नवरात्रि में रोज खाएं खजूर:कमजोरी होगी दूर, हड्डियां रहेंगी मजबूत, ब्लड प्रेशर होगा कंट्रोल

2 महीने पहलेलेखक: मरजिया जाफर
  • कॉपी लिंक

छुहारा और खजूर एक ही पेड़ की देन हैं। इन दोनों की तासीर गर्म होने के कारण सर्दियों में इनका इस्तेमाल बढ़ जाता है। न्यूट्रिशन से भरपूर खजूर कई बीमारियों को दूर करता है। खजूर और छुहारे के फायदे के बारे में बता रही हैं डाइटीशियन अन्नू अग्रवाल।

डाइजेशन सुधारे- खजूर में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है।

हार्ट रहे हेल्दी- खजूर में मौजूद फाइबर दिल को सेहतमंद रखने का काम करता है। इसमें मौजूद पोटेशियम हार्ट अटैक के खतरे को कम करता है।

एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी से भरपूर- खजूर में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है। मैग्नीशियम का ज्वलन रोधी गुण हार्ट की बीमारी, गठिया और अल्जाइमर जैसे रोगों से बचाता है।

ब्लड प्रेशर करे कंट्रोल- इसमें मौजूद मैग्नीशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने का काम करता है, पोटैशियम हाई ब्लड प्रेशर को कम करने का काम करता है।

हार्ट अटैक से बचाव- अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन की एक रिसर्च के मुताबिक, कोई व्यक्ति एक दिन में 100 मिलीग्राम मैग्नीशियम ले तो हार्ट अटैक का खतरा 9 फीसदी तक कम हो सकता है।

एनीमिया में कारगर- रेड ब्‍लड सेल्‍स और आयरन की कमी के चलते कई लोगों को एनीमिया की शिकायत हो जाती है। खजूर में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है, जिससे एनीमिया और आयरन की कमी दूर होती है।

स्किन और बालों के लिए खजूर का सेवन फायदेमंद है।
स्किन और बालों के लिए खजूर का सेवन फायदेमंद है।

नर्वस सिस्‍टम सुधारे- खजूर में वो सभी विटामिन होते हैं जो नर्वस सिस्‍टम के लिए जरूरी हैं। इसमें मौजूद पोटैशियम दिमाग को अलर्ट और हेल्दी रखता है।

प्रग्नेंसी में फायदेमंद- आयरन से भरपूर खजूर प्रेग्नेंट मां और होने वाले बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद है। खजूर में मौजूद पोषक तत्व यूट्रस की मसल्स को मजबूती देते हैं।

रतौंधी का इलाज- रतौंधी से छुटकारा पाने के लिए खजूर का पेस्ट बनाकर आंखों के चारों ओर लगाने से फायदा मिलता है।

कैविटी से बचाए- खजूर में ऐसा केमिकल पाया जाता है जो दांतों से प्लाक हटाकर कैविटी नहीं होने देता। यह टूथ इनेमल को भी मजबूती देता है।

स्किन और बाल- विटामिन C से भरपूर खजूर स्किन की सॉफ्टनेस बरकरार रखता है। इसमें मौजूद विटामिन B5 बालों को हेल्दी बनाता है।

महिलाओं के लिए खजूर के फायदे

न्यूट्रिशन से भरपूर खजूर में कैलोरी की मात्रा ज्यादा होती है। महिलाओं के लिए यह कई तरह से फायदेमंद है।

फॉलिक एसिड की कमी को दूर करे

प्रेग्नेंसी में फॉलिक एसिड की कमी हो जाती है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिलाओं को खजूर खाना चाहिए। इसमें अमीनो एसिड, कार्बोहाइड्रेट और कैल्शियम अच्छी मात्रा में होता है जो कि हड्डियों को मजबूत बनाता है। फॉलिक एसिड से भरपूर खजूर जन्म दोषों की दर को कम करने में मदद करता है। ये हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ाता है, मां और बच्चे दोनों की इम्यूनिटी बढ़ाता है।

हड्डियां मजबूत बनाए

खजूर कॉपर, सेलेनियम और मैग्नीशियम से भरपूर है। यह हड्डियों को स्वस्थ रखने और उनसे जुड़ी बीमारियों को रोकने में मदद करता है। ​​​​​​ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित लोगों को खजूर खाना चाहिए, इससे हड्डियां मजबूत बनती हैं और फ्रैक्चर का खतरा कम रहता है।

वजन घटाए

खजूर वजन घटाने में कारगर है। फाइबर की मात्रा भरपूर होने की वजह से यह मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है, जिससे वजन जल्दी घटता है। यह क्रेविंग कंट्रोल करने में भी मददगार है जो वेट लॉस के लिए बेहद जरूरी है।

दिल का रखे ख्याल

रोजाना दो खजूर के सेवन से दिल की सेहत सुधरती है। खजूर में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो एथेरोस्क्लेरोसिस के गठन और दिल की बीमारी को रोकने में मदद करते हैं। यह कोलेस्ट्रॉल भी कंट्रोल करता है।

पीरियड्स की तकलीफ दूर करे

पीरियड्स के दौरान महिलाओं को खजूर का सेवन करना चाहिए। इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और खून साफ होता है। पीरियड्स और एनीमिया से जुड़ी समस्याओं से राहत पाने के लिए खजूर का सेवन फायदेमंद है।

ब्रेन हेल्थ के लिए खजूर का सेवन फायदेमंद, यह स्मरण शक्ति और सीखने की क्षमता बढ़ाता है
ब्रेन हेल्थ के लिए खजूर का सेवन फायदेमंद, यह स्मरण शक्ति और सीखने की क्षमता बढ़ाता है

बच्चों के लिए छुहारा खाने के फायदे

बच्चों के लिए छुहारा खाने के कई फायदे हैं। कैल्शियम से भरपूर छुहारा हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है। प्रोटीन बॉडी को एनर्जी देता है। विटामिन सी इम्यूनिटी बढ़ाता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर को एनर्जी देने का काम करते हैं।

तन-मन की शक्ति

  • छुहारे की तासीर गर्म होने के कारण ठंड के दिनों में इसका सेवन फायदेमंद है।
  • छुहारे और खजूर के सेवन से दिल की बीमारी से बचाव होता है, यह शरीर में खून बढ़ाता है।
  • भूख बढ़ाने के लिए छुहारे को दूध में पकाकर खाएं।
  • अस्थमा के रोगियों के फेफड़ों से बलगम आसानी से निकलता है।
  • दूध में खजूर, काली मिर्च, इलायची उबालकर पीने से सर्दी-जुकाम ठीक होता है।
  • छुहारे की गुठली को पत्थर पर पीसकर घाव पर लगाने से घाव जल्दी भरता है।

भिगोया हुआ छुहारा- बच्चों को रोजाना छुहारा भिगोकर खिलाना चाहिए। भिगोए हुए छुहारे में फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है। बच्चे को कब्ज की प्रॉब्लम है तो छुहारा खाना फायदेमंद है। ये मेटाबोलिक रेट बढ़ाता है।

भुना हुआ छुहारा- जिन बच्चों को बिस्तर गीला करने की आदत है उनके लिए छुहारा खाना फायदेमंद है। तवे पर छुहारा भून लें और सोते समय बच्चे को खिलाएं। इससे धीरे-धीरे उनमें ये समस्या कम हो जाएगी।

छुहारा-दूध- छुहारे को दूध में मिलाकर पीस लें। इस दूध को पका कर पिएं। ये दूध इम्यूनिटी बढ़ाता है, हड्डियां मजबूत बनाता है। इस दूध को पीने से सर्दी-जुकाम से बचाव होता है।

खजूर शेक व्रत में गले को तर रखेगा

खजूर को पतले टुकड़ों में काट लें। काजू को भी छोटे टुकड़ों में काट लें। इलायची कूटकर पाउडर बना लें। खजूर के टुकड़ों को दूध के साथ बारीक पीस लें। बचा हुआ दूध और इलायची पाउडर डालकर अच्छी तरह फेंट लें। खजूर शेक तैयार है। इसे गिलास में डालकर सर्व कीजिए, ऊपर से काजू के टुकड़े डालकर गार्निश कीजिए।

डिस्क्लेमर- यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है। अपनाने से पहले एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।

खबरें और भी हैं...