पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Learn From Experts How To Increase Your Child's Self confidence, Instill Passion In Him, It Is Also Important To Motivate Him To Work Hard At Every Step

किड्स कॉर्नर:अपने बच्चों का सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ाने के तरीके एक्सपर्ट से जानें, उसमें जुनून पैदा करें, हर कदम पर उसे मेहनत करने के लिए प्रेरित करना भी जरूरी

डॉ. शीतल चौधरी, एम. डी. असिस्टेंट प्रोफेसर एंड कंसल्टेंट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मन के हारे हार है और मन के जीते जीत। आत्मविश्वास वह चाबी है जो जिंदगी में हर कदम पर सफलता के ताले खोल देती है। हम अपने बच्चों को शुरू से ही आत्मविश्वासी बना दें तो उन्हें कोई भी बाधा कमजोर नहीं कर पाएगी। हर पैरेंट्स चाहता है कि उसका बच्चा सर्वश्रेष्ठ हो, उसे हर मुकाम पर सफलता हासिल हो, लेकिन कुछ बच्चे आत्मविश्वास यानी सेल्फ कॉन्फिडेंस की कमी के चलते घबरा जाते हैं। अगर आपके बच्चे के साथ भी ऐसी परेशानी है तो चिंता की कोई बात नहीं है। समय रहते हम कुछ उपाय अपना लें तो इस समस्या को आसानी से दूर किया जा सकता है।

जरूरी है सेल्फ कॉन्फिडेंस :

1. बच्चे के मानसिक और शारीरिक विकास में बहुत ही सहायक।

2. मुश्किलों का सामना करने की क्षमता आती है।

3. भविष्य में आगे बढ़ने को प्रेरित करता है।

4. असफल होने पर दोबारा कोशिश करते हैं।

5. परेशानी को सहजता से लेने में मददगार।

ये उपाय अपनाएं :

1. प्रशंसा करें- बच्चे प्रशंसा मिलने पर खुशी व गर्व महसूस करते हैं। अपने बच्चे की हमेशा तारीफ करें, किन्तु यह झूठी नहीं होनी चाहिए। उसके कुछ नया करने पर प्रोत्साहित करें। कार्य में असफल होने पर डांटे-फटकारे नहीं। इसके बजाय उसे और मेहनत करने को कहें।

2. बच्चे का रोल मॉडल बनें- बच्चों के लिए पहला स्कूल उसका घर होता है। जब वे पैरेंट्स को काम करते देखते हैं तो वैसा ही करने की कोशिश करते हैं। इसलिए जरूरी है कि हम उन्हें काम को अच्छे और सलीके से करना सिखाएं।

3. छोटी जिम्मेदारी से शुरू करें- बच्चे को शुरू में छोटी-छोटी जिम्मेदारी सौंपें। उसे उसका सामान रखने के लिए कहें। दें। जैसे खिलौने साफ करना या उसकी किताबों को शेल्फ में सजाने के लिए कहें। जब उसे कोई जिम्मेदारी का काम दिया जाता है, तो वह बहुत खुश होता है, और उसमें ऊर्जा का प्रवाह होता है। इस तरह वह कार्यों को सीखेगा और अपना आत्म-सम्मान विकसित कर सकता है। वह आपके दिए सारे काम करेगा, क्योंकि वह आपको एक रोल मॉडल के रूप में देखता है।

4. अन्य बच्चों से तुलना न करें- बच्चे में आत्मविश्वास पैदा करना है, तो आप उसकी किसी अन्य बच्चे से तुलना कर उसे नीचा न दिखाएं। इससे उसके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है।4. अन्ये बच्चों से तुलना न करें- बच्चे में आत्मविश्वास पैदा करना है, तो आप उसकी किसी अन्य बच्चे से तुलना कर उसे नीचा न दिखाएं। इससे उसके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है।

5. बच्चे में जुनून पैदा करें- बच्चे में ऐसा जुनून पैदा करें, जिससे वह पढ़ाई, फिजिकल एक्टिविटिज या किसी अन्य क्रिएटिव एक्टिविटी को खुद करने की कोशिश करें। अगर किसी क्षेत्र विशेष में उसकी रूचि है तो उसे प्रोत्साहित करें ताकि वह उसमें श्रेष्ठ प्रदर्शन कर सके।

6. उनसे सलाह भी मांगे- आप बच्चे से किसी काम को लेकर उससे सलाह मांगें। इससे उन्हें महसूस होगा कि वे भी परिवार का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।

7. सपनों काे उड़ान दें- यदि बच्चा पढ़ाई से हटकर स्पोर्ट, म्यूजिक, एक्टिंग या किसी और क्षेत्र में दिलचस्पी रखता है तो उसका समर्थन करें। उन्हें यह यकीन दिलाएं कि आप हर स्थिति में उनके साथ हैं।

8. असफलता का स्वाद- बच्चे को अपना काम खुद करने दें। बच्चे हो या बड़े जिंदगी में असफलता एक सबक देती है। हारने और गलती करने से ही बच्चा सीखता है। फेल होेने पर बच्चे लक्ष्य को पाने के लिए और ज्यादा कोशिश करते हैं। उनकी विफलता में उसे हिम्मत दें और उस काम को अधिक मेहनत से करने के लिए प्रेरित करें।

खबरें और भी हैं...