हेल्दी एंड हैप्पी टमी:पेट का फैट घटाकर पाना चाहते हैं स्लिम ट्रिम फिगर, तो अपनाएं ये आसान उपाय

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फ्लैट टमी पाने की ख़्वाहिश हर महिला की होती है, लेकिन बिजी लाइफस्टाइल और खाने-पीने की आदतों के चलते टमी फैट बहुत जल्दी बढ़ता है। पेट बाहर निकलने से फिगर पूरी तरह बिगाड़ जाता है। अक्सर ये भी देखा जाता है कि कुछ लोगों का वजन ज्यादा नहीं होता, पर पेट के आसपास फैट रहता है। इस वजह से उनका शरीर बैलेंस नहीं रहता। ऐसे में इसे कम करना बेहद जरूरी है। नोएडा के यथार्थ अस्पताल में न्यूट्रिशन एक्सपर्ट डॉ. किरण सोनी बताती हैं कि घंटों कुर्सी पर बैठकर काम करने और खराब लाइफस्टाइल के कारण हेल्थ पर बुरा असर पड़ता है। इसका सबसे ज्यादा असर हमारे पेट पर दिखाई देता है। ऐसे में टमी फैट कम करने के लिए थोड़ी सी मेहनत और डाइट में हल्के बदलाव करना जरूरी है। इसके लिए ये आसान उपाय अपना सकती हैं।

ट्रांस फैट वाले खानें से करें परहेज
ट्रांस फैट का ज्यादा सेवन टमी फैट की वजह है इसलिए हेल्दी रहने और टमी फैट को कम करने के लिए ट्रांस फैट से दूर रहें। जब भी कोई प्रोडेक्ट खरीदें तो उस पर लगे लेबल को ध्यान से पढ़ें। उन प्रोडेक्ट्स को लेने से परहेज करें, जिनमें ट्रांस फैट हो।

हेल्दी ब्रेकफास्ट
ब्रेकफास्ट अवॉइड करने से भूख ज्यादा लगती है और वजन बढ़ता है। इसलिए ब्रेकफास्ट स्किप न करें। सुबह ब्रेकफास्ट के साथ एक अखरोट जरूर खाएं।

इंटरमिटेंट फास्टिंग फायदेमंद
इंटरमिटेंट फास्टिंग खाने एक का पैटर्न है, जिसमें लंबे समय तक भूखे रहकर मील स्किप करना होता है। किस समय भोजन करना है और किस समय नहीं, ये पहले से तय होता है। इसके सबसे फेमस तरीकों में 16 घंटे बिना खाए रहते हैं और एक दिन में सिर्फ 8 घंटों में ही खाना होता है। इस तरीके को अपनाने से छह से 24 सप्ताह के अंदर टमी फैट में कमी महसूस कर सकते हैं।

लाइफस्टाइल में बदलाव जरूरी
लंबे वक्त के लिए लाइफस्टाइल में बदलाव लाना बेहद जरूरी है। इससे टमी फैट कम करने में मदद मिलेगी। जब हेल्दी आदतें अपनाएंगे, तो शरीर में खुद ही फैट जमा नहीं होगा।

डाइट में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं
सोयाबीन, टोफू, नट्स जैसे फूड्स में प्रोटीन होता है। डाइट में प्रोटीन शामिल करने से जल्दी-जल्दी भूख नहीं लगेगी और कैलोरी इनटेक कम होगा, जिससे पेट के चारों ओर फैट जमा नहीं होगा।

खबरें और भी हैं...