• Hindi News
  • Women
  • Salauddin Ayyubi Is Not Our Hero Says Pakistani Veteran Star Iffat Omar PM Imran Khan

पाकिस्तानी एक्ट्रेस इमरान से खफा:सलाहुद्दीन अय्यूबी पर टीवी सीरीज बनाने को लेकर इफ्फत बोलीं- तुर्की हमारा इतिहास नहीं, साइंस पढ़ें और पढ़ाएं

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पाकिस्तान की दिग्गज स्टार इफ्फत उमर अपने मन की बात कहने के लिए सुर्खियों में रहती हैं। वह मुखर रहने के लिए जानी जाती हैं। चाहे मौजूदा सरकार पर उनकी आलोचना हो, अथवा सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल करने का मसला। इफ्फता उमर अक्सर अपनी बेबाकी को लेकर आलोचकों के निशाने पर रहती हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि उन्हें अपने बयानों पर कोई पछतावा नहीं है।

बहरहाल, आधी दुनिया पर राज करने वाले सुल्तान सलाहुद्दीन अय्यूबी पर टीवी सीरीज को लेकर पाकिस्तान और तुर्की के बीच हुए करार से इफ्फता उमर नाराज हैं। इफ्फत उमर ने कहा कि सुल्तान सलाहुद्दीन अय्यूबी हमारे हीरो नहीं हैं। उनके इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी काफी नाराज नजर आए।

इफ्फता उमर अक्सर अपनी बेबाकी के कारण निशाने पर रहती हैं, वह अक्सर पाकिस्तान सरकार की नीतियों की आलोचना करती रहती हैं
इफ्फता उमर अक्सर अपनी बेबाकी के कारण निशाने पर रहती हैं, वह अक्सर पाकिस्तान सरकार की नीतियों की आलोचना करती रहती हैं

प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी सत्ताधारी पार्टी की कटु आलोचक इफ्फत उमर ने कहा कि वह पाकिस्तान को घुटने के बल लाने को लेकर क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान के रवैये से दुखी हैं। हालांकि, उन्होंने साफ कर दिया कि वह मौजूदा सरकार की खामियों को उजागर कर रही हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि वह देश के किसी अन्य राजनीतिक दल का समर्थन करती हैं।

सरकार की खामियां बताती हूं
द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक इफ्फत उमर ने कहा, "अगर मैं मौजूदा सरकार की खामियां बताती हूं, तो इसका कतई यह मतलब नहीं है कि मैं विपक्ष का समर्थन करती हूं। अगर मैं इमरान खान की कमियों को लेकर उनकी आलोचना करती हूं, तो इसका मतलब यह नहीं है कि मैं खुद को किसी अन्य राजनीतिक दल से जोड़ रही हूं।'

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस नई क्रांति है

पाकिस्तान सही दिशा में क्यों नहीं जा रहा है? इस सवाल पर अफसोस जताते हुए इफ्फत उमर ने कहा, "यदि संबंधित विभाग अन्य विभागों के कामों में हस्तक्षेप करते रहेंगे, तो हम कभी भी कामयाबी हासिल नहीं कर पाएंगे। हमें शांति की जरूरत है, हमें एजुकेशन को बढ़ावा देने की आवश्यकता है, हमें साइंस के रास्ते पर चलने की दरकार है। अगले 30 वर्षों में टेक्नोलॉजी सब कुछ होगी। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस नई क्रांति है।"

पाकिस्तान में एक भी गणितज्ञ, वैज्ञानिक नहीं है जो दुनिया भर में जाना जाता हो, हमें दूसरों का इतिहास के बजाय साइंस पढ़ने और पढ़ाने की जरूरत है
पाकिस्तान में एक भी गणितज्ञ, वैज्ञानिक नहीं है जो दुनिया भर में जाना जाता हो, हमें दूसरों का इतिहास के बजाय साइंस पढ़ने और पढ़ाने की जरूरत है

असल में, इमरान खान सरकार सुल्तान सलाहुद्दीन अय्यूबी पर आधारित तुर्की के लोकप्रिय टीवी सीरीज को प्रसारित करके इस्लामी इतिहास को बढ़ावा दे रही है। इससे जुड़े सवाल पर इफ्फत उमर ने हाथ जोड़कर कहा, "उन्होंने (तुर्कों) ने हम पर आक्रमण किया। इसे समझें। हमें काल्पनिक पात्रों की आवश्यकता नहीं है, हमें वैज्ञानिकों की कहानियां बताने, पढ़ाने और दर्शकों को दिखाने की आवश्यकता है। पाकिस्तान में एक भी गणितज्ञ, वैज्ञानिक नहीं है जो दुनिया भर में जाना जाता हो।"

सलाउद्दीन अय्यूबी हमारे हीरो नहीं- इफ्फत उमर
सलाउद्दीन अय्यूबी पर आने वाली सीरीज को लेकर पाक-तुर्की के एक करार के बारे में पूछे जाने पर इफ्फत उमर ने "वह (सलाउद्दीन अय्यूबी) हमारे हीरो नहीं हैं। देश गठन के बाद से पाकिस्तानियों को यही बताया गया है। हम खुद को सुपिरियर मानते हैं। हमारा इतिहास उपमहाद्वीप का है, हमें इसे बढ़ावा देने की जरूरत है। हमारा इतिहास तुर्की का नहीं है।"

इफ्फत उमर सियासत में किस्मत आजमाएंगी? इस पर पाकिस्तानी अभिनेत्री ने कहा कि उनका ऐसा कोई इरादा नहीं है। इफ्फत उमर ने कहा, 'मैं ऐसा करने नहीं जा रही। कभी नहीं। मैं राजनीति के लायक नहीं हