• Hindi News
  • Women
  • 116 Crores Was Given To Johnny Depp, Saved The Former US Governor Harvey Was Facing 100 Charges

रेप केस में स्टार की ढाल बनीं महिला वकील:जॉनी डेप को 116 करोड़ दिलाए, पूर्व US गवर्नर को बचाया-हार्वे पर लगे थे 100 आरोप

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दो हॉलीवुड स्टार जॉनी डेप और एंबर हर्ड के तलाक के बाद की लड़ाई पूरी दुनिया ने देखी। एक-दूसरे को भला-बुरा कहने पर इनके बीच मानहानि की लड़ाई हुई और जॉनी केस जीत गए। इस लड़ाई को लाइव दिखाया गया। एक और बात जो लोगों ने नोटिस की वो थी जॉनी की महिला वकील।

नाम केमिली वास्केज़। वैसे तो जॉनी के पास वकीलों की एक पूरी फौज थी लेकिन सार्वजनिक रूप से केमिली ही सबसे ज्यादा दिखीं और कोर्टरूम में भी एंबर को क्रॉस एग्जामिन करते दिखीं। उनके सवाल देखकर सोशल मीडिया पर जॉनी के फैन केमिला को वंडर वुमन और एंबर को बुरी औरत बुलाने लगे। ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब यौन अपराधों के आरोपों में पुरुषों के बचाव में महिलाएं उतरी हों।

हॉलीवुड डायरेक्टर हार्वे को बचाने में जिंदगी का पहला केस हारीं डोना

केमिली वास्केज़ से पहले भी कई ऐसी महिला वकील रही हैं, जिन्होंने रेप या सेक्शुअल अब्यूज में फंसे फेमस सेलिब्रेटीज को अपनी दलीलों से बचाने की कोशिश की है। सबसे पहले बात हॉलीवुड फिल्ममेकर हार्वे वेनस्टीन की। कई बड़ी अभिनेत्रियों समेत 100 से अधिक महिलाओं ने हार्वे पर रेप और यौन शोषण का आरोप लगाया, जिसके बाद साल 2018 में #MeToo मूवमेंट की शुरुआत हुई। कोर्ट में हार्वे को डिफेंड करने उतरीं डोना रोटुनो। डोना क्रिमिनल डिफेंस लॉयर हैं और वो यौन उत्पीड़न के आरोपी पुरुषों के बचाव के लिए मशहूर हैं। डोना को 'द रॉटवीलर' के नाम से भी जाना जाता है। हार्वे से पहले डोना अपना कोई भी केस नहीं हारी थीं। हार्वे पर दोष साबित हुआ और उन्हें न्यूयॉर्क की कोर्ट 23 साल की सजा सुनाई।

न्यूयॉर्क के 56वें गर्वनर को रीटा ने यौन शोषण के 11 आरोपों से बचाया

एंड्रयू मार्क कुओमो, अमेरिकी वकील और राजनेता हैं। न्यूयॉर्क के 56वें गर्वनर रह चुके हैं। एंड्रयू अमेरिका के एक राजनैतिक परिवार से तात्लुक रखते हैं। साल 2021 में यौन शोषण के कई आरोप लगाने के बाद उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा। कोर्ट में एंड्रयू का केस लड़ने वाली वकील थीं रीटा ग्लैविन। रीटा ने कोर्ट में बचाव में एक से बढ़कर एक दलीलें पेश कीं। एंड्रयू सारे आरोपों से बरी हो गए।

केली को 30 साल बाद मिली सजा, बचाने उतरी थीं दो महिला वकील

सिंगर रॉबर्ट सिल्वेस्टर केली। म्यूजिक की दुनिया में आर केली के नाम से मशहूर हैं। केली पर चाइल्ड पोर्नोग्रापी, मी टू, घरेलू हिंसा के अलावा कई गंभीर आरोप लगे। केली को पिछले साल ही ब्रुकलिन की फेडरल कोर्ट ने सेक्स ट्रैफिकिंग के केस में दोषी पाया। केली पर ये सारे गंभीर आरोप 24 साल की उम्र से ही लगते रहे लेकिन सजा 30 साल बाद सुनाई गई। आलम ये था कि कोर्ट में जब जज ने फैसला पढ़ना शुरू किया तो वहां मौजूद महिलाएं रो पड़ीं। लेकिन केली के बचाव में भी एक महिला वकील ही थी। नाम निकोल ब्लैंक बेकर। कई सालों तक निकोल सेक्स क्राइम के आरोपियों को सजा दिलाती थीं लेकिन बाद में यौन शोषण के आरोपी आर केली के केस लड़ीं। केली की टीम में वो इकलौती महिला थीं। निकोल ने केली के बचाव में कोर्ट में विक्टिम को झूठी कहा था और उसके साथ केली के व्यवहार को खूबसूरत बता दिया था। सजा मिलने के बाद नए ट्रायल अपील के लिए केली ने पुरानी टीम को हटा नई टीम हायर की। केली का केस अब जेनिफर एन बोनजीन देख रही हैं।

महिला को महिला के खिलाफ उतरना क्या स्ट्रैटजी का हिस्सा?

दिल्ली हाई कोर्ट में प्रैक्टिस करने वाली जया माथुर बताती हैं कि यौन शोषण के केस में आरोपी के पास महिला वकील होने से लोगों के बीच आरोपी की इमेज बिल्डिंग भी होती है। महिला वकील होने की वजह से वह जूरी पर भी मनोवैज्ञानिक असर पड़ता है। जॉनी के केस में देखा गया कि विक्टिम से क्रॉस एग्जामिन के दौरान केमिली ने एम्बर से कई ऐसे सवाल पूछे जो शायद मेल एडवोकेट के लिए मुश्किल होता।