• Hindi News
  • Women
  • Company's Top Lawyer Vijaya Had Suspended Trump's Account, Now Upset

मस्क ने खरीदा ट्विटर, मीटिंग में रोने लगी यह भारतीय:कंपनी की टॉप लॉयर विजया ने ट्रंप का अकाउंट कराया था सस्पेंड, अब परेशान

नई दिल्ली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

माइक्रोब्लागिंग साइट ट्विटर अब दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क का हो गया है। एलन मस्क के साथ ट्विटर से जुड़े लोग चर्चा में बने हुए हैं। विजया गाड्डे ट्विटर की टॉप लॉयर हैं। सेंसरशिप से जुड़ी चीजों को संभालती हैं। ट्विटर के बिकने के बाद जब टीम की वर्चुअल मीटिंग हुई तो वो रो पड़ीं। अपनी टीम से बात करते हुए वो भावुक हो गईं। वो इस बात को लेकर चिंतिंत देखीं कि पता नहीं कंपनी में किस तरह का बदलाव होगा। मीटिंग के दौरान विजया कहा कि उन्हें अपनी टीम के किए गए काम पर गर्व है। साथ ही उन्होंने टीम के लोगों को अच्छा काम करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया।

खबरों की माने तो मस्क विजया के कई पुराने फैसलों से नाराज हैं। फॉर्च्यून ने उन्हें ट्विटर एग्जीक्यूटिव टीम की सबसे पावरफुल महिला माना था। उनके कई फैसलों से काफी विवाद खड़ा हुआ था।

तेलगू परिवार में जन्म फिर अमेरिका गई फैमिली

विजया का जन्म एक तेलगू परिवार में हुआ था। जब वो मात्र तीन साल की थीं तो उनका परिवार अमेरिका चला गया। उनके पिता ने वहां से ग्रेजुएशन किया। पैसों की वजह से विजया का बचपन तंगी में गुजरा। बाद में उन्होंने कॉर्नेल यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ इंडस्ट्रियल एंड लेबर रिलेशंस से इंडस्ट्रियल एंड लेबर रिलेशन में साइंस में ग्रेजुएशन पूरा किया। फिर 2000 में न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ लॉ से ज्यूरिस डॉक्टर की डिग्री ली।

विजया और उनकी टीम तय करती हैं कि कंटेंट को कैसे मॉडरेट किया जाए। इसकी वजह से वो हमेशा ही राइट विंग के निशाने पर रहीं।
विजया और उनकी टीम तय करती हैं कि कंटेंट को कैसे मॉडरेट किया जाए। इसकी वजह से वो हमेशा ही राइट विंग के निशाने पर रहीं।

ट्विटर से जुड़े एक दशक से ज्यादा हो गया

विजया ने साल 2011 में ट्विटर के साथ काम करना शुरू किया था। तब से वो ट्विटर के पॉलिसी, सेफ्टी, लीगल और सेंसिटव मामलों को हैंडल करती आ रही हैं। उससे पहले वो सिलिकॉन वैली में एक लॉ फर्म के लिए काम करती थीं। इसके अलावा वह सिलिकॉन वैली स्थित टेक्नोलॉजी फर्म जुनिपर नेटवर्क्स के लीगत डिपार्टमेंट की सीनियर डायरेक्टर भी थीं।

ट्रंप के अकाउंट सस्पेंशन के पीछे विजया का हाथ

2020 में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में ट्विटर का खूब उपयोग हुआ। उस वक्त के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ट्विटर पर काफी सक्रिय थे। उनके ट्वीट को लेकर विवाद होते रहता था। कई दफा ट्विटर ने उनके ट्वीट को फैक्ट चेक और सेंसरशिप में डाला। फाइनली एक दिन उनका उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया। कहा जाता है कि इसके पीछे विजया का हाथ था। विजया ने ट्विटर के पूर्व सीईओ जैक डोर्सी को 2020 के प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में पॉलिटिकल ऐड नहीं बेचने के लिए भी मनाया था। ट्रंप का अकाउंट सस्पेंड होने के बाद एलन मस्क ने फ्रीडम ऑफ स्पीच को लेकर ट्वीट किया था।