मूंगफली कब और कितनी खाएं:सोने से पहले खाने से हो सकती है एसिडिटी-ब्लोटिंग, भुनी हुई खाने के बाद न पिएं पानी, दूध या जूस

2 महीने पहलेलेखक: मरजिया जाफर
  • कॉपी लिंक

मूंगफली टेस्टी होने के साथ न्यूट्रिशन से भरपूर है। विंटर में मूंगफली का इस्तेमाल गजक, चिक्की और भी कई चीजों में किया जाता है। आइए, डाइटीशियन स्वाति विश्नोई से जानते हैं कि एक दिन में कितनी मात्रा में मूंगफली का सेवन करें या मूंगफली खाने का सही समय क्या है।

मूंगफली खाने के फायदे

मूंगफली में न्यूट्रिएंट्स, मिनरल, एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं। मोनो अनसैचुरेटेड फैटी एसिड जो एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल को कम कर के अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। जिन लोगों के ब्लड में ट्राइग्लिसराइड का लेवल ज्यादा है, वे लोग मूंगफली खाएं, तो उनके ब्लड के लिपिड लेवल में ट्राइग्लिसराइड का लेवल 10.2 फीसदी कम हो जाता है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन सी और विटामिन ई स्किन में कसावट लाते हैं।

मूंगफली में प्रोटीन, चिकनाई और शुगर पाई जाती है। जो लोग अंडा नहीं खाते उनके लिए मूंगफली एक अच्छा विकल्प है, इसमें प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। मूंगफली का प्रोटीन दूध से मिलता-जुलता है, इसकी चिकनाई घी की तरह होती है। मूंगफली खाने से बॉडी में दूध, बादाम और घी की पूर्ति हो जाती है। बालों को समय से पहले सफेद होने से बचाने के लिए मूंगफली का सेवन करना फायदेमंद है। मूंगफली में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स बालों को समय से पहले सफेद और ड्राई होने से बचाते हैं।

मूंगफली खाने का सही समय

न्यूट्रिशनिस्ट कहते हैं कि मूंगफली खाने का सही समय सुबह या दोपहर होना चाहिए। शाम को भी मूंगफली खाई जा सकती है। लेकिन रात को खाना खाने से पहले या सोने से पहले मूंगफली नहीं खानी चाहिए। इससे गैस, कब्ज, ब्‍लोटिंग या अपच जैसी परेशानी हो सकती है।

दिन में कितनी मूंगफली खाएं

सर्दियों में लोग धूप में बैठकर या सफर करते वक्‍त मूंगफली खाते हैं इसलिए इसे 'टाइमपास' भी कहा जाता है। डाइटीशियन स्वाति विश्नोई कहती हैं कि एक दिन में मुट्ठीभर मूंगफली का सेवन किया जा सकता है। मूंगफली को स्‍नैक्‍स की तरह खाया जा सकता है।

मूंगफली में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बालों को सफेद और ड्राई होने से बचाते हैं
मूंगफली में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बालों को सफेद और ड्राई होने से बचाते हैं

मूंगफली खाने के बाद क्या न खाएं

मूंगफली खाने के तुरंत बाद कुछ चीजों का सेवन सेहत के लिए नुकसानदेह है। मूंगफली को लोग स्नैक्स की तरह खाते हैं। इसका सेवन शरीर में कई पोषक तत्वों की आपूर्ति करता है। मूंगफली को कच्चा, भूनकर और कई दूसरे तरीकों से भी खाया जाता है। इसमें मौजूद न्यूट्रीशन जैसे कैल्शियम, कॉपर, आयरन, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन ई, मैग्नीशियम और जिंक सेहत के लिए बहुत अच्छे हैं। इसका सेवन करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। मूंगफली खाने के बाद कुछ चीजों का सेवन करने से परेशानी हो सकती है।

कुछ लोगों में मूंगफली खाने के बाद एलर्जी की समस्या भी देखी जाती है। ऐसे लोगों को मूंगफली खाने से पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लेनी चाहिए। मूंगफली के साथ कुछ फूड कॉम्बिनेशन सेहत के लिए नुकसानदायक माने जाते हैं। मूंगफली खाने के बाद आपको इन चीजों के सेवन से बचना चाहिए-

मूंगफली खाने के बाद पानी पीना

मूंगफली खाने के तुरंत बाद पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायक है। दरअसल मूंगफली में तेल होता है और इसका सेवन करने के बाद पानी पीने से गले में खराश, इरिटेशन और कफ की समस्या हो सकती है।

मूंगफली के बाद आइसक्रीम खाना

मूंगफली खाने के बाद आइसक्रीम खाने से भी कफ की समस्या, गले में खराश और खांसी हो सकती है। मूंगफली के गुण आइसक्रीम के गुणों से एकदम अलग हैं, इसलिए मूंगफली या पीनट बटर खाने के तुरंत बाद आइसक्रीम खाने की सलाह नहीं दी जाती।

मूंगफली खाने के बाद दूध

मूंगफली खाने के तुरंत बाद दूध पीने से गले और पाचन तंत्र से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। मूंगफली में मौजूद तेल दूध के साथ पचने में भी दिक्कत करता है इसलिए मूंगफली खाने के तुरंत बाद दूध पीने से बचना चाहिए।

मूंगफली खाने के बाद खट्टे फलों का सेवन

मूंगफली खाने के तुरंत बाद खट्टे फलों का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। इसकी वजह से एलर्जी की समस्या हो सकती है। जिन लोगों को पहले से एलर्जी की समस्या है, उन्हें मूंगफली खाने के तुरंत बाद खट्टे फलों का सेवन करने से बचना चाहिए।

बहुत ज्यादा मूंगफली का सेवन भी सेहत के लिए नुकसानदायक होता है इसलिए इन्हें हमेशा संतुलित मात्रा में ही खाएं।

पीनट बटर खाने से हड्डियां मजबूत होती हैं
पीनट बटर खाने से हड्डियां मजबूत होती हैं

पीनट बटर के फायदे

  • पीनट बटर में प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है, इसलिए डाइटीशियन पीनट बटर का सेवन करने की सलाह देते हैं।
  • पीनट बटर में एंटी-कैंसर गुण पाए जाते हैं इसलिए इसे खाने से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का खतरा काफी हद तक कम होता है। ।
  • पीनट बटर में विटामिन ई जैसे तत्व पाए जाते हैं इसलिए इसका सेवन करने से आंखों से संबंधित बीमारियां दूर होती हैं।
  • पीनट बटर का सेवन पेट के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है जिससे डाइजेशन बेहतर होता है।
  • कमजोरी और थकान महसूस होती है तो रोजाना नाश्ते में पीनट बटर का सेवन करें, इससे बॉडी में दिनभर एनर्जी बनी रहेगी।
  • पीनट बटर का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए भी काफी फायदेमंद है। इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।
  • पीनट बटर में कैल्शियम की अच्छी मात्रा पाई जाती है, इसके सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं।

पीनट बटर के नुकसान

  • ज्यादा पीनट बटर खाने से वजन बढ़ सकता है, वजन कम करना चाहते हैं तो पीनट बटर न खाएं।
  • मूंगफली से एलर्जी है तो पीनट बटर का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • जिन लोगों का यूरिक एसिड बढ़ा हो, उन्हें पीनट बटर का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • पीनट बटर का ज्यादा सेवन पेट में ब्लोटिंग, सूजन जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है।

डिस्क्लेमर- यहां दी गई जानकारी एक्सपर्ट की सलाह पर आधारित है। अपनाने से पहले एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।