• Hindi News
  • Women
  • Career opportunity
  • International Women's Day 2021| Career In Modeling| How To Make Career In Modeling, Click Here For Details Like Skills, Eligibility And More

करियर इन मॉडलिंग:ग्लैमर वर्ल्ड में नाम कमाने का बेहतरीन जरिया है मॉडलिंग, नेम-फेम और मनी के साथ देश-विदेश घूमने का भी मिलेगा मौका

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मॉडलिंग से मतलब सिर्फ रैंप पर कैटवॉक करना ही नहीं है, बल्कि इस फील्‍ड में इसके अलावा भी करने क‍ो बहुत कुछ है। अगर आपका फिगर अच्छा है, चेहरा फोटोजेनिक है और भरपूर आत्मविश्वास के साथ आप ग्लैमर की ओर आकर्षित रही हैं तो मॉडलिंग को बतौर करियर चुनकर आप इस फील्ड में नाम और दाम दोनों कमा सकती हैं।

कौन-से स्किल्स हैं जरूरी?

  • एक मॉडल का करियर उसकी शारीरिक विशेषताओं को बनाए रखने पर निर्भर करता है। ऐसे में आपको अपने आहार और डेली रुटीन को सख्ती से फॉलो करना चाहिए।
  • एक मॉडल के तौर पर आपको बड़ी संख्या में लोगों के साथ बातचीत करनी पड़ सकती है, ऐसे में आपका कम्युनिकेशन स्किल अच्छा होना चाहिए।
  • फोटो शूट और एडवर्टाइजमेंट के दौरान मॉडल्स को फोटोग्राफर्स और क्लाइंट्स के डायरेक्शन फॉलो करने पड़ते हैं, ऐसे में आपके पास लिसनिंग स्किल्स भी होनी चाहिए।
  • मॉडल को अपने पोर्टफोलियो, अपने काम और ट्रैवलिंग शेड्यूल का मैनेजमेंट करना आना चाहिए।
  • एक मॉडल के तौर पर आपके पास धैर्य और दृढ़ता का कौशल भी होना चाहिए।
  • मॉडल का ज्यादातर समय फोटो शूट में ही बीतता है, ऐसे में आपको कैमरे के सामने कंफर्टेबल होना चाहिए।
  • मॉडल्स को हेयर स्टाइलिंग, मेकअप और क्लोथिंग की बेसिक नॉलेज होनी चाहिए।

एलिजिबिलिटी

  • इस फील्ड के लिए आपकी लंबाई 5 फुट 7 इंच होनी चाहिए।
  • 12वीं के बाद आप इसके लिए सीधे एडमिशन ले सकती हैं।
  • इसके लिए किसी भी मॉडलिंग इंस्टीट्यूट से ट्रेनिंग ले सकती हैं।
  • इस फील्ड में शुरुआत के लिए रीसेंट फोटोज के साथ अपने पोर्टफोलियो मॉडलिंग एजेंसी को भेज सकती हैं।

फ्यूचर अपॉर्च्युनिटी

पिछले कुछ दशकों में मॉडलिंग का बड़ी तेजी से विकास हुआ है। अब बड़े शहरों के अलावा छोटे शहरों में भी फैशन शो होने लगे हैं। इंडियन कॉस्ट्यूम और ड्रेस डिजाइनर की विदेशों में मांग बढ़ने से अब वहां भी इंडियन मॉडल्स की मांग बढ़ गई है। वर्तमान में मॉडलिंग एक लोकप्रिय करियर ऑप्शन बन चुका है, जिसमें नेम, फेम और मनी के साथ ही देश-विदेश घूमने का भी मौका मिलता है।

मॉडलिंग के प्रकार

टेलीविजन मॉडलिंग- इसमें आपको मूविंग कैमरों के सामने मॉडलिंग करनी पड़ती है। इसका इस्तेमाल टीवी विज्ञापनों, सिनेमा, वीडियो, इंटरनेट आदि में किया जाता है।

प्रिंट मॉडलिंग- इसमें स्टिल फोटोग्राफर्स मॉडल्स की तस्वीरें क्लिक करते हैं। इनका इस्तेमाल अखबार, ब्रोशर्स, मैगजीन, कैटलॉग, कैलेंडर्स आदि में किया जाता है।

शोरूम मॉडलिंग- शोरूम मॉडल्स आमतौर पर निर्यातकों, गारमेंट निर्माताओं और बड़े रिटेलरों के लिए काम करते हुए खरीदारों के सामने फैशन के लेटेस्ट ट्रेंड्स डिस्प्ले करती हैं।

रैंप मॉडलिंग- इसमें मॉडल्स को दर्शकों के सामने गारमेंट्स और एसेसरीज प्रदर्शित करनी होती है। इसके लिए रैंप मॉडल की वॉकिंग स्टाइल, बॉडी लैंग्वेज और खड़े होने की स्टाइल बेहतर होनी चाहिए।

इन ब्यूटी कॉम्पिटिशन में ले सकती हैं पार्ट

  • फेमिना मिस इंडिया प्रतियोगिता
  • ग्लैडरैग्स
  • मिसेज इंडिया
  • मिस वर्ल्ड
  • मिस यूनिवर्स
  • एशिया पैसिफिक

सैलरी

मॉडलिंग में सैलरी भी काफी बेहतर है। शुरुआत में आप इस फील्ड में 10,000 से 14,000 रुपए कमा सकती हैं। लेकिन जैसे-जैसे अनुभव बढ़ेगा, आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी। इस फील्ड में एक बार सफल होने पर आपकी सैलरी लाखों के ऊपर रहती है।

खबरें और भी हैं...