• Hindi News
  • Women
  • Forbs Report Whether It Is Taking Bold Decisions, Giving Emotional Support To A Colleague Or Leadership Quality, Women Ahead Of Men Everywhere

चुनौतियों से निपटने में महिलाएं बेहतर:बात बोल्ड फैसला लेने की हो, सहकर्मी को इमोशनल सपोर्ट देने की या फिर लीडरशिप क्वालिटी, हर जगह आगे

नई दिल्ली3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फोटो सौजन्य: RODNAE Productions - Dainik Bhaskar
फोटो सौजन्य: RODNAE Productions
  • महिला कर्मचारी मैनेजमेंट का भरोसा ज्यादा जीतती हैं
  • लेडी बॉस अपने कर्मचारियों को इमोशनल सपोर्ट देने में आगे
  • 38 फीसदी लोगों ने माना कि वो महिला बॉस के साथ ज्यादा सहज

कोरोना काल में महिलाओं के लिए नौकरी करना बेहतर चुनौती बनकर उभरा है। वर्क फ्रॉम होम में उन्हें दोहरी चुनौतियों का सामना किया है। इसके बाद भी वो वर्क प्लेस चैंपियन बनकर उभरी हैं। फोर्ब्स की रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में पुरुषों की तुलना में बेहतर लीडरशिप क्वालिटी होती है।

टीम को लीड करने और तनाव झेलने में बेहतर

महिलाएं बेहतर तरीके से टीम को लीड करने में, तनाव को झेलने में, सहकर्मियों के साथ अच्छा बर्ताव करने में बेहतर होती हैं। इसके अलावा भेदभाव के मामलों भी उनके खिलाफ कम शिकायत पाई गईं। मैकेंजी एंड कंपनी और लिनिन डॉट ओरजी ने लगभग 500 कंपनियों के बीच स्टडी की। इसमें सामने आया कि लेडी बॉस अपने कर्मचारियों को इमोशनल सपोर्ट देने में आगे रहती हैं। छुट्टी देने का मामला हो या ऑफिस का माहौल हल्का-फुल्का रखने की बात, इसमें भी महिलाओं को बेहतर रेटिंग मिली है।

माहौल को हल्का बनाए रखती हैं महिलाएं (फोटो क्रेडिट: MART PRODUCTION)
माहौल को हल्का बनाए रखती हैं महिलाएं (फोटो क्रेडिट: MART PRODUCTION)

पुरुषों ने माना- महिला बॉस ज्यादा के साथ कंफर्टेबल

सर्वे में कई पुरुषों ने ये माना कि वो महिला बॉस के साथ काम करने में ज्यादा सहज हैं। रेज्यूमे लैब की स्डटी में 38 फीसदी लोगों ने इस बात को माना कि वो महिला बॉस के साथ ज्यादा सहज होते हैं। वहीं 26 फीसदी ने पुरुष बॉस को बेहतर बताया, जबकि 35 फीसदी लोगों ने कोई चॉइस नहीं बताई। पुरुष और महिला में किसमें लीडरशिप क्वालिटी बेहतर होती है, इस सवाल के जवाब में 38 फीसदी लोगों ने महिला को चुना और 35 फीसदी ने पुरुष को बेहतर बताया।

मैनेजमेंट का भरोसा जीत रही हैं टॉप लेवल की महिला कर्मचारी
मैनेजमेंट का भरोसा जीत रही हैं टॉप लेवल की महिला कर्मचारी

बोल्ड फैसला लेने में नहीं हिचकतीं

इसी तरह जर्मनी की एक यूनिवर्सिटी में हुए शोध में पता चला है कि महिलाएं बोल्ड फैसला लेने में हिचकिचाती नहीं हैं। कपंनियों के रुझान से भी सामने आया कि महिला कर्मचारी मैनेजमेंट का भरोसा ज्यादा जीतती हैं। हालांकि रिपोर्ट में इस बात पर चिंता जताई गई कि इतनी खूबियों के बाद भी वर्क प्लेस पर महिलाओं की संख्या कम है।

अगर महिला आकर्षक नहीं तो चुकानी पड़ती है कीमत

सर्वे में ज्यादातर एरिया में महिलाओं को बेहतर बताया गया है। लेकिन लोगों के मन में महिलाओं के प्रति अब भी कई पूर्वग्रह हैं। जैसे कि स्टडी में ये बात भी सामने आई है कि अगर महिला ऑकर्षक नहीं है तो उस सहकर्मियों का सपोर्ट कम मिलता है। या फिर उनकी मेहनत को भी कम आंका जाता है। हालांकि ऐसा पुरुषों के मामले में नहीं होता है। लीडरशिप क्वालिटी बेहतर होने के बाद भी कई लोगों ने ये कहा कि महिलाएं इमोशनल होकर फैसले लेती हैं, जबकि पुरुष लॉजिकल होते हैं।

खबरें और भी हैं...