• Hindi News
  • Women
  • Google Will Make Indian Girl Students Modern, Giving 75 Thousand Scholarship

टेक्नोलॉजी का है जमाना:भारतीय छात्राओं को आधुनिक बनाएगा गूगल, दे रहा 75 हजार की स्कॉलरशिप

नई दिल्ली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और नई-नई टेक्नोलॉजी आने से दुनिया काफी तेजी से आगे बढ़ रही है। आईटी सेक्टर में महिलाओं के बेहतर भविष्य के लिए भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर में कई तरह की पहल की जा रही है। हाल ही में गूगल कंपनी ने खास लड़कियों के लिए 'जनरेशन गूगल' स्कॉलरशिप प्रोग्राम शुरू किया है। इसके तहत छात्राओं को कंप्यूटर साइंस का कोर्स पूरा करने के लिए एक हजार डॉलर यानी करीब 75,000 रुपये की स्कॉलरशिप दी जाएगी। इससे छात्राओं को फीस में राहत मिलेगी और ज्यादा से ज्यादा पेरेंट्स अपनी बेटियों को कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कराने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

लेटर लिखकर बताना होगा क्यों चाहिए स्कॉलरशिप
ये स्कॉलरशिप प्रोग्राम दुनियाभर की लड़कियों को टेक्निकल कोर्स की पढ़ाई के लिए प्रेरित करने के लक्ष्य से शुरू किया गया है। जिसे पाने के लिए छात्राओं को कुछ पैमाने को पार करना होगा। सिर्फ वहीं छात्राएं इसके लिए आवेदन कर सकती हैं, जिन्होंने 2021-22 सत्र के लिए कंप्यूटर साइंस और कंप्यूटर इंजीनियरिंग या इससे जुड़े टेक्निकल कोर्स में एडमिशन लिया है। ये छात्राएं ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और पीएचडी स्कॉलर भी हो सकती हैं। इसी के साथ स्कॉलरशिप प्रोग्राम पूरा करते समय वे अपने कोर्स के दूसरे वर्ष में होनी चाहिए। छात्राओं के स्कूल और कॉलेज के एग्जाम में अच्छे नंबर होने चाहिए, यानी अच्छा अकादमिक रिकॉर्ड होना जरूरी है। आवेदन करते समय छात्राओं को अंग्रेजी में एक लेख लिखकर ये भी बताया होगा कि उन्हें कंप्यूटर साइंस के बारे में कितनी जानकारी है। इंडस्ट्री में ऐसे क्या कदम उठाए जा सकते हैं जिससे कंप्यूटर साइंस और टेक्नोलॉजी की फील्ड में कम दिखने वाले काम को भी अच्छे से प्रदर्शित किया जा सके।

इन पांच सवालों के देने होंगे जवाब, तब मिलेगी स्कॉलरशिप
छात्राओं को अपने लेख में इस तकनीक की जरूरत को समझाते हुए इन सवालों का जवाब देकर लेख पूरा करना होगा।
1 - कंप्यूटर साइंस कोर्स में दिलचस्पी कैसे आई? जब इस कोर्स को चुना तो मन में क्या लक्ष्य था?
2 - कंप्यूटर साइंस की फील्ड में अब तक किस प्रोजेक्ट और रिसर्च में काम किया है। उस प्रोजेक्ट में क्या तकनीकी दिक्कतें आई और उसका समाधान कैसे निकाला? प्रोजेक्ट से आपने क्या सीखा?
3 - छात्राओं को अपने अंदर की लीडरशिप क्वालिटी के बारे में बताना होगा। इसके लिए वे कोई उदाहरण भी ले सकती हैं।
4 - तकनीकी क्षेत्र में महिलाओं को किस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है? इसे दूर करने के लिए क्या कदम उठाए जा सकते हैं, इसमें छात्राओं को अपनी भागीदारी भी बतानी होगी।
5 - इस स्कॉलरशिप से छात्रा की पढ़ाई पर कैसे असर पड़ेगा? उन्हें इसकी जरूरत क्यों है और ये स्कॉलरशिप उनके किन शैक्षिक लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करेगी।

10 दिसंबर तक कर सकेंगी आवेदन, ऐसे करें अप्लाई
छात्राएं जनरेशन गूगल स्कॉलरशिप के लिए 10 दिसंबर तक ही आवेदन कर सकती हैं। इसके लिए उन्हें गूगल पर बिल्ड योर फ्यूचर सर्च कर https://buildyourfuture.withgoogle.com/scholarships/generation-google-scholarship-emea/ साइट पर पहुंचना होगा। यहां ऑनलाइन सारी जानकारी देकर छात्राएं आराम से आवेदन कर सकती हैं।

इन जरूरी डॉक्यूमेंट को तैयार रखें
स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन करते समय छात्राओं को एक रेज्यूमे, कॉलेज की रसीद और प्रोफेसर या सुपरवाइजर का रेफरेंस लेटर अपलोड करना होगा।

खबरें और भी हैं...