पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Make These Parathas By Adding Flour And Turmeric To The Leaves Of The Drumstick, Dr. Rasika Ashraf Ali, Chief Dietician Of Breach Candy Hospital, Mumbai

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मोदीजी ने किया सहजन के पराठों का जिक्र:ये पराठे सहजन की पत्तियों में आटा और हल्दी डालकर बनाएं, इसके फायदे बता रही हैं ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल, मुंबई की चीफ डाइटीशियन डॉ. रशिका अशरफ अली

2 महीने पहले
  • अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो पराठे सेंकते समय कम घी का इस्तेमाल करें
  • इन पत्तियों का काढ़ा, गठिया, सायटिका और डाइजेशन ठीक करने में मदद करता है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल पूरे होने पर कई हस्तियों से फिटनेस के संबंध में बात की। इस दौरान मोदी ने बताया कि वे फिट रहने के लिए हफ्ते में एक या दो बाद सहजन के पत्तों के पराठे खाते हैं।

सहजन को मोरिंगा या ड्रमस्टिक्स भी कहते हैं। कई बीमारियों में इसकी पेड़ के पत्ते, छाल, फूल, फल, बीज यहां तक कि जड़ों का इस्तेमाल भी किया जाता है। इसकी पत्तियों से मिलने वाले फायदों को देखते हुए कई लोग इन पत्तियों से बनी टैबलेट भी खाते हैं।

ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल, मुंबई की चीफ डाइटीशियन डॉ. रशिका अशरफ अली के अनुसार, सहजन की पत्तियों से बने पराठे में क्लोरोजेनिक एसिड और फाइबर होता है जो वजन कम करने में मदद करता है। इसमें एंटी-कैंसर और एंटी-ट्यूमर गुण मौजूद होते हैं। इन पत्तियों में एंटी डायबिटीक प्रॉपर्टीज होती हैं जो शुगर लेवल नियंत्रित करने में सहायक हैं। इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम और फास्फोरस होता है जो हडि्डयों को मजबूत बनाने में मदद करता है। यह एनीमिया के इलाज में भी कारगर हैं। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो पराठे सेंकते समय कम घी का इस्तेमाल करें।

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सी आर यादव बता रहे हैं आयुर्वेद में सहजन की पत्तियों के फायदे : इन पत्तियों का काढ़ा, गठिया, सायटिका और डाइजेशन ठीक करने में मदद करता है। मोच आने पर सहजन की पत्ती की लुग्दी बनाकर उसमें थोड़ा सा सरसों का तेल डालकर आंच पर पकाएं। इसे मोच पर लगाने से फायदा होता है। सहजन के पत्तों का रस बच्चों के पेट के कीड़े निकालने और डिहाइड्रेशन के इलाज में मदद करता है। सहजन की पत्तियों को पीसकर लगाने से घाव हाे या सूजन ठीक हो जाती है।

सहजन की पत्तियों के पराठे बनाने का तरीका जानें :

सामग्री :
गेहूं का आटा - 2 कप
सहजन की पत्तियां - 1 कप
हल्दी - 1/2 छोटा चम्मच
जीरा - 1/2 छोटा चम्मच
लाल मिर्च पाउडर - 1/2 छोटा चम्मच
घी - 1 छोटा चम्मच
नमक - स्वाद अनुसार

विधि :
- सहजन की पत्तियों को धोकर छलनी में निकाल लें। कुछ देर रखकर इन्हें बारीक काट लें।
- एक बड़े बर्तन में आटा छानें। इसमें जीरा, तेल, हल्दी, मिर्च पाउडर और सहजन की पत्तियों को डालकर पानी की सहायता से नरम आटा गूंथ लें।
- गैस पर तवा गर्म करें। अब हथेली से छोटी लोई बनाएं और उससे पतला पराठा बेल लें। इसे घी लगाकर दोनों तरफ से सेकें।
- गर्मागर्म पराठे को दही, अचार या सब्जी के साथ सर्व करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें