वुमन हेल्थ:क्या है वायरल यूटीआई, महिलाएं इससे कैसे बचें?

8 दिन पहलेलेखक: कमला बडोनी
  • कॉपी लिंक

महिलाएं अक्सर यूरिन इंफेक्शन की बात जल्दी नहीं बतातीं, जिससे समस्या कई बार गंभीर हो जाती है। सबसे पहले महिलाओं को यूटीआई (यूरीनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन) की जानकारी और उससे बचने के उपायों के बारे में पता होना चाहिए। इस बीच वायरल यूटीआई की बात भी सामने आई है, लेकिन इसके मामले बहुत कम हैं। वायरल यूटीआई महिलाओं को होने वाला एक असामान्य इन्फेक्शन है। इसकी शिकार कमजोर इम्यूनिटी वाली महिलाएं होती हैं। ये किडनी ट्रांसप्लांट और कैंसर के मरीजों में देखा जाता है। गायनाकोलॉजिस्ट डॉ. नंदिता पालशेतकर का कहना है कि आमतौर पर होने वाला यूटीआई बैक्टीरियल इन्फेक्शन है और एन्टीबायोटिक से ठीक हो जाता है। वहीं वायरल यूटीआई डॉक्टर की देखरेख में एंटी वायरल दवा लेने पर ठीक होता है।

गायनाकोलॉजिस्ट डॉ. नंदिता पालशेतकर यूटीआई के बारे में बताते हुए कहती हैं कि महिलाओं में यूरिन इंफेक्शन होना आम बात है, लेकिन लापरवाही से उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है इसलिए महिलाओं को वेजाइनल हेल्थ का खास ध्यान रखना चाहिए। डॉ. नंदिता ने वेजाइनल हेल्थ से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बताई, जिनकी जानकारी हर महिला को होनी चाहिए।

यूटीआई के इन संकेतों को अनदेखा न करें
जब पेशाब के दौरान दर्द या जलन हो
बार-बार पेशाब आए
कमर के निचले हिस्से में दर्द हो
हल्का बुखार महसूस हो
पति को इंफेक्शन हो

ऐसे रखें वेजाइनल हेल्थ का ध्यान
खूब सारा पानी पीएं, इससे इंफेक्शन नहीं होता या फिर जल्दी ठीक हो जाता है।
कई बार पानी की कमी से भी इंफेक्शन हो सकता है।
प्राइवेट पार्ट की सफाई का विशेष ध्यान रखें।
बहुत ज्यादा टाइट कपड़े न पहनें
कॉटन पैंटी पहनें।
पति को इंफेक्शन हो तो ऐसी स्थिति में इलाज से पहले सेक्स न करें।
पति को इंफेक्शन है, तो आप दोनों एक साथ इलाज करा लें, ताकि एक से दूसरे को इंफेक्शन न हो जाए।
यूरिन इंफेक्शन होने पर लापरवाही न करें, तुरंत यूरिन टेस्ट कराएं और अपना इलाज कराएं।

खबरें और भी हैं...