• Hindi News
  • Women
  • Russian Spy Was Told In A 73 year old Mystery, Another Case Solved After 40 Years Of Woman's Murder

अमेरिकी महिला ने सुलझाया 'सोमर्टन मैन' की मौत का रहस्य:73 साल पुरानी गुत्थी में बता दिया था रूसी जासूस, ब्रिटिश महिला की हत्या का 40 साल बाद सुलझा एक और केस

मेलबर्न/लंदन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वर्ष 1948 में ऑस्ट्रेलिया के एक समुद्री तट पर दलदली क्षेत्र में एक आदमी का शव मिला जो कि अच्छी तरह से कपड़े पहने हुए था । लेकिन 73 साल बीत जाने के बाद भी वह कौन था यह पता नहीं चल पा रहा था। इस दौरान उसे 'सोमर्टन मैन' की संज्ञा दी जाने लगी। वह रूसी खुफिया एजेंट भी मान लिया गया।

रूसी एजेंट नहीं वह था इलेक्ट्रिकल इंजीनियर

लेकिन एक रिसर्चर ने अमेरिकी महिला एक्सपर्ट की मदद से हाल ही में दावा किया है कि उसने 'सोमर्टन मैन' की गुत्थी को सुलझा लिया है। रिसर्चर के मुताबिक, वह कोई रूसी एजेंट नहीं था बल्कि वह तो मेलबर्न में जन्मा एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर था। हालांकि साउथ ऑस्ट्रेलिया पुलिस ने इस पर अभी कोई टिप्पणी नहीं की है।

नहीं मिली थी कोई आईडी

1 दिसंबर 1948 को एडिलेड में सोमर्टन बीच पर टहलने वाले लोगों को एक व्यक्ति की बॉडी मिली। वह व्यक्ति कोट-पेंट और टाई पहने हुए था और उसकी उम्र करीब 40 से 50 साल के बीच होगी। वह करीब 5 फीट 11 इंच लंबा था। उसकी ग्रे-नीली आंखें और जिंजरी-ब्राउन बाल थे।

जांचकर्ता 'सोमर्टन मैन' की जेब से मिले पेपर पर लिखे इन शब्दों को नहीं पढ़ पाए थे।
जांचकर्ता 'सोमर्टन मैन' की जेब से मिले पेपर पर लिखे इन शब्दों को नहीं पढ़ पाए थे।

उसकी जेब से ट्रेन और बस के टिकट, चुइंगम, माचिस, दो कंघे और एक सिगरेट का पैकेट मिला। इसके अलावा न कोई पर्स था न कैश और न ही कोई आईडी। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, एक आधी जली हुई सिगरेट उसके कॉलर पर पड़ी हुई थी, और उसकी जेब में एक फारसी कविता के अंतिम शब्दों के साथ एक किताब में एक युद्धकालीन कोड लिखा हुआ था। इस सबने दशकों तक अटकलें लगाईं कि वह आदमी एक जासूस था। कागज के फटे टुकड़े पर फारसी शब्द "तमम शुद" थे, जिसका अंग्रेजी में अर्थ है "यह समाप्त हो गया"।

पिछले साल मई में फिर से अवशेषों पर विश्लेषण हुआ

ऑस्ट्रेलियाई पुलिस को दुनिया भर में उसकी उंगलियों के निशान भेजने के लिए मजबूर होना पड़ा, लेकिन कोई भी उसे पहचान नहीं सका। न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, मामले को सुलझाने के लिए पिछले साल मई में उसके अवशेषों को निकाला गया था।

अमेरिकी महिला एक्सपर्ट ने दिलाई कामयाबी

इस पर शोध कर रहे एडिलेड विश्वविद्यालय के डेरेक एबॉट ने कहा कि शरीर कार्ल "चार्ल्स" वेब का था, जो 1905 में मेलबर्न में पैदा हुए एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे। अभी तक यह केस ऑस्ट्रेलिया के सबसे कुख्यात मामलों में से एक रहा है। डेरेक एबॉट ने 'सोमर्टन मैन' के बालों का डीएनए लेकर इस गुत्थी को सुलझाने में कामयाबी हासिल की। डेरेक प्रसिद्ध अमेरिकी फोरेंसिक विशेषज्ञ कोलीन फिट्ज़पैट्रिक के पास पहुंचे जो कि इस तरह के मामलों का पता लगाने में माहिर रही हैं।

