• Hindi News
  • Women
  • Albania Government To Have 12 Women Four Men Ministers Female dominated Cabinet

'महिलाओं की सरकार':कैबिनेट में सबसे ज्यादा महिला मंत्रियों के मामले में इस देश ने बनाया रिकॉर्ड, जानिए- भारत के हालात

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिलाओं का दम - Dainik Bhaskar
महिलाओं का दम

अल्बानिया की संसद ने शुक्रवार को 20 घंटे चली संसदीय बहस के बाद फीमेल डॉमिनेटेड कैबिनेट को मंजूरी दे दी। प्रधानमंत्री एडी रामा के महिलाओं की भागीदारी वाले मंत्रिमंडल के पक्ष में 77 और विरोध में 53 वोट पड़े। रामा की कैबिनेट में 17 में से 12 महिला मंत्री हैं।

प्रधानमंत्री एडी रामा ने कहा कि हम इतिहास के एक नए अध्याय में एंट्री कर रहे हैं, जहां महिला मंत्रियों की संख्या पुरुषों के मुकाबले ज्यादा है। अप्रैल में वामपंथी सोशलिस्ट पार्टी की भारी जीत के बाद रामा को तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में चुना गया। 57 साल के एडी रामा ने इस मौके पर यह भी माना कि अल्बानियाई समाज में आज भी महिलाओं के खिलाफ भेदभाव किया जाता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव और घरेलू हिंसा के खिलाफ लड़ाई जारी है।

अल्बानिया में नया मंत्रिमंडल अगले चार साल तक काम करेगा। नए मंत्रिमंडल में अर्बेन अहमताज उप प्रधानमंत्री होंगे। उल्सी मांजा के न्याय मंत्रालय होगा। रामा ने तीन नए राज्य मंत्रियों की घोषणा की है। इनमें युवा राज्य मंत्री बोरा मुजाकी, सेवा राज्य मंत्री मिल्वा और राज्य मंत्री एडोना बिलाली शामिल हैं। पहले शिक्षा मंत्री रहीं लिंडिता निकोला को रामा ने संसद की चेयरपर्सन बनाया है।

जैसी है रफ्तार, दुनिया को लगेंगे 130 साल

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक अल्बानिया अब कैबिनेट में महिलाओं को प्रतिनिधित्व देने के मामले में दुनिया में पांचवें नंबर पर है। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक 24 देशों में 26 महिलाएं राष्ट्राध्यक्ष हैं या राज्यों की कमान संभाल रही हैं। संयुक्त राष्ट्र के आकलन के मुताबिक इसी स्पीड से महिलाएं सरकार चलाती रहीं तो सत्ता के शीर्ष पदों पर लैंगिक समानता हासिल करने में 130 साल लगेंगे।

जानिए, क्या हैं भारत में हालात

भारत में नरेंद्र मोदी सरकार में 11 महिला मंत्री हैं। बीजेपी की मीनाक्षी लेखी, शोभा कारंदलजे, दर्शना जरदोश, अन्नपूर्णा देवी, प्रतिमा भौमिक, भारती पवार और अपना दल (एस) की अनुप्रिया पटेल राज्य मंत्री हैं। इनमें अनुप्रिया को छोड़कर सभी छह महिला नेता पहली बार केंद्रीय मंत्री बनी हैं। इन सात महिला नेताओं को मंत्रियों के अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी और राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति और रेणुका सिंह सरूता पहले से मंत्रिपरिषद में शामिल हैं। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में नौ महिला मंत्री थीं जिनमें छह कैबनेट मंत्री थीं।

मोदी सरकार में महिला मंत्री
मोदी सरकार में महिला मंत्री

जब भारत की पहली महिला पीएम बनीं इंदिरा गांधी

इंदिरा गांधी 1962 में देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनीं। उस समय उनकी कैबिनेट में उनके अलावा छह महिला मंत्री शामिल थीं। चौथी लोकसभा यानी 1967 में 4 महिला मंत्री थीं जिनमें पीएम इंदिरा गांधी का नाम भी शामिल है। पांचवीं लोकसभा 1971 में पीएम इंदिरा गांधी समेत 4 महिला मंत्री थीं। सातवीं लोकसभा 1980 में फिर जब इंदिरा गांधी जीतकर आईं तो 4 महिला मंत्री बनीं जिनमें से एक वो भी थीं।

इन देशों में महिलाएं संभाल रहीं रक्षा मंत्रालय

माना जाता है कि रक्षा विभाग जैसे विभाग सिर्फ पुरुष संभालते हैं। मगर कई देशों में रक्षा मंत्रालय की कमान महिलाएं संभाल रही हैं। इसमें ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, फ्रांस, इटली जैसे देश शामिल हैं। उर्सुला वॉन डेर लेयेन 2013 में जर्मनी की पहली महिला रक्षा मंत्री बनीं। सात बच्चों की मां उर्सुला डॉक्टर हैं। वहीं, मेरिस पेन ऑस्ट्रेलिया की पहली महिला रक्षा मंत्री हैं। मारिया डोलोरेस डे कोस्पेडल स्पेन की रक्षा मंत्री हैं। वह स्पेन की पीपल्स पार्टी की महासचिव भी हैं। रोबर्टा पिनोटी सात साल से इटली की रक्षा मंत्री का पदभार संभाल रही हैं। इनके अलावा भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश की मुखिया प्रधानमंत्री शेख हसीना हैं। उनके पास अपने देश का रक्षा मंत्रालय का भी है।