पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

PCOD:शहरी लड़कियों की यह आम बीमारी, बड़ी परेशानी में पड़ने से पहले जानें बचाव और इलाज

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

PCOD यानी पॉलिसिस्टिक ओवरी डिजीज महिलाओं में होने वाली आम समस्या बन गई है। हार्मोनल बदलाव के कारण ओवरी में जब छोटी-छोटी सिस्ट या गांठ बनने लगे तब उसे PCOD कहते हैं। शहरों में ये बहुत आम समस्या बन गई है। ये सिस्ट माहवारी और गर्भधारण दोनों में परेशानी पैदा कर सकते हैं। आइए जानते हैं इससे बचाव और उपचार के तरीके -

1 - लक्षणों को पहचानें
परेशानी समझने से पहले ज़रूरी है लक्षणों को पहचानना। अगर पीरियड्स अनियमित हैं, वजन बढ़ रहा है, चेहरे पर बाल उग रहे हैं, यौन इच्छा में कमी आ रही है तो स्त्री रोग विशेषज्ञ को दिखाएं। ये PCOD के लक्षण हो सकते हैं।

2 - कारण को समझें
स्ट्रेस, खान-पान पर ध्यान न देना, मोटापा, जल्दी माहवारी का शुरू होना- ये तमाम कारण PCOD के लिए ज़िम्मेदार हैं। इनमें से जो कारण हमारे हाथ में हैं जैसे - संतुलित खाना, वजन को नियंत्रण में रखना, स्ट्रेस, इन पर कंट्रोल बहुत जरूरी है।

3- जांच करवाएं
लक्षण सामने आते ही डॉक्टर से संपर्क करें। आमतौर पर डॉक्टर पेल्विक अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए कहते हैं, लेकिन और भी तरीके हैं जांच के। जिसके बारे में डॉक्टर ही बताएंगे।

4- उपचार
कई लोगों को ये भ्रम है कि PCOD का कोई इलाज नहीं या एक बार PCOD हो जाए तो जिंदगी भर माहवारी में अनियमितता और इंफर्टिलिटी बनी रहेगी। ये धारणा बिल्कुल गलत है। सही दवा, उचित उपचार और जीवनशैली में बदलाव के साथ PCOD से भी निजात संभव है।
इसलिए देर न करें। जितनी जल्दी PCOD का उपचार शुरू करवाएंगी उतनी जल्दी आराम मिलेगा। सजग रहें, शरीर में होने वाले किसी भी असामान्य बदलाव के बारे में डॉक्टर से चर्चा करें।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें