• Hindi News
  • Women
  • Doctors Advised Mother To Eat Consciously, Tea Will Save From Diabetes, Read Healthbrief

खाने का स्वाद लेता है भ्रूण में पल रहा बच्चा:डॉक्टरों ने मां को दी सोच-समझ कर खाने की सलाह, डायबिटीज से बचाएगी चाय, पढ़ें हेल्थब्रीफ

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नमस्कार,

आप अपनी और अपने परिवार की सेहत का ध्यान बेहतर ढंग से रख सकें, इसके लिए हम ‘वीकली हेल्थ ब्रीफ’ लाए हैं। इसमें आपको मिलेंगे प्रमुख हेल्थ अपडेट्स, महत्वपूर्ण रिसर्च से जुड़े आंकड़े और डॉक्टरों की रेलेवेंट सलाह। इसे मात्र 2 मिनट में पढ़कर आपको सेहत से जुड़ी जरूरी जानकारियां मिलेंगी और आप परिवार का बेहतर ख्याल रख पाएंगी।

1. केरल में सबसे ज्यादा और बिहार में सबसे कम स्वास्थ्य पर खर्च करते हैं लोग

स्वस्थ रहने के लिए नियमित जांच और बीमार पड़ने पर जरूरी इलाज काफी आवश्यक होता है। लेकिन गरीबी की वजह से देश की एक बड़ी आबादी स्वास्थ्य पर जरूरी खर्च नहीं कर पाती है। ‘नेशनल हेल्थ अकाउंट्स’ की रिपोर्ट के अनुसार देश में केरल में प्रति व्यक्ति स्वास्थ्य खर्च सबसे अधिक है, जबकि बिहार में सबसे कम है।

2. डायबिटीज के खतरे को कम करेगी ब्लैक-ग्रीन और ऊलोंग टी; शोध में दावा

हाल के वर्षों में भारत में टाइप-2 डायबिटीज के मामले तेजी से बढ़े हैं। बड़ी संख्या में युवा और बच्चे भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। अब एक नई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि चाय पीना टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को कम कर सकता है। लेकिन इसके लिए आपको दूध और चीनी वाली नहीं बल्कि ये ग्रीन टी, ब्लैक टी और ऊलोंग टी पीनी पड़ेगी। चीन के वुहान यूनिवर्सिटी की रिसर्च के मुताबिक इन चायों को नियमित पीने से टाइप-2 डायबिटीज का खतरा 17% तक कम हो सकता है।

'ऊलोंग' चीन और जापान में पी जाने वाली पारंम्परिक चाय है। इसे कैमेलिया साइनेन्सिस नाम के पौधे की पत्तियों से तैयार किया जाता है। काफी हेल्दी होने के चलते अब यह चाय दुनिया भर में लोकप्रिय हो रही है।
'ऊलोंग' चीन और जापान में पी जाने वाली पारंम्परिक चाय है। इसे कैमेलिया साइनेन्सिस नाम के पौधे की पत्तियों से तैयार किया जाता है। काफी हेल्दी होने के चलते अब यह चाय दुनिया भर में लोकप्रिय हो रही है।

3. अखरोट खाने से हार्ट की बीमारियों से मिल सकता है छुटकारा

अखरोट को लंबे समय से लोग अच्छी सेहत के लिए खाते रहे हैं। नई रिसर्च बताती है कि रोजाना अखरोट खाने वाले लोग हार्ट रिलेटेड बीमारियों और डायबिटीज के खतरे से काफी हद तक बचे रहते हैं। साथ ही रिसर्च में यह पाया गया कि रोजाना अखरोट खाने वाले लोग ज्यादा एक्टिव रहते हैं और लंबा जीवन भी जीते हैं। नेशनल हार्ट, लंग एंड ब्लड इंस्टीट्यूट की इस रिसर्च में अखरोट का सेवन करने वाले विभिन्न एज ग्रुप के लोगों की सेहत को मॉनिटर किया गया। जिसके बाद रिसर्चर्स इस नतीजे पर पहुंचे।

4. कोविड के बाद बुजुर्गों में बढ़ा गया है अल्जाइमर का खतरा

दुनिया भर में अब तक लगभग 61 करोड़ लोग कोविड से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 59 करोड़ से ज्यादा इससे उबर भी चुके हैं। कोविड से उबर चुके लोगों में अलग-अलग तरह की स्वास्थ्य समस्याएं भी देखी जा रही हैं। अब एक नए शोध में पाया गया है कि कोविड संक्रमण झेल चुके बुजुर्गों में अल्जाइमर का खतरा बढ़ गया है। 'जर्नल ऑफ अल्‍जाइमर्स डिजीज' में पब्लिश इस रिसर्च के मुताबिक ऐसे बुजुर्गों में अल्जाइमर का खतरा 50 से 80% तक बढ़ जाता है।

5. मां के खाये खाने का स्वाद भ्रूण में पल रहे बच्चे को भी मिलता है

प्रेग्नेंट महिलाएं जो कुछ भी खाती हैं, उसका सीधा स्वाद गर्भ में पल रहे बच्चे को भी मिलता है। इस स्वाद से बच्चे का मूड भी बदलता है। 'सेज जर्नल' में पब्लिश रिसर्च में बताया गया है कि जब मां ने गाजर खाया तो भ्रूण में पल रहा बच्चा मुस्कुराने लगा। वहीं जब मां ने साग खाया तो बच्चे ने रोने जैसा चेहरा बना लिया। रिसर्च में बताया गया है कि शुरुआत से ही भ्रूण में स्वाद को समझने और वैसा रिएक्ट करने की क्षमता होती है। इस रिसर्च के सामने आने के बाद डॉक्टरों ने मांओं को सोच-समझ कर खाने की सलाह दी है।

आप इस हेल्थ ब्रीफ को शेयर भी कर सकती हैं…

खबरें और भी हैं...