करियर इन नर्सिंग:मरीजों की देखभाल तक ही सीमित नहीं नर्सिंग का काम, देश-विदेश में अच्छे पैकेज पर कर सकती हैं नौकरी

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दुनियाभर में नर्सों की मांग लगातार बढ़ रही है। मानवता की सेवा के लिए इसे जॉब के तौर पर सबसे बेहतर माना जाता है। अगर आप भी सेवाभाव, सहनशीलता और समर्पण जैसे गुणों के साथ रोगियों की सेवा करने में सक्षम हैं, तो नर्सिंग आपके लिए बेस्ट करियर हो सकता है। तनावपूर्ण परिस्थितियों में भी लम्बे समय तक काम करने की क्षमता रखने वालों के लिए यह सबसे अच्छी फील्ड है। कोरोना महामारी के दौरान दुनियाभर में बने हालातों के बाद इस फील्ड में रोजगार के काफी अवसर मौजूद हैं। ऐसे में जानते हैं, नर्सिंग में आप कैसे बना सकती हैं करियर-

कौन से स्किल्स हैं जरूरी?

  • नर्सों को लगातार मेडिकल स्टाफ और रोगियों के साथ काम करना पड़ता है, ऐसे में एक नर्स के पास अच्छा कम्युनिकेशन स्किल होना जरूरी है।
  • गलतियों से बचने और रोगियों की बेहतर देखभाल के लिए एक नर्स में एकाग्रता होना काफी जरूरी है।
  • एक नर्स के लिए जरूरी है कि वह हालात के मुताबिक अपनी क्रिटिकल थिंकिंग के आधार पर निर्णय लेने में सक्षम हो।

एलिजिबिलिटी

  • किसी भी इंस्टीट्यूट से PCB में 12वीं पास कैंडिडेट्स इस फील्ड में जा सकते हैं।
  • सहायक नर्सिंग और मिडवाइफ के लिए 50% अंकों के साथ 10वीं पास होना जरूरी है।
  • नर्सिंग कोर्सेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम की वैलिड मार्कशीट जरूरी है।
  • नर्सिंग में रोजगार पाने के लिए स्टेट नर्सिंग काउंसिल के साथ रजिस्ट्रेशन होना चाहिए।

फ्यूचर अपॉर्च्युनिटी

मेडिकल की फील्ड में हो रही तरक्की और कोरोना जैसे वायरस से बने हालातों को देखते हुए विदेशों में भी आजकल उच्च शिक्षित नर्सों की बहुत मांग है। भारत कई देशों में नर्सों को भेजने वाला सबसे बड़ा देश बन चुका है। अच्छे सैलरी पैकेज के लिए अनुभव होने के बाद आप विदेश में भी इस फील्ड में रोजगार पा सकती हैं।

यहां मिलेंगे जॉब के मौके

  • इंडियन रेड-क्रॉस सोसाइटी
  • इंडियन नर्सिंग काउंसिल, विभिन्न राज्य-स्तरीय नर्सिंग काउंसिल
  • विभिन्न नर्सिंग स्कूल और संगठन
  • सभी प्रकार के अस्पताल एवं नर्सिंग होम्स
  • रक्षा सेवा
  • शिक्षण संस्था तथा उद्योग
  • अनाथाश्रम और वृद्धाश्रम

नर्सों की जिम्मेदारी-

जनरल नर्स- हॉस्पिटल, नर्सिंग होम और चिकित्सालय संस्थानों में नर्सिंग का काम करने वालों को जनरल नर्स कहा जाता है। उनके मुख्य कार्य में मरीजों की देखभाल, डॉक्टर के काम में सहयोग और प्रशासनिक जिम्मेदारियां शामिल हैं।

मिडवाइफ- इस श्रेणी में आनी वाली नर्सों की विशेषज्ञता गर्भवती महिलाओं का ख्याल रखना और चाइल्डबर्थ के दौरान सहायता मुहैया कराना है।

हेल्थ वर्कर- ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को चिकित्सकीय सेवा उपलब्ध कराने वाले नर्सिंग से जुड़े लोग हेल्थ वर्कर कहलाते हैं।

सैलरी

इस क्षेत्र में शुरुआती तौर पर आपको 7 से 17 हजार रुपए तक का मासिक वेतन मिल सकता है। मिड-लेवल पदों पर नर्सें 18 से 37 हजार रुपए कमा सकती हैं। ज्यादा अनुभवी नर्सों को 48 से 72 हजार रुपए तक भी मासिक सैलरी मिल सकती है। इसके अलावा यूएस, कनाडा, इंग्लैंड और मध्य-पूर्व के देशों में रोजगार पाने वाली नर्सों को इससे भी ज्यादा वेतन मिलता है।

खबरें और भी हैं...