मौसम / राजस्थान में थम नहीं रही बारिश

Sep 15,2019 6:01 PM IST

जयपुर। पूर्वी राजस्थान में मानसून सक्रिय है। मानसून अपने अंतिम चरण में है, लेकिन जमकर बरस रहा है। कोटा, झालावाड़ में हालात खबरा हैं। कोटा बैराज के 19 गेट खोले गए तथा 6 लाख 78 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे निचली बस्तियों में पानी भर गया तथा बाढ़ के हालात बन गए। हनुमानगड़ी, कर्बला, लाडपुरा, खंड गांवडी हरिजन बस्ती में दस से 20 फीट तक पानी भर गया। यहां बाढ़ जैसे हालात हैं। आस-पास के दस गांव पानी में डूब गए हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, निगम, सिविल डिफेंस व सेना राहत व बचाव में जुटी है। मध्यप्रदेश में चंबल के कैचमेंट उएरिया में लगातार बारिश होने से चंबल में पानी की आवक जारी है। कोटा से सटे झालावाड़ जिले में रविवार को बरसात रुक जाने व पानी उतरने से थोड़ी राहत मिली। हालांकि जिले के रायपुर, चौमेला व गंगधार में हालात खराब हैँ। रायपुर में सेना को मदद के लिए बुलाया गया।  धौलपुर व करौली में चंबल उफान पर है। करौली के करणपुर क्षेत्र के कई गांव पानी से घिरे हैं। धौलपुर में चंबल खतरे के निशान से 9.21 मीटर ऊपर बह रही है। देर रात तक चंबल का जलस्तर 139 मीटर पर जा पहुंचा था जबकि खतरे का निशान 129.79 मीटर है।