पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • To Keep Children Fit, Adopt A Healthy Diet Formula, Include Pulses, Milk, Eggs And Vegetables In Their Diet, It Is Also Important To Motivate Them For Sports.

किड्स कॉर्नर:एक्सपर्ट से जानें बच्चों को फिट रखने के टिप्स, उनकी डाइट में दाल, दूध, अंडे और सब्जियां शामिल करें, खेल-कूद के लिए प्रेरित करना भी जरूरी

डॉ. अमित वर्मा, चिकित्सक, एम्स, भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना काल के कारण स्कूल पिछले डेढ़ साल से खुले ही नहीं हैं। बच्चे घर में रहकर ही पढ़ाई कर रहे हैं। उनकी फिजिकल एक्टिविटी भी बंद है। इस कारण अधिकांश बच्चों में मोटापे की समस्या बढ़ रही है। इसेे लेकर ज्यादातर पैरेंट्स परेशान हैं। इसका मतलब यह नहीं कि बच्चों से डाइटिंग कराई जाए। इससे बड़े होने पर उनमें ईटिंग डिसऑर्डर का खतरा बढ़ता है।

दरअसल बच्चे खाली समय में कुछ न कुछ खाते रहते हैं। इससे मोटापा बढ़ता है। ऐसा देखने में आया है कि आप बच्चे को जो चीज खाने से रोकेंगे, वह उसे अधिक खाएगा। बच्चों को टोकने के बजाय उनकी आदतें सुधार कर ही मोटापा नियंत्रित किया जा सकता है। अगर समय रहते इसे कंट्रोल नहीं किया जाए तो यह समस्या भविष्य में गंभीर रूप ले सकती है। बच्चों के भोजन में 50, 30 और 20 फार्मूला अपनाना चाहिए यानी 50 फीसदी प्रोटीन, 30 फीसदी कार्बोहाइड्रेट और 20 फीसदी अन्य न्यूट्रिएंट्स जैसे-विटामिन, मिनरल, फाइबर होना चाहिए। इस तरह के खाने से उनकी हेल्थ बनेगी और वे ओवर वेट भी नहीं होंगे।

इन चार टिप्स पर ध्यान दें तो बच्चे रहेंगे मेंटल और फिजिकल फिट

पौष्टिक खाना- बच्चे की अच्छी सेहत के लिए अच्छा खाना भी जरूरी है। उन्हें प्रोटीन युक्त खाना देना लाभदायक होता है। दाल, अंडे, दूध, सब्जियाें में प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होता है, लेकिन बच्चों को जंक फूड्स से दूर रखें।

अच्छी नींद- बच्चों को नींद पूरी करने दें। छोटे बच्चे खेल-कूद के दौरान जल्दी थक जाते हैं। यही वजह है कि वे पढ़ते-पढ़ते सो जाते हैं। ऐसे में बच्चों को उनकी नींद पूरी करने देना चाहिए।

साफ-सफाई- किसी भी बीमारी की शुरुआत गंदगी से होती है इसलिए बच्चों को साफ-सफाई के बारे में बचपन से ही सिखाएं। उन्हें नाखून समय पर काटने, दांत, हाथ-पैर को हमेशा साफ रखने के लिए प्रेरित करें।

खेल-कूद- बच्चों के शारीरिक विकास के लिए उनका खेलना-कूदना जरूरी है। खेलने से बच्चों की हाईट बढ़ने के साथ शरीर मजबूत होता है। इसलिए इनके खेलने का भी टाइम निश्चित करें।

इन्हें भी अपनाएं

01. बच्चों को बाहर का फास्ट फूड मिलना बंद हो गया है। ऐसे में वे घर पर इसकी डिमांड करने लगे हैं। मां को उनके फास्ट फूड खाने पर कंट्रोल करना चाहिए, क्योंकि इसके अधिक सेवन से कब्ज की समस्या आती है। उन्हें महीने में एक-दो बार हेल्दी फास्ट फूड बनाकर खिलाएं। जैसे आटे का पिज्जा, नूडल्स में ढेर सारी वेजिटेबल मिलाकर, पास्ता बर्गर आदि दे सकती हैं, लेकिन संतुलित मात्रा में ही दें।

02. एक रिसर्च के अनुसार दो घंटे से अधिक टीवी स्क्रीन के सामने बिताना नुकसानदायक है, लेकिन कोरोना के दौरान बच्चों का स्क्रीन टाइम ऑनलाइन क्लासेज की वजह से बढ़ गया है। आमतौर पर टीवी देखते समय बच्चे जरूरत से अधिक खाते हैं। इससे मोटापा बढ़ता है। इससे बचने के लिए भोजन के समय बच्चों को टीवी न देखने दें और सोने के दो घंटे पहले उसे गैजेट से दूर कर दें।

03. एक और जरूरी बात यह है कि बच्चों को फिजिकल वर्क करने के लिए कहें। इसमें घर-बगीचे के काम भी शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा बच्चों को योगा, स्किपिंग और अन्य फिजिकल एक्सरसाइज करवाएं। अगर संभव हो तो पैरेंट्स उनके साथ दौड़, कबड्‌डी, बैडमिंटन जैसे गेम खेलें।