• Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Gum Brings Husband And Wife Closer, Relations Will Be Pleasant, Face Pack Made From It Will Remove Wrinkles From The Face

आयुर्वेदिक लाइफस्टाइल:पति-पत्नी को करीब लाता है गोंद, संबंध होंगे सुखद, इससे बना फेसपैक हटाएगा चेहरे से झुर्रियां

नई दिल्ली5 महीने पहलेलेखक: निशा सिन्हा
  • कॉपी लिंक

गोंद को वीर्य बढ़ाने वाला माना गया है। पति अगर खाने में गोंद का इस्तेमाल करें, तो पत्नी के साथ रिश्ते में मजबूती आएगी। गोंद को गोंद कतीरा के नाम से भी जानते हैं। गोंद कतीरा में न स्वाद होता है और न ही खुशबू, लेकिन लाइफस्टाइल में इसके इस्तेमाल के ढेरों फायदे हैं।

कांटों भरे बबूल और कड़वे नीम के गोंद में छिपी है सेहत
सरग्वा या सहजन यानी मोरिंगा, बबूल, आम, ग्वार और नीम के पेड़ से गोंद निकाला जाता है। इस गोंद सुखाने के बाद इस्तेमाल में लाते हैं। गोंद पानी मे आसानी से घुलने वाला चिकना पदार्थ है। बबूल का गाेंद सबसे आसानी से मिल जाता है इसलिए घरों में इसका अधिक इस्तेमाल होता है। सर्दी के दिनों में गोंद खाने से शरीर गर्म रहता है।

इसके साथ ही रोगों से लड़ने में मदद मिलती है। इसमें अराबिन (कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटाशियम और प्रोटीन के तत्व) होता है। गोंद के अंदर पाए जाने वाले ऑक्सीडेज की वजह से शरीर पर बुढ़ापे का असर जल्दी नहीं दिखता।

क्यों जरूरी है महिलाओं के लिए
प्रेगनेंट महिलाओं को थर्ड ट्राइमेस्टर के बाद गोंद कतीरा से बनी चीजों को खाना चाहिए। कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर होने की वजह से प्रेग्नेंसी के दिनों में हाथ-पैर और कमर दर्द में आराम मिलता है। इनदिनों इसे खाने से थकान नहीं होती।

डिलीवरी के बाद मां के शरीर में कमजोरी आ जाती है। शरीर में मौजूद पानी की मात्रा भी कम हो जाती है। ऐसी स्थिति में गोंद को गाय के घी, मिश्री और मुनक्का के साथ लेने से बहुत फायदा होगा। इसे दिन में दो बार लेने का असर जल्दी दिखेगा। लैक्जेटिव होने के कारण प्रेग्नेंसी के शुरुआती 3 महीनाें में इसे नहीं खाना चाहिए। प्रेग्नेंसी के बाद खून की कमी हो जाती है इसकी भरपाई करने के लिए गर्म दूध के साथ गोंद का लड्‌डू या राब लें। गोंद को शक्कर की बजाय गुड़ के साथ लें।

मोटापा तो कम होगा ही चेहरा भी रहेगा चिकना
अगर मोटी महिलाएं इसे खाएं, तो उनका वजन कम होगा। इसके लिए गोंद को लगातार 6 हफ्ते तक लें। इस बात का खास ख्याल रखें कि गोंद को एक ही तरीके से इस्तेमाल में लाएं।

अगर लड्‌डू खा रहे हैं, तो सिर्फ लड्‌डू ही खाएं, राब खा रहे हैं, तो उसी को खाएं। जिन्हें पंजीरी पसंद है, वह गोंद से तैयार पंजीरी खाएं। अध्ययन बताते हैं कि गाेंद को इस तरीके से खाने से जल्दी फायदा होता है। बॉडी कुछ ही महीने में शेप में आ जाती है।

फेसपैक से आएगा चेहरे पर जादुई निखार
गोंद में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी-एजिंग प्रोपर्टी होती है। एंटी-इंफ्लामेट्री होने के कारण शरीर में सूजन नहीं आती और शरीर पर उम्र के निशान भी नजर नहीं आते। त्वचा की कोशिकाओं में सुधार आता है और स्किन की बाहरी लेयर में मौजूद कोलेजन के हेल्दी रखने के कारण चेहरे पर झुर्रियां कम या देरी से आती हैं।

गोंद को हल्के गरम पानी में घोलें। यह देखने में चाशनी जैसा नजर आएगा। इसे चेहरे पर एक समान रूप से लगा लें। यह एक बेस्ट एंटी-एजिंग मास्क है। इसे पानी के साथ लेने पर हार्ट अटैक की आशंका कम हो जाती है। बॉडी के शूगर के स्तर को कम करता है। पुरुषों में यह वीर्य बढ़ाने का काम करता है इससे दांपत्य संबंध सुखद रहते हैं।

एसिडिटी रहती है, तो एक बार जरूर ट्राई करें
इम्युनिटी बढ़ाने के लिए गोंद के 2-3 ग्राम पाउडर को दूध के साथ लें। रात को सेाने से पहले इसके लड्‌डू या पाउडर को गरम दूध के साथ लेने से कब्ज की तकलीफ दूर होगी।

इसके खाने से महिलाओं में हडि्डयों और जोड़ों से जुड़ी परेशानियां दूर होगी। खाने के तुरंत बाद एसिडिटी होने पर 4 चम्मच दूध के साथ 2-3 ग्राम गोंद लें। एसिडिटी कंट्रोल मे रहेगी। यह मुंह और गले काे भी साफ रखता है।

खबरें और भी हैं...