पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Acid Attack Survivor Women Handling The Shiroz Hangout Cafe In Agra Amid The Epidemic, Free Food Is Being Given To The Needy Here

नेक पहल:महामारी के बीच आगरा के शिरोज हैंगआउट कैफे को संभाल रहीं एसिड अटैक सर्वाइवर महिलाएं, यहां जरूरतमंदों को मुफ्त में दिया जा रहा खाना

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आगरा का शिरोज हैंगआउट कैफे जरूरतमंदों को मुफ्त में खाना बांटकर चर्चा में है। इस कैफे को एसिड अटैक सर्वाइवर महिलाएं चला रही हैं जो महामारी के बीच अपने गम भुलाकर लोगों की मदद का हर संभव प्रयास कर रही हैं। पिछले साल नवंबर में महामारी के चलते यह बंद हो गया था। उसके सात महीने बाद यह कैफे दोबारा खोला गया। ये वही कैफे हैं जहां विश्व के कई बड़े नेताओं से लेकर बॉलीवुड और हॉलीवुड की हस्तियां आ चुकी हैं। इस कैफे के बंद होने से यहां काम कर रहीं महिलाओं को भारी नुकसान हुआ। इस कैफे की ओर वैश्विक स्तर पर सबसे पहले 2014 में लोगों का ध्यान आकर्षित हुआ था।

एसिड अटैक सर्वाइवर द्वारा संचालित यह कैफे पूरी तरह हर साल यहां आने वाले विदेशी टूरिस्टों पर निर्भर करता है। शिरोज कैफे के संस्थापक आशीष शुक्ला ने बताया कि वह अपने कैफे के माध्यम से एसिड अटैक सर्वाइवर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन पिछले एक साल में महामारी के चलते यहां आने वाले कस्टमर की संख्या में 75% की गिरावट आई है। ये वही महिलाएं हैं जिनके पास इस कैफे में काम करने के अलावा कमाई का कोई और जरिया नहीं है। आशीष इन महिलाओं की बीमारी का खर्च भी उठाते हैं और उन्हें नियमित रूप से ट्रेनिंग प्रोग्राम भी देते हैं। आगरा में शिरोज कैफे की सफलता को देखते हुए इसकी एक ब्रांच लखनऊ में भी खोली गई है।

खबरें और भी हैं...