पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • In The Pandemic Era, Meals Being Planned Keeping In Mind The Mental And Physical Health, Zero Waste Food Became Part Of Daily Cooking And Rice And Oat Milk Became People's Choice.

फूड ट्रेंड:पेंडेमिक दौर में मेंटल और फिजिकल हेल्थ को ध्यान में रखते हुए प्लान किए जा रहे मील्स, डेली कुकिंग का हिस्सा बना जीरो वेस्ट फूड तो राइस व ओट मिल्क बना लोगों की पसंद

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

2021 में लोगों ने खाने के जरिए भी तनाव कम करने की कोशिश की है। कुकिंग स्टाइल से लेकर स्टार इंग्रीडिएंट्स तक में बदलाव हुए हैं। जानिए लोगों ने कैसे बदला अपने खाने का अंदाज़...

फ्लेग्जि़टेरियन डाइट

जो लोग अभी पूरी तरह प्लांट-बेस्ड डाइट नहीं अपना पाए हैं, वे कभी-कभी मीट को खाने का हिस्सा बना रहे हैं और इसीलिए फ्लेग्जिटेरियन डाइट मशहूर हुई है। इसमें मीट रोज नहीं खाया जाता है। नॉनवेज डाइट में कमी से लोगों की जनरल हेल्थ में भी सुधार हुआ है।

मेंटल हेल्थ कुकिंग

शोध बताते हैं कि पौष्टिक आहार से दिमागी सेहत में भी सुधार होता है। पैंडेमिक के दौर में लोगों के लिए दिमागी सेहत मायने रखने लगी है। जब शरीर को जरूरी पोषण नहीं मिलता तो उस पर लंबे समय तक असर पड़ता है इसलिए खाना अब दिमाग और शरीर दोनों की सेहत को ध्यान में रखते हुए बनाया जा रहा है। बहुत से इंग्रीडिएंट्स और सुपरफूड्स हैं जो मूड को बूस्ट करते हैं, एंग्जायटी, डिप्रेशन दूर करते हैं और इस तरह मेंटल हेल्थ को भी सपोर्ट करते हैं।

पैंट्री मील्स

क्वारंटाइन कुकिंग के अंतर्गत लोगों ने पैंट्री मील्स बनाना सीख लिया है। जो चीजें किचन में पहले से मौजूद थीं, उन्हीं चीजों का इस्तेमाल किया। ग्रोसरी शॉपिंग करना सीखा। पैसे और खाना बचाने की यह आदत आगे भी बनी रहेगी।

लो-वेस्ट फूड

जीरो वेस्ट फूड अब डेली कुकिंग का हिस्सा बन गया है जिसमें अनावश्यक पैकेजिंग भी कम की गई है, खासकर प्लास्टिक। जो चीजें पहले डस्टबिन में फेंक दिया करते थे, जैसे- आलू के छिलके, गाजर की टिप, ब्रोकली स्टेम वगरैह, अब इनका भी उपयोग किया जा रहा है।

वीगन और वेजिटेरियन

इन दिनों लोग अपना मेंटल और फिजिकल हित देखते हुए वीगन और वेजिटेरियन हो रहे हैं। प्रकृति पर जो प्रभाव पड़ा है उससे काफी हद तक लोगों की डाइट प्रभावित हुई है। हेल्दी और इको-फ्रेंडली जीवन के लिए मीट-सेंट्रिक डाइट्स से अब परहेज़ किया जा रहा है।

होम-बेक्ड ब्रेड

क्वारंटाइन कुकिंग में लोगों ने घर में रहकर अपनी ब्रेड खुद ही बेक की है। लोगों ने जाना कि घर में बनी ब्रेड ज्यादा खुशबूदार, ज्यादा फ्रेश और ज्यादा हेल्दी होती है। ''सार डो'' लोफ से लेकर क्लासी व्हाइट ब्रेड तक, होम मेड ब्रेड्स अब घर में हमेशा ही बना करेंगी।

स्प्रेड्स एंड बटर्स

आमंड और कैश्यू बटर के बाद अब मेकाडामिया नट बटर भी पसंद किया जा रहा है। इसके अलावा वॉटरमेलन सीड बटर बनाया जा रहा है।

मिल्क

आमंड, सॉय, कोकोनट मिल्क के साथ ही लोगों ने नए विकल्प भी तलाशे हैं। अब राइस, हेंप और ओट मिल्क भी ट्राय कर रहे हैं।