अलसी और गोंद के लड्डू खाने के फायदे:डाइजेशन सुधारे, वजन घटाए, इम्यूनिटी बूस्ट करे, हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद, हड्डियां मजबूत बनाए

17 दिन पहलेलेखक: मरजिया जाफर
  • कॉपी लिंक

अलसी के बीज और गोंद, दोनों ही औषधीय गुणों से भरपूर हैं। इन दोनों का इस्तेमाल अलग-अलग बीमारियों के इलाज में किया जाता है। अलसी के बीज और गोंद का इस्तेमाल एक साथ मिलाकर भी कर सकते हैं। इसके लिए अलसी और गोंद के लड्डू बनाकर खा सकते हैं। अलसी और गोंद दोनों में न्यूट्रिशन होते हैं, ऐसे में इनके मिक्स लड्डू खाएंगे तो शरीर को फायदा मिलेगा। सर्दियों में खुद को सेहतमंद रखने के लिए अलसी और गोंद के लड्डू का सेवन जरूर करना चाहिए। इनके फायदे के बारे में डाइटीशियन डॉ अन्नू अग्रवाल से जानते हैं ।

अलसी और गोंद के लड्डू खाने के फायदे

डाइजेशन में सुधार करे

अलसी के बीजों में कैल्शियम, फाइबर, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और पोटेशियम ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। वहीं गोंद में प्रोटीन, फाइबर, कार्ब्स और हेल्दी फैट होता है। ​​​​​अगर डाइजेशन खराब है, तो डाइट में अलसी और गोंद के लड्डू शामिल करें, इन्हें खाने से डाइजेशन सिस्टम मजबूत बनता है। अलसी और गोंद में फाइबर की अधिक मात्रा में होता है। फाइबर खाने को पचाने का काम करता है, साथ ही गैस और कब्ज की परेशानी से भी छुटकारा दिलाता है। कब्ज और अपच से छुटकारा पाने के लिए भी अलसी और गुड़ के लड्डू खाए जा सकते हैं।

वजन घटाने में सहायक

वजन घटाना चाहते हैं तो अलसी और गोंद के लड्डू आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। अलसी और गोंद में मौजूद फाइबर पेट को लंबे समय तक भरा हुआ रखता है, जिससे भूख कम लगती और ओवर ईटिंग से बचाव होता है, जिससे वेट लॉस में मदद मिलती है।

अलसी-गोंद के लड्डू में सभी तरह के विटामिन, मिनरल मौजूद हैं जो इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं।
अलसी-गोंद के लड्डू में सभी तरह के विटामिन, मिनरल मौजूद हैं जो इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं।

इम्यूनिटी बूस्ट करे

अलसी और गोंद के लड्डू न्यूट्रिशन से भरपूर होते हैं। इनमें सभी विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं, जो इम्यूनिटी को बूस्ट कर सकते हैं। दरअसल, जिन लोगों की इम्यूनिटी कमजोर होती है, वो अकसर बीमार रहते हैं और तरह-तरह की बीमारियों से जूझते रहते हैं। लेकिन मजबूत इम्यूनिटी के साथ वे छोटी-छोटी परेशानियों से बच सकते हैं। अलसी और गोंद के लड्डू खाने से इम्यूनिटी बढ़ती है और सर्दी-जुकाम और खांसी से छुटकारा मिलता है।

हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद

हार्ट को हेल्दी रखने के लिए भी अलसी और गोंद के लड्डू का सेवन कर सकते हैं। अलसी के लड्डू में अल्फा-लिनोलेनिक एसिड होता है, जो एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर सकता है। इसके साथ ही यह वजन को घटाकर हार्ट डिजीज के जोखिम को कम करता है। अलसी और गोंद के लड्डू ब्लड शुगर लेवल को भी घटाने में मदद करते हैं।

हड्डियां मजबूत बनाए

अलसी और गोंद के लड्डू खाने से हड्डियां मजबूत और स्ट्रॉन्ग बनेंगी। अलसी और गोंद के लड्डू खाने से हड्डियों में होने वाले दर्द से भी राहत मिल सकती है इसलिए बढ़ती उम्र में अलसी और गोंद के लड्डू डाइट में शामिल करना चाहिए।

सर्दियों में जरूर खाएं अलसी-गोंद के लड्डू, मौसमी बीमारियों से दूर रहेंगे।
सर्दियों में जरूर खाएं अलसी-गोंद के लड्डू, मौसमी बीमारियों से दूर रहेंगे।

अलसी और गोंद के लड्डू कैसे बनाएं

अलसी और गोंद के लड्डू बनाना काफी आसानी है, आप इन्हें घर पर थोड़े से समय में ही बना सकते हैं।

  • सबसे पहले अलसी के बीजों को रोस्ट कर पीस लें।
  • अब एक पैन में घी गर्म कर लें।
  • इसमें गेहूं का आटा डालें और सुनहरा होने तक भून लें।
  • अब इसे अलग प्लेट में निकालकर देसी घी में गोंद डालकर भूनें।
  • गोंद को हल्का ब्राउन होने दें और फूलने के बाद एक प्लेट में निकाल दें।
  • जब ये दोनों अच्छी तरह से पक जाएं, तो प्लेट में निकाल दें और ड्रायफ्रूट्स मिलाएं।
  • अब इन्हें लड्डू की शेप दें।
  • अब इन लड्डुओं को गुड़ से बनी चाशनी में डाल दें। तैयार लड्डू को आप रोजाना खा सकते हैं।

डिस्क्लेमर- इन तमाम फायदों के लिए आप अलसी और गोंद के लड्डू खा सकते हैं। ये खून साफ करने में मददगार हैं। लेकिन किसी बीमारी से जूझ रहे हैं तो डॉक्टर की सलाह लें।

खबरें और भी हैं...