• Hindi News
  • Women
  • Farmani Naaz | Har Har Shambhu Bhajan Singer On Her Married Life

हर-हर शंभू गाने वाली फरमानी नाज दोबारा नहीं करेंगी शादी:पति पीटता था-छोड़ा घर, गुनगुनाते हुए किसी ने देखा तो बना दिया सिंगर

नई दिल्ली13 दिन पहलेलेखक: दीप्ति मिश्रा
  • कॉपी लिंक

हर लड़की के लिए शादी शब्द...सपनों की दुनिया होती हैं, जहां उसके सपनों का राजकुमार उसे रानी बनाकर ले जाता है, लेकिन मेरे सपनों के राजकुमार ने मुझे दासी नहीं, बल्कि उससे भी जिल्लत भरी जिंदगी दी। प्यार के बदले प्यार नहीं, छोटी-छोटी बात पर गाली-गलौज, मारपीट और घर से निकाले जाने की धमकी मिली। घर से निकली, उस वक्त मेरा बेटा भी मेरे पास था, लेकिन पति और सास-ससुर ने फिर कभी हमारी सुध नहीं ली। शादी मेरे लिए एक खौफनाक सपना साबित हुई, इसलिए मैं दोबारा नींद में भी शादी के बारे में सोचना नहीं चाहती हूं। यह कहना है सावन में हर-हर शंभू भजन गाकर सुर्खियों में आईं गायिका फरमानी नाज का।

24 साल की फरमानी नाज ने वुमन भास्कर से बातचीत में बताया, ‘मुजफ्फरपुर के गांव मोहम्मदपुर में पैदा हुई, यहीं पली-बढ़ी। छह भाई-बहनों में मैं चौथे नंबर की हूं। गांव के ही स्कूल से 8वीं पास किया। साल 2018 में 19 साल की हुई थी कि घर वालों ने शादी कर दी। आम लड़कियों की तरह मैंने भी ढेर सारे सपनों के साथ ससुराल में कदम रखा था, लेकिन जल्द पता चला कि मेरे सपनों की हकीकत बेहद खौफनाक है। मेरे पति की जिंदगी में कोई और महिला है। मैंने उन्हें समझाने, उनसे बात करने की कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। गाली-गलौज और मारपीट तो जैसे दिनचर्या का हिस्सा बन चुके थे। पति समेत पूरे परिवार ने कभी मुझे इज्जत नहीं दी। दो शब्द प्यार से नहीं बोले। खैर, उस घर में यह सिर्फ मेरे साथ नहीं, बल्कि सभी महिलाओं के साथ यही होता था।'

एक महीने के बेटे के साथ ससुराल छोड़ दी
फरमानी बताती हैं, 'उन्हीं दिनों मैं एक बेटे की मां बन गई, लेकिन मेरा बेटा शारीरिक तौर पर स्वस्थ्य नहीं था। उसके नाक और मुंह का एक ही छेद था। बेटे को देखने के बाद से ससुराल वालों ने मुझे टाॅर्चर करना शुरू कर दिया। मुझ पर मायके से दहेज में मोटी रकम मांगने के लिए दबाव बनाया जाने लगा। मेरे मायके वाले मेहनत-मजदूरी कर जैसे-तैसे अपना गुजारा कर पा रहे थे। उनके पास मुझे देने के लिए रुपए नहीं थे। इसके चलते मुझे जिल्लत भरी जिंदगी जीनी पड़ रही थी, लेकिन एक दिन मेरे सब्र का बांध टूट गया। मैं अपने एक महीने के बेटे को लेकर मायके आ गई।

अपने बेटे के साथ गायिका फरमानी नाज। फरमानी का बेटा अभी 3 साल का है और पूरी तरह ठीक है।
अपने बेटे के साथ गायिका फरमानी नाज। फरमानी का बेटा अभी 3 साल का है और पूरी तरह ठीक है।

बच्चे के लिए दूध और इलाज के लिए नहीं थे पैसे
फरमानी बताती हैं, 'मायके की माली हालत ठीक नहीं थी। शुरुआत में जो एक-दो गहने थे, उनको बेचकर अपना और बेटे का पेट पालने की कोशिश की, लेकिन जल्द ही मेरे पास बेटे के दूध के लिए भी पैसा नहीं बचा। ससुराल से किसी ने खैर-खबर तक नहीं ली। पति ने मुझे तलाक दिए बगैर ही दूसरी शादी कर ली। मैं बेहद बुरे दौर से गुजर रही थी। इस बीच, मेरे ताऊ का बेटा भूरा ढोलक एक यूट्यूब चैनल के लिए गाने रिकॉर्ड करता था। एक रोज उसने मुझे गुनगुनाते सुन लिया और गाना गाने का प्रस्ताव दिया। आवाज अच्छी है, इसलिए स्कूल में गीत गाती। मोहल्ले, पड़ोस की शादियों में सबको नज्म सुनाती, लेकिन कभी सिंगर बनने के बारे में नहीं सोचा था।'

ऐसे मिला मौका और फिर बदल गई जिंदगी
भूरा ढोलक से प्रस्ताव मिलने के बाद फरमानी की मां ने यूट्यूब चैनल चलाने वाले राहुल मुलहेड़ा से बातचीत की। उन्होंने राहुल से कहा, ‘मेरी बेटी अच्छा गाती है, लेकिन वह फ्री में काम नहीं कर पाएगी। उसे पैसों की बहुत जरूरत है।’ राहुल ने पहले फरमानी की आवाज सुनी और फिर उसे 25 हजार रुपए प्रतिमाह सैलरी पर अपने यहां रख लिया। साथ ही बच्चे के इलाज का पूरा खर्च और उसके दूध का अलग से पैसा देने का भी वादा किया।

तीन दिन में 10 लाख व्यूज
राहुल ने फरमानी नाज का एक गाना रिकॉर्ड किया। जब उस वीडियो को अपने चैनल पर अपलोड किया तो तीन दिन में 10 लाख से ज्यादा व्यूज मिले। इसके बाद कई और गाने भी रिकॉर्ड किए और फरमानी पॉपुलर होती चली गईं। साल 2020 में राहुल ने अपने यूट्यूब चैनल का नाम बदलकर ‘फरमानी नाज सिंगर’ कर दिया। बहुत जल्द चैनल के 10 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हो गए। राहुल ने फरमानी की सैलरी बढ़ाकर 35 हजार रुपए कर दिए। हालांकि, अभी 40 लाख से ज्यादा फाॅलोअर हैं।

फरमानी नाज सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे के बीच गाने रिकाॅर्ड करने और अन्य काम निपटाती हैं। इसके बाद का बचा वक्त अपने बेटे के साथ बिताती हैं।
फरमानी नाज सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे के बीच गाने रिकाॅर्ड करने और अन्य काम निपटाती हैं। इसके बाद का बचा वक्त अपने बेटे के साथ बिताती हैं।

इंडियन आइडियल के मंच पर पहुंची फरमानी
साल 2020 में फरमानी नाज ने मुंबई में कुमार सानू के साथ एक बॉलीवुड सॉन्ग गाने गईं, जिसके लिए उन्हें 45 हजार रुपए भी मिले। इंडियन आइडियल के लिए ऑडिशन दिया, जिसमें फरमानी का सिलेक्शन भी हो गया। फरमानी इंडियन आइडियल के मंच तक पहुंच गईं। वहां पर गाने गाए, लेकिन बेटे की तबीयत बिगड़ने के चलते फरमानी को वापस आना पड़ा। हालांकि, कुछ लोगों और एक संस्था की मदद से फरमानी के बेटे का इलाज हो गया। बेटा ठीक हो गया तो फरमानी ने अपने गाना गाने पर फोकस करना शुरू किया। अब उनका पूरा ध्यान वीडियो रिकाॅर्ड पर है।

अब राहुल और बड़े भाई के साथ है पार्टनरशिप
राहुल ने ‘नाज भक्ति, नाज नज्म और नाज म्यूजिक’ नाम से तीन और यूट्यूब चैनल बनाए। इन तीनों चैनल में राहुल, फरमानी और उनका बड़ा भाई फरमान तीनों पार्टनर हैं। राहुल और फरमानी समेत कुल आठ लोग हैं, जिनमें तीन सिंगर, एक एडिटर व अन्य स्टाफ है। बाकी लोगों की सैलरी और अन्य खर्च निकाल कर जो भी कमाई बचती है, वो तीन के बीच शेयर होता है। अब उनकी आर्थिक हालत भी सुधरने लगी है। फरमानी ने जब भक्ति चैनल के लिए भजन हर हर शंभू गया तो वह वायरल हो गया। उलेमाओं ने उन्हें धमकी दी, जिसे फरमानी ने तवज्जो नहीं दी। फरमानी ने कहा कि जब मुझे ससुराल से निकाल दिया गया। पति ने तलाक दिए बगैर ही दूसरी शादी कर ली। मैं और मेरा बेटा दो वक्त भर पेट खाना नहीं खा पा रहे थे, तब तो कोई मदद को आगे नहीं आया। तब किसी ने मुझे ढांढस नहीं बंधाया। लोगों का क्या है, लोग तो कुछ न कुछ बोलते ही रहते हैं।

राहुल मुलहेड़ा की मदद से फरमानी ने इंडियन आइडियल 2020 के लिए भी ऑडिशन दिया और सेलेक्ट भी गई थीं, लेकिन बेटे की वजह से उन्हें लौटना पड़ा।
राहुल मुलहेड़ा की मदद से फरमानी ने इंडियन आइडियल 2020 के लिए भी ऑडिशन दिया और सेलेक्ट भी गई थीं, लेकिन बेटे की वजह से उन्हें लौटना पड़ा।

मेरे लिए शादी खौफनाक सपना, जिसे नींद में भी देखना नहीं चाहती
अभी उम्र सिर्फ 24 साल है तो दोबारा शादी के बारे में अभी सोचा या नहीं? इस सवाल के जवाब में फरमानी कहती हैं कि नहीं, फिलहाल तो बिल्कुल भी नहीं। शादी मेरे लिए खौफनाक सपने जैसी रही है। मैं इतने डरावने सपने को फिर से नींद में भी देखना नहीं चाहती। मैं मेरे परिवार और बेटे के साथ खुश हूं। मुझे अपनी सिंगिंग पर फोकस करना है। मैं एक बड़ी सिंगर बनना चाहती हूं। अपनी पहचान बनानी है। अपने बेटे को अच्छी जिंदगी देनी है। अभी एक भाई और एक बहन की शादी नहीं हुई है। मुझे अपने माता-पिता और भाई-बहनों की मदद करनी है।

सुर कोकिला की दीवानी हैं फरमानी
फरमानी को सुर कोकिला लता मंगेशकर के गाने सुनना, गुनगुनाना और गाना बहुत पसंद है। वह गानों की रिकाॅर्डिंग के लिए सुबह 9 से शाम 6 बजे स्टूडियों में व्यस्त रहती हैं। इससे पहले और बाद के समय को अपने बेटे के साथ बिताती हैं।

खबरें और भी हैं...