आंखें रहेंगी हमेशा सेहतमंद:आंखों में होने वाली जलन या ड्राइनेस से परेशान हैं तो दवाओं के बजाए अपनाएं ये आसान घरेलू उपाय

16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आंसू हर बार अच्छे भले न होते हों, लेकिन जब ये नहीं बनते हैं तो आंखें सूख जाती हैं। कई बार कंप्‍यूटर पर काम करने में लोग इतने मग्न हो जाते हैं कि लंबे समय के लिए पलकें तक नहीं झपकाते। कंप्‍यूटर स्‍क्रीन की लाइट आंखों के पानी को सुखा देती है। ऐसे में दूसरे व्यक्ति से आई कॉन्‍टैक्‍ट करना तो मुश्किल होता ही है, साथ ही आंखों में दर्द रहने लगता है। नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. सहाना मजूमदार बताती हैं आंखों में पानी सूखने के कारण होने वाली ड्राइनेस को खत्म करना बेहद जरुरी है। आंखों में जलन, खुजली, इंफेक्शन, लाल होना या आंख में कुछ चले जाने पर कई लोग मेडिकल स्टोर से आई ड्रोप लेकर डाल लेते हैं, लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपाय भी हैं जो आपकी परेशानी को चुटकियों में दूर कर सकते हैं।

आंखों में ड्राइनेस दूर करने के घरेलू उपचार

नारियल तेल- नारियल तेल में ऐंटी-इन्फ़्लेमेटरी गुण होने की वजह से आंखों की चुभन कम होती है। यह तेल आंखों को नमी देने वाले एजेंट की तरह भी काम करता है। कॉटन बॉल को नारियल तेल में डुबोएं। इसके बाद करीब 15 मिनट तक आंखों पर रखें। इस प्रोसेस को दिनभर में कई बार दोहराएं।

आंखों की गर्म सिकाई- एक क्लीन कपड़े को गर्म पानी में भिगोएं। इसे आंखों पर एक मिनट तक रखें। वहीं, ऑफिस में कंप्‍यूटर पर काम करते हुए आंखों में ठंडे पानी की छींटे मारें। बर्फ से भी आंखों की सिकाई कर सकते हैं।

एलोवेरा- ऐलोवेरा के पत्ते को अच्छे से क्लीन करने के बाद उसमें से जेल निकाल लें। टिशू पेपर की मदद से जेल को आइलिड्स पर लगाएं। 10 मिनट बाद आंखों को पानी से धो लें। इससे सूजन और रेड आई की समस्या से निजात मिलेगी।

आंखों की मालिश- सबसे पहले आंखों पर पानी की छींटे मारें। इसके बाद बंद आंखों को बेबी शैंपू से हल्की मसाज करें। इस बात का ध्‍यान देना जरुरी है कि बेबी शैंपू आंखों के अंदर न जाए

ताजा फल, सब्जियां, साबुत अनाज व नट्स - इनमें ओमेगा 6 फैटी एसिड होते हैं, जो आंखों के पानी और तेल युक्त जलीय परतों को बनाने के लिए जिम्मेदार होते हैं।

गुलाबजल – कॉटन बॉल्स को गुलाब जल में डुबोएं। 10 मिनट तक कॉटन को आंखों पर रखा रहने दें। इसके बाद ठंडे पानी से आई वॉश कर लें। प्योर गुलाब जल को आई ड्रॉप की तरह भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

धनिया के बीज- आई इंफेक्शन होने पर धनिया का पानी आंखों पर लगाएं। इसमें मॉइस्चराइजिंग गुण होने से आंखों का सूखापन भी खत्म होगा। एक कप पानी में 1 बड़ा चम्मच धनिया के बीज उबाल लें। इसे ठंडा होने पर इससे आंखों को धो लें।

सौंफ के बीज- एक कप पानी में 1 बड़ा चम्मच सौंफ के बीज डालकर उबा लें। ठंडा होने के बाद रुई से पलकों पर रखें। इसे 15 मिनट तक छोड़ दें।

टी बैग- कुछ मिनटों के लिए ब्लैक टी को गर्म पानी में छोड़ दें। ठंडा होने के बाद 10 मिनट के लिए टी बैग्‍स आंखों पर रखें।

विटामिन- विटामिन बी-6, विटामिन सी और डी को बढ़ाने से आई ड्राइनेस की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। विटामिन डी मुख्यत: नट्स जैसे अखरोट में पाया जाता है।

ह्यूमिडिफायर- स्मोकिंग, एल्कोहल का सेवन करने या ज्यादा स्ट्रेस से बचें। शुष्क मौसम से बचने और अपने कमरे में नमी बढ़ाने के लिए एक ह्यूमिडिफायर यूज करें।

खबरें और भी हैं...