प्रसिद्ध अमेरिकी फोरेंसिक विशेषज्ञ कोलीन फिट्ज़पैट्रिक का रहस्यमय तरीके मिले शवों का विश्लेषण करने में लंबा अनुभव रखती हैं।
प्रसिद्ध अमेरिकी फोरेंसिक विशेषज्ञ कोलीन फिट्ज़पैट्रिक का रहस्यमय तरीके मिले शवों का विश्लेषण करने में लंबा अनुभव रखती हैं।

6 भाई बहनों में सबसे छोटा था कार्ल वेब

दोनों की खोज में 4,000 नाम आए। आखिरकार उन्होंने कार्ल वेब के रूप उसकी पहचना को सुनिश्चित किया। एबॉट ने यह भी दावा किया कि उन्होंने कार्ल वेब की पहचान की पुष्टि करने के लिए उसके रिश्तेदारों को ट्रैक किया है। पता चला है कि कार्ल वेब अपने 6 बहन-भाईयों में से सबसे छोटा था और उसने डोरोथी रोबर्ट्सन से शादी की थी जिसे डॉफ वेब के नाम से जाना जाता था।

ब्रिटेन में 40 साल पहले गायब हो गई थी महिला, अब जाकर सुलझा केस, पति निकला हत्यारा

सुअर पालन का काम करने वाले डेविड वेनेबल्स ने दूसरी महिला से संबंधों के चलते अपनी बीवी को ही मार दिया। 89 साल के किसान डेविड वेनेबल्स पर बीवी की हत्या का आरोप है। इस केस की एक ब्रिटिश कोर्ट में सुनवाई हो रही है।

सुनवाई के दौरान जज इस बात से हैरान रह गए कि कोई शख्स ऐसा भी है, जो अपनी बीवी को मारकर उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करा दे और 40 साल तक कुछ भी न बताए।

मां की केयरटेकर को दे बैठा था दिल

डेविड पर आरोप है कि उसने अपनी बीवी को मारकर सैप्टिक टैंक में छिपा दिया जो कि वोर्केस्टरशायर से ज्यादा दूर नहीं है।

डेविड ने अपने से एक साल छोटी बीवी को उस दौरान मार दिया था जब वह 49 साल का था।
डेविड ने अपने से एक साल छोटी बीवी को उस दौरान मार दिया था जब वह 49 साल का था।

सुअर पालन का काम करने वाला डेविड किसी और महिला के साथ संबंध रखने लगा था। बात साल 1982 की है जब डेविड ब्रिटेन के वोर्केस्टरशायर में अपनी पत्नी वेनेबल्स के साथ रहता था।

कोर्ट में प्रॉसिक्यूटिंग करते हुए मिशेल बरो ने दाबा किया कि डेविड के एक महिला से विवाहेत्तर संबंध थे। वह महिला कोई और नहीं बल्कि डेविड की मां की देखभाल करने वाली लॉरेन स्टाइल्स थी।

पहले बीवी को मारा फिर गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई

बरो ने आगे कहा- लॉरेन के साथ संबंधों के चलते डेविड अपनी वीबी को रास्ते से हटाना चाहता था। डेविड ने अपनी पत्नी की हत्या कर शव सैप्टिक टैंक में छिपाया और फिर खुद ही पुलिस स्टेशन में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट भी लिखा दी।

फार्म का सैप्टिक टेंक (लाल गोला) और जहां पर अब वेनेबल्स रहता है (सफेद गोला)
फार्म का सैप्टिक टेंक (लाल गोला) और जहां पर अब वेनेबल्स रहता है (सफेद गोला)

पुलिस ने कई साल तक जांच की पर ब्रेंडा वेनबल्स का कहीं कोई सुराग नहीं मिला। इसी दौरान यह माना जाने लगा कि ब्रेंडा ने आत्महत्या कर ली है।

भतीजे को बेचा फार्म तो राज से पर्दा उठा

साल 2019 आते-आते डेविड वेनेबल्स ने अपने भतीजे को फार्म बेच दिया। इसी साल जुलाई में कॉन्ट्रेक्टर्स सेप्टिक टैंक की सफाई करने आए तो उन्हें टैंक में इंसान की हडि्डयां और खोपड़ी मिली।

इसके बाद राज से पर्दा उठाने के लिए डीएनए टेस्ट किया गया तो पाया कि सभी अवशेष ब्रेंडा वेनेबल्स के हैं।

हालांकि, डेविड ने इस तरह की किसी भी हत्या को सिरे से नकार दिया है।

खबरें और भी हैं...