मूड बूस्टर डाइट:मूड को तरोताजा रखने के लिए खाएं सुपरफूड्स, नहीं बढ़ेगा मोटापा

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिन भर में ऑफिस का काम, घर की जिम्मेदारी, परिवार में कोई समस्या, आर्थिक तंगी और न जानें कितनी टेंशन से गुजरना होता है। आप बेहद थकान महसूस करती हैं। बात-बात पर गुस्सा हो जाती हैं या फिर कुछ दिनों से चिड़चिड़ी रहने लगी हैं। इस बीच मीठा, सॉल्टी या फिर फैटी फूड खाने ​की बहुत ज्यादा क्रेविंग होती है। डायटीशियन कंचन पटवर्धन बताती हैं कि इस दौरान मूड बूस्टर फूड खाएं, जो झटपट आपका मूड ठीक करेंगे और मोटापा भी नहीं बढ़ने देंगे।

डायटीशियन डॉ. कंचन पटवर्धन के मुताबिक, हमारे दिमाग में डोपामाइन और सेरोटोनिन नाम के हार्मोन रिलीज होते हैं, जिनका मूड से गहरा रिश्ता है। डॉक्टर इन्हें 'फील गुड हार्मोन' कहते हैं। 'फील गुड हार्मोन' इंसान के मूड, भूख, नींद, सीखने की टेंडेंसी और याददाश्त संबंधी कार्यों को नियंत्रित करता है। अगर शरीर में ये हार्मोन कम बनते हैं, तो हम थकान, उदास और हताश फील करते हैं। बात-बात पर गुस्सा आता है। ​हम बेहद चिड़चिड़े हो जाते हैं और ठीक से सो नहीं पाते हैं। अगर बॉडी में ये हार्मोन ठीक से रिलीज हो रहे हैं तो हम खुश और तरोताजा रहते हैं।

डॉ. कंचन पटवर्धन बताती हैं कि जब मीठा, सॉल्टी या फिर फैटी फूड खाने ​की बहुत ज्यादा क्रेविंग हो, तब मिठाइंयां, चॉकलेट, नमकपारे, समोसा, पिज्जा, बर्गर, कचौड़ी, सैंडविच बिल्कुल भी न खाएं। ये चीजें खाने से शरीर में जितनी तेजी से फील गुड हार्मोन बनते हैं, उतनी ही तेजी से लो भी हो जाते हैं।

फील गुड के लिए क्या खाएं
मूड बूस्ट करने और फील गुड हार्मोन का स्तर बढ़ाने के लिए विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर फूड खाएं। इसके लिए अखरोट, बादाम, काजू और मुनक्का। पालक और मैथी जैसी हरी पत्तेदार सब्जियां। केला, अनन्नास, नारियल समेत फाइबर युक्त सीजनल फल खाएं। ओट्स, दही, शंकरकंद, शिमला मिर्च, सैल्मन मछली, केसर, अलसी के बीज और डार्क चॉकलेट खा सकते हैं। इसके अलावा ग्रीन टी व जायफल घिसकर दूध में मिलाकर पिएं। ये सभी खाद्य पदार्थ आपका मूड बूस्ट करेंगे। साथ ही मोटापा भी नहीं बढ़ने देंगे।

कार्ब्स भी हैं सहायक
शरीर में फील गुड हार्मोन का स्तर बढ़ाने में कार्ब्स भी मददगार हैं। कार्ब्स दो प्रकार के होते हैं- एक सामान्य कार्ब्स और दूसरे जटिल कार्ब्स। फील गुड हार्मोन बढ़ाने के लिए सामान्य कार्ब्स का कम और जटिल कार्ब्स का सेवन ज्यादा करें। सामान्य कार्ब्स की श्रेणी में चावल, ब्रेड और पास्ता आदि आते हैं, जबकि जटिल कार्ब्स में ब्राउस राइस, होल ग्रेन ब्रेड्स, होल ग्रेन पास्ता आदि आते हैं।

एक्सरसाइज है बेहद जरूरी
मूड बूस्ट करने के लिए ​नियमित रूप से एक्सरसाइज करना जरूरी है। अपनी क्षमता और समय के अनुसार, आप डांस, योग-प्राणायाम, ​रनिंग, ब्रिस्क वॉक, स्विमिंग, साइकिलिंग आदि कर सकते हैं। एक्सरसाइज शरीर में डोपामाइन और सेरोटोनिन बढ़ाने में सहायक होती है।

धूप भी है फायदेमंद
फील गुड हार्मोन को बढ़ाने के लिए रोजाना सुबह कुछ देर धूप में बैठना भी लाभकारी है।