पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेनोपॉज में ऐसे रहें फिट:हॉर्मोन्स में होता है बड़ा बदलाव, फिजिकली और मेंटली हेल्दी रहना जरूरी

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हर महिला के जीवन में वो घड़ी आती है जब वो मेनोपॉज के दौर से गुज़रती हैं। एक तरफ ये छोटी सी खुशी कि अब हर महीने माहवारी की चिंता नहीं रहेगी, लेकिन ये फ़िक्र भी की बहुत कुछ पहले जैसा नहीं होगा। हॉर्मोनल बदलाव की वजह से शारीरिक दिक्कत तो होती ही है, मानसिक रूप से भी हम टूट से जाते हैं। ऐसे में कुछ उपाय हैं जो आपको फिजिकली और मेंटली फिट रखने में मदद करेंगे -

1- सही डाइट​​​​​​​
डाइट आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ज़रूरी है। मेनोपॉज आपकी पाचन शक्ति को कमजोर कर सकता है। साथ ही इस वक़्त जरूरी है ‍कि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मज़बूत हो। इसलिए हेल्दी खाएं और फिट रहें।

2- एक्सरसाइज करें
मेनोपॉज के दौरान वजन बढ़ना एक आम समस्या होती है, लेकिन थकान भी इतनी होने लगती है कि कुछ करने का मन नहीं करता, लेकिन अभी ध्यान नहीं दिया, तो आगे पछताना पड़ सकता है।

3- खुद को एक्टिव रखें
मेनोपॉज के दौरान कुछ करने का मन नहीं करता। कुछ अच्छा भी नहीं लगता। इसलिए बहुत ज़रूरी है कि हम एक्टिव रहें। इससे नकारात्मकता दूर होगी। कोई आर्ट क्लास ज्वाॅइन कर सकती हैं। थिएटर में इंटरेस्ट है, तो उसमें हाथ आजमाइए। कहने का आशय है कि ऐसी कोई चीज जो लंंबे वक़्त से करना चाहती थीं, नहीं कर पाईं, उसके लिए ये सही वक़्त है।

4- परिवार का साथ
मेनोपॉज के दौरान इतने हार्मोनल बदलाव होते हैं कि चिड़चिड़ापन बढ़ जाता है। परिवार के लोग कई बार आपकी समस्या को समझ नहीं पाते। इसलिए जरूरी है कि आप अपने पति से, बच्चों से इस बारे में बात करें। संकोच न करें। वे समझदार हैं, आपकी मुश्किल को समझेंगे।

5- पढ़ने और लिखने में रुचि लें
जब अकेलापन सताए तब किताब से अच्छा कोई साथी नहीं। साथ ही आपके मन के विचारों को डायरी में लिखती जाएंगी, तो हो सकता है कि आप कुछ रचनात्मक गढ़ दें। इसलिए पढ़ने-लिखने में रुचि लें, आपको सकारात्मक ऊर्जा मिलेगी।

6- दोस्तों से मिलें
मेनोपॉज के दौरान लगता है मानो कोई हमें समझ ही नहीं पा रहा है। ऐसे में हमउम्र दोस्तों से मिलना-जुलना बढ़ाएं। उनसे दिल की बात साझा करें। आपको हल्का महसूस होगा। दोस्तों की बातों को सुनकर ये भी समझ आएगा कि आप अकेली नहीं, वो लोग भी उसी मुश्किल दौर से गुज़र रहे हैं।

7- जो होना ही है, उससे घबराना क्यों
एक उम्र के बाद महिलाओं में मेनोपॉज होगा ही। तो इससे घबराना कैसा। अपने आपको इस दौर के लिए पहले से ही मानसिक रूप से तैयार कर लें। ऐसे में जब ये प्रक्रिया शुरू होगी, तो इसे मान लेने में आसानी होगी। हर फेज की अपनी कुछ अच्छी और कुछ खराब बातें होती हैं और उन सबके बीच हिम्मत के साथ आगे बढ़ने का नाम ही तो जिंदगी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें