पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Women
  • Lifestyle
  • Zahra Butt Is The First Woman In Britain To Teach Boxing Wearing A Hijab, Training Women Suffering From Domestic Violence

लगन कुछ कर दिखाने की:हिजाब पहनकर बॉक्सिंग सीखाने वाली ब्रिटेन की पहली महिला हैं जाहरा बट, घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को देती हैं ट्रेनिंग

11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जाहरा बट ब्रिटेन की बॉक्सिंग कोच हैं। वे नॉटिंघमशायर के एस्प्ले में रहती हैं। जाहरा को प्रेग्नेंसी के बाद डिप्रेशन ने घेर लिया। तब उन्होंने स्पोर्ट्स के जरिये डिप्रेशन दूर करने का प्रयास किया। तीन बच्चों की मां जाहरा घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिलाओं को बॉक्सिंग सिखाती हैं।

वे ट्रेनिंग के दौरान भी अपना हिजाब नहीं हटाती हैं। इसकी वजह बताते हुए वह कहती हैं मैं नहीं चाहती कि हिजाब हटाकर लोगों के भद्दे कमेंट्स सुनूं। 40 वर्षीय जारा ने बॉक्सिंग को अपना फुल टाइम करिअर बनाया। एक बॉक्सर के तौर पर उन्हें मिलने वाले पॉजिटिव मैसेज पाकर वे काफी खुश हैं।
वे कहती हैं ये संदेश मुझे लोगों के कमेंट्स का सामना करने की हिम्मत देते हैं। जाहरा को इस बात का दुख है कि हिजाब की वजह से उन्हें लोगों के भेदभाव का सामना करना पड़ता है। वे कहती हैं ये मेरे लिए दुखदायी है। वो भी तब जब मैं आत्मनिर्भर हूं।
लोगों की बातें सुनने से जाहरा की भावनाएं आहत होती हैं। इससे मेरे परिवार को यह लगता है कि मैं एक ऐसा काम कर रही हूं जो कई बार मेरे तनाव की वजह भी बन जाता है। हालांकि जाहरा इन कमेंट्स से दूर अपने काम पर फोकस करना पसदं करती हैं।
वे कहती हैं-मैं कोशिश करती हूं कि लोगों की बातों का असर मेरे काम पर न हो। जारा महिलाओं की मदद करने के लिए उन्हें बॉक्सिंग सीखाना पसंद करती हैं। वे कहती हैं अगर मैं महिलाओं की मदद करूंगी तो हो सकता है बॉक्सिंग सीखकर वे भी किसी की मदद करें।
इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ता है और मेंटल हेल्थ भी अच्छी रहती है। जाहरा के अनुसार अब तक लोगों ने उन्हें सिर्फ स्ट्रीट फाइट करते हुए ही देखा है। जब वे लोगों को अपने इस काम के बारे में बताती हूं तो वे कहते हैं आप तो एक अच्छी महिला हैं। फिर इस मारधाड़ वाले काम को करने की क्या जरूरत है।
जाहरा लॉकडाउन के दौरान वन टू वन क्लासेस लेना चाहती हैं। इसके साथ ही जूम पर ग्रुप सेशन की शुरुआत करना चाहती हैं। 2014 में जाहरा पहली ऐसी कोच बनी जो एमैच्योर बॉक्सिंग एसोसिएशन में हिजाब पहनकर बॉक्सिंग सीखाती है।
लॉकडाउन के शुरू होने के बाद जारा ने 2.6 चैलेंज की शुरुआत की। उन्होंने एक नेशनल स्टॉकिंग चैरिटी पलादिन के लिए 26 दिन के अंदर रोज 6 किमी तक रनिंग करके पैसे जुटाए। जाहरा के तीनों बच्चों को अपनी मां पर गर्व है।
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें