पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Mister Removed From American Toys Mr. Potato, People Demanded To Remove The Word 'Bro' From The Name Of This Company

लैंगिक भेदभाव मिटाने का प्रयास:अमेरिकी खिलौने बनाने वाली कंपनी मिस्टर पोटैटो से हटा 'मिस्टर', लोगों ने की इसके नाम से 'ब्रो' शब्द हटाने की मांग

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिका के प्रसिद्ध खिलौने मि. पोटैटो हैड से अब 'मिस्टर' शब्द हट गया है। इसे बनाने वाली कंपनी हैसब्रो इसे ‘पोटैटो हैड’ नाम से प्रचारित करेगी। हाल ही में कंपनी की इस घोषणा के बाद सोशल मीडिया पर पोटैटो हैड ट्रेंड करने लगा। लोग यहां तक कहने लगे कि कंपनी को अपने नाम में से ‘ब्रो’ शब्द भी हटा देना चाहिए। कंपनी की सीनियर वाइस प्रेसिडेंट किम्बेरले बॉयड ने कहा कि कंपनी के इस निर्णय के पीछे की वजह इसे और ज्यादा समावेशी बनाना और लैंगिक भेदभाव मिटाना है।

मि. पोटैटो हैड खिलौनों की विशाल रेंज है। इसमें शरीर के अंग जैसे आंख, नाक-कान के अलावा दूसरी एक्सेसरीज जैसे टोपी आदि को प्लास्टिक के पोटैटो में लगाया जाता है। कंपनी ने 1952 में मि. पोटैटो हैड बनाया था। तब यह खिलौनों के रूप में सिर्फ शरीर के अंग बनाती थी, बच्चे घर में असली आलू या दूसरी सब्जी में इसे लगाते थे। इसके बाद कंपनी ने प्लास्टिक के पोटैटो बनाना शुरू किए। टेलीविजन पर विज्ञापन देने वाला यह अमेरिका का पहला खिलौना था।

हालांकि कंपनी अपने एक खिलौने जोड़े मिस्टर एंड मिसेज हैड का नाम नहीं बदल रही है। एलजीबीटीक्यू के लिए संस्था चलाने वाले एक समूह ने कहा कि हैसब्रो बच्चों के खिलौनों को अब सही मायनों में एक आकार दे रहा है, पारंपरिक दकियानूसी लैंगिक मान्यताओं से हटकर बच्चे अब खुद इसमें अंतर खत्म कर देंगे। पिछले कुछ सालों में कई खिलौना निर्माता कंपनियों ने अपने ब्रांड्स के नाम बदले हैं। उदाहरण के लिए बार्बी डॉल अब सिर्फ गोरे रंग में नहीं आती, बल्कि त्वचा के मुमकिन सभी रंगों और शारीरिक आकार में आती है।