• Hindi News
  • Women
  • Mother in law Is Also Troubled By Daughter in law, Somewhere Beating, Somewhere Injuring Mother in law By Stabbing Her In The Stomach

बहू के ताने और सताने से सास परेशान:कहीं मारपीट तो कहीं चाकू घोंपने की घटनाएं, रिश्तों के लिए वक्त नहीं होने से बिगड़ रहे हालात

नई दिल्ली4 महीने पहलेलेखक: राधा तिवारी
  • कॉपी लिंक

सास-बहू का रिश्ता खट्टा-मीठा होता है, लेकिन कई बार दोनों के बीच ऐसी बातें हो जाती हैं, जो रिश्ते बिगाड़ देती हैं। पहले कहा जाता था कि मायके में अच्छे दिन बिता लो फिर तो ससुराल में जाकर सास के ताने ही सुनने हैं। ऐसे केस सामने आते थे जिनमें बहू अपनी सास और ननद की शिकायत करती थी। अब ऐसे केस सामने आ रहे हैं कि बहू से परेशान होकर सास शिकायतें कर रही हैं और उन पर केस कर रही हैं। ताजा मामला राजस्थान के अलवर का है जहां सास-बहू के झगड़े में बहू ने सास के पेट में चाकू घोंप दिया, जिससे सास को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

अब बहू की किटकिट से सास परेशान
सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस करने वाले वकील विशाल तिवारी कहते हैं कि घरेलू हिंसा को लेकर हर रोज कई केस आते हैं। इनमें से कई मामले झूठे भी होते हैं। कई बार लड़की के रिश्ते उसके मायके वालों के हस्तक्षेप से खराब हो जाते हैं। लेकिन अब कई मामलों में सास और उनका बेटा भी अपनी पत्नी से परेशान होकर केस कर रहे हैं। कुछ दिन पहले एक केस भरतपुर के कोर्ट में आया था, जिसमें मामला यह था कि बहू अपने घर की अकेली लड़की थी। उसका कहना था कि उसका पति अपने मां-बाप को छोड़कर लड़की के पेरेंट्स के साथ रहे। इस बात को लेकर झगड़े बढ़ते गए, बात हाथापाई तक पहुंच गई। लड़की ने अपने सास ससुर के साथ रहने से मना कर दिया।

10 साल से लटका पड़ा है मामला
वकील विशाल तिवारी के मुताबिक, ऐसा ही केस राजस्थान के जयपुर का है जहां पत्नी का एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का शक होने पर जब पति ने उसका फोन चेक करना चाहा तो उसने अपने पति और सास पर हमला कर दिया। उन दोनों के मुंह और नाक बुरी तरीके से नोंच डाले। इसके बाद जब बात ज्यादा बढ़ गई तो मामला हाई कोर्ट तक पहुंच गया। पत्नी किसी भी हालत में तलाक देने को तैयार नहीं है और वह अपनी गलती भी नहीं मानती और वह हर दिन अपने पति और सास को टॉर्चर करती है। मामला 10 साल से कोर्ट में चल रहा है।

सास घर में रहती है तो मेड की क्या जरूरत
ऐसा ही केस हरियाणा के गुरुग्राम का है जहां एक बहू का अपनी सास के साथ मारपीट करने का वीडियो वायरल हुआ था। इस दौरान घर के कुछ सदस्यों के मौजूद होने के बावजूद गुस्से से भरी बहू अपनी सास पर थप्पड़ बरसा रही थी। इस झगड़े की वजह घर में मेड रखने को लेकर अनबन बताई गई। जानकारी के मुताबिक, बुजुर्ग सास काफी समय से घर का सारा काम करती है। जबकि बुजुर्ग का बेटा भी कामवाली रखने के पक्ष में है, लेकिन बहू मेड रखने के पक्ष में नहीं है। उसको लगता है कि अगर सास घर में रहती है तो वह भी काम करे।

रिश्तों के लिए वक्त नहीं है लोगों के पास
दिल्ली की मनोचिकित्सक आरती दुग्गल कहती हैं कि शादी के बाद लड़कियों की जिंदगी पूरे तरीके से बदल जाती है। शादी के बाद एक महिला के लिए सबसे ज्यादा चैलेंजिंग काम होता है, अपने ससुराल वालों से अच्छे रिश्ते बनाना। कई बार सास की कही कुछ टिपिकल बातें उसे बुरी तरह हर्ट कर जाती हैं। चाहे ये बातें जानबूझकर कही गई हों या अनजाने में। पहले लोग ज्वॉइंट फैमिली में रहते थे। वे अपने परिवार में यह देखते आते थे कि किस तरह उनकी मां या दादी ने सामंजस्य बैठाया, लेकिन अब समय के साथ लोग न्यूक्लियर फैमिली में रहते हैं, यहां ज्यादातर लोग जॉब करते हैं। किसी के पास इतना समय नहीं होता कि रिश्तों पर बैठकर बातें करें।

टॉक्सिक बातों से न हों रिश्ते खराब
देहरादून की काउंसलर अदिती विश्वास कहती हैं कि हर कोई अपनी शादी को लेकर बहुत खुश रहता है और शादीशुदा जीवन के लिए कई कल्पनाएं करता रहता है। शादी के बाद अक्सर देखा जाता है कि सास-बहू के बीच के ज्यादातर रिश्ते खराब ही रहते हैं। शादी के बाद लड़की को अच्छी फैमिली न मिले तो जिंदगी में हर रोज की परेशानी खड़ी होना आम बात हो जाती है। ये कहना गलत होगा कि सारे इन-लॉज बुरे होते हैं, क्योंकि आपके आसपास ही आपको ऐसे कई परिवार मिल जाएंगे, जहां बहू को बेटी की तरह प्यार मिलने के बाद भी उसके रिश्ते ससुराल वाले के साथ खराब ही रहते हैं।

हालांकि, कुछ लड़कियां इस मामले में लकी नहीं होतीं और उम्मीद से उलट उन्हें टॉक्सिक सास-ससुर मिल जाते हैं, जो अपने ही बहू-बेटे के रिश्ते में दरार डालने का काम करते हैं। मेंटल से लेकर इमोशनल लेवल पर इसका असर होता दिखता है, जो रिश्ते को खोखला करना शुरू कर देता है। इसके लिए जरूरी है कि आपसी तालमेल से रिश्ते सही रखें।

खबरें और भी हैं...