• Hindi News
  • Women
  • Can Be Used For Kneading Flour, Making Vegetables And Washing Hair, Immunity Will Be Strong

फटे दूध के पानी में प्रोटीन, मिनरल्स और विटामिन:फेंकें नहीं, आटा गूंथने, सब्जी बनाने और बाल धोने में करें इस्तेमाल; मजबूत होगी इम्यूनिटी

नई दिल्ली4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काफी लोगों को बाजार में मिलने वाले पनीर से संतुष्टि नहीं मिलती है। ऐसे लोग घर में पनीर बनाना पसंद करते हैं। कई बार गलती से दूध फट जाए तो भी लोग पनीर बना लेते हैं। दूध से पनीर या रसगुल्ला बनाने के बाद लोग फटे दूध यानी छेना के पानी को फेंक देते हैं या थोड़-बहुत अगली बार दूध को फाड़ने के लिए रख लेते हैं।

लेकिन फटे दूध का ये पानी बहुत काम का है। कुकिंग में तो इसके कई इस्तेमाल हैं ही; साथ ही साथ इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन और लैक्टिक एसिड जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं।

ऐसे में फटे दूध के पानी के फायदे और उसके इस्तेमाल के कुछ शानदार तरीके जान लें।

कई मायनों में पनीर बनाने के बाद बचा पानी पनीर जितना ही पौष्टिक होता है।
कई मायनों में पनीर बनाने के बाद बचा पानी पनीर जितना ही पौष्टिक होता है।

मिनरल्स और विटामिंस से भरपूर है फटे दूध का पानी

न्यूट्रिशनिस्ट प्रियंका सिंह बताती हैं-फटे हुए दूध के पानी में प्रोटीन, कॉर्बोहाइड्रेट, फैट, कैल्शियम और लैक्टिक एसिड के अलावा प्रचुर मात्रा में कई तरह के मिनरल्स और विटामिंस पाए जाते हैं। इसमें कैलोरी नाममात्र का होता है। इसका इस्तेमाल खाना बनाने से लेकर पीने तक में किया जा सकता है। इससे हमारी इम्यूनिटी मजबूत होती है। साथ ही यह हाई ब्लड प्रेशर में भी फायदेमंद है। इसे पीने से किडनी की फंक्शनिंग ठीक रहती है।

डेली पीने से पाचन तंत्र बनेगा मजबूत

प्रियंका सिंह आगे बताती हैं- चीनी या नमक डालकर छेना का पानी पीने से पाचन तंत्र मजबूत बनता है। इससे खाना जल्दी पचता है और भूख भी लगती है। लो कैलोरी के चलते इससे वजन बढ़ने का भी खतरा नहीं होता है।

नॉर्मल टेम्प्रेचर पर छेना का पानी 2 दिन तक खराब नहीं होता है।
नॉर्मल टेम्प्रेचर पर छेना का पानी 2 दिन तक खराब नहीं होता है।

इन तरीकों से छेना के पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं

आटा गूंथने में- छेना के पानी से आटा गूंथने से रोटियां मुलायम और चिकनी बनती हैं।

सब्जी की ग्रेवी में- सब्जी की ग्रेवी में पानी की जगह छेना के पानी को डालने से ग्रेवी ज्यादा रिच, हेल्दी और टेस्टी हो जाती है। किसी भी सब्जी की ग्रेवी में छेना के पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

सूप में- किसी भी वेजिटेबल सूप में पानी की जगह इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

चावल बनाने में- चावल या पुलाव बनाने में भी नॉर्मल पानी की जगह इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

बाल धोने में- छेना के पानी के कई एक्सटर्नल यूज भी हैं। इससे बाल मुलायम होते हैं। साथ ही इससे डैंड्रफ भी कम होता है। फेश वॉश करते हुए चेहरे को भी इसके पानी से धोया जा सकता है।