• Hindi News
  • Women
  • Fled From Britain To Spain, Was Living By Changing Name For 9 Years, One Mistake Led To Jail

9000 करोड़ का फ्रॉड करने वाली कुत्ता टहलाते पकड़ाई:ब्रिटेन से स्पेन भागी, 9 साल तक नाम बदलकर रही, फिर एक चूक ने पहुंचा दिया जेल

सांता बारबरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हजारों करोड़ों का फ्रॉड कर विदेश भाग जाने वाले विजय माल्या और मेहुल चोकसी का नाम तो आपने सुना ही होगा। पर हम यहां बात कर रहे हैं ब्रिटेन की ऐसी महिला के बारे में जिसने वैट (VAT) फ्रॉड के तहत 9000 करोड़ गबन किए और स्पेन भाग गई।

9 साल से स्पेन में रह रही थी मोस्ट वांटेड

हाल ही में ब्रिटेन में 'मोस्ट वांटेड' रही महिला को स्पेन के छोटे कस्बे से पकड़ा गया है। महिला पर 9000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। पिछले 9 साल से वह स्पेन के एक छोटे कस्बे में रह रही थी।

स्पेन से ब्रिटेन लाया जाएगा

जिस समय स्पेन की पुलिस ने महिला को पकड़ा तब वह कुत्ता घुमा रही थी। आने वाले कुछ ही दिनों में महिला को स्पेन से ब्रिटेन वापस प्रत्यर्पण कर दिया जाएगा। प्रत्यर्पण से पहले उन्होंने स्पेन में अपने प्रत्यर्पण पर रोक लगाने की मांग करते हुए कोर्ट में अर्जी भी दी थी।

स्पेन में ही कर ली थी शादी

महिला का नाम साराह पैनित्ज्के है। स्पेन के सिविल गार्ड ने उसे स्पेन के एक छोटे से कस्बे सांता बारबरा में कुत्ते को सैर कराते हुए पकड़ा था। वह यहां पर एक फर्जी पहचान के सहारे रह रही थी। वह पिछले 7 साल से इस जगह पर रह रही थी। यहीं एक शख्स से शादी भी कर ली थी। हालांकि, डॉक्टरों का कहना है कि उस शख्स की जिंदगी लीवर में गंभीर समस्या की वजह से ज्यादा लंबी नहीं है।

फर्जी इटालियन पहचान बताकर रही, स्पेन पुलिस ने पकड़ा

इंग्लैंड के यॉर्कशायर की रहने वाली साराह पैनित्ज्के स्पेन के इस कस्बे में फर्जी इटालियन पहचान और एक अलग नाम एंटोनिएटा आर्गुएलियो से रह रही थी। यही फर्जी पहचान उसके पकड़े जाने की वजह बनी।

सुनाई गई थी 8 साल की सजा

इंग्लैंड में साराह पर अगस्त 2021 में 9 हजार करोड़ रुपये से अधिक के मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप सिद्ध हुआ था, जिसके बाद उन्हें 8 साल की कैद की सजा सुनाई गई।

स्पेन में ही सजा पूरी करने की रखती है चाह

अब स्पेन में पकड़े जाने के बाद साराह ने इसी देश में अपनी सजा पूरी करने की अपील की। लेकिन कोर्ट ने साराह की इस अपील को ठुकरा दिया। उसे ब्रिटेन प्रत्यर्पण करने का फैसला सुनाया।