़वां इस तरह पैदा होता है। फिलहाल दोनों स्वस्थ हैं। कुछ दिन तक उन्हें डॉक्टरों की निगरानी में रखा जाएगा।

एक्सपर्ट्स की दो टीमें बनाई गईं

डॉ. वैभव ने बताया कि ऑपरेशन के लिए रेडियोलॉजी, एनेस्थीसिया और ऑपरेशन थियेटर एक्सपर्ट्स की दो टीमें बनानी पड़ीं। दो मॉनीटर और ब्लड समेत सभी इंतजाम डबल किए थे, क्योंकि लिवर से काफी खून बहता है। इसके बाद दोनों बच्चियों को अलग किया गया।

खास बात ये रही कि दोनों बच्चियों के दो दिल थे। इस कारण उन्हें बचाया जा सका। यदि दोनों में एक दिल होता तो कोई एक ही बच सकती थी। एमएस डॉ. वीएन मिश्रा ने बताया कि आमतौर पर इस तरह के ऑपरेशन में करीब 6 लाख रुपए खर्च होते हैं। लेकिन दोनों बच्चियों के सभी टेस्ट और ऑपरेशन नि:शुल्क किए गए।

उन्होंने कहा कि दोनों बच्चियों ने रविवार को गाजीपुर के अस्पताल में जन्म लिया था। केस गंभीर होने के कारण उन्हें बीएचयू रैफर किया गया था। बच्चियों के पिता राजेश कुमार एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। ये बच्चियां उनकी पहली संतान हैं।

X
varanasi news: bhu doctors seperated 4 days twins with common chest and head after 4   hours operation
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..