जेट संकट / एयरवेज कंपनी के डूबने की कहानी

May 17,2019 1:05 PM IST

बीते 17 अप्रैल में जेट एयरवेज ने अपने सारे ऑपरेशन बंद कर दिए...कर्मचारियों को तीन माह से सैलरी नहीं मिली है और कंपनी के खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन हो रहे हैं... जेट पर बैंकों का करीब 15 हजार करोड़ रुपए का कर्ज बकाया है..और कंपनी को दोबारा शुरू करने के लिए खरीददार की तलाश है...ऐसे में जेट में हिस्सेदारी खरीदने के लिए अबुधाबी की कंपनी एतिहाद ने कुछ शर्तों के साथ बोली लगाई है... अगर जेट को चलाने के लिए कोई भी निवेशक सामने नहीं आया तो कंपनी को दिवालिया घोषित कर दिया जाएगा...अब सवाल उठता है कि आखिर जेट इस हालत में कैसे पहुंची...