• Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • 21 year old Banjit Kaur Is Driving An Auto rickshaw, Doing This With Her Studies To Become Her Father's Support

उठाया परिवार का खर्च:जम्मू-कश्मीर की 21 वर्षीय बनजीत कौर चला रहीं ऑटो रिक्शा, अपने पिता का सहारा बनने के लिए पढ़ाई के साथ शुरू किया ये काम

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जम्मू और कश्मीर में उधमपुर राज्य की बनजीत कौर को जब अपने गरीब पिता की मदद का कोई और रास्ता समझ नहीं आया तो उसने ऑटो रिक्शा चलाना सीखा। बनजीत ने बताया कि उसके पिता स्कूल बस के ड्राइवर थे। लेकिन महामारी में स्कूल बंद होने की वजह से उनकी नौकरी चली गई। फिर उन्होने ऑटो रिक्शा चलाना शुरू किया।

उन्हें इस काम से इतनी कमाई नहीं होती कि वे घर का खर्च चला सके। इसलिए पिता की मदद करने के लिए बनजीत खुद ऑटो चलाने लगी। इस काम के साथ ही बनजीत ने अपनी पढ़ाई भी जारी रखी। वह पढ़ाई पूरी करके डिफेंस सर्विस जॉइन करने का सपना देखती हैं।

बनजीत के अनुसार, ''मैं अपने कॉलेज में सेकंड ईयर की स्टूडेंट हूं और पार्ट टाइम के तौर पर ऑटो रिक्शा चलाती हूं। वैसे भी लड़कियों को हर परिस्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए''। बनजीत की बहन देविंदर कौर को इस बात की खुशी है कि उसकी बहन खुद अपने पैरों पर खड़े होने का प्रयास कर रही है। अपने इस काम के जरिये वह परिवार का सहारा बनी हैं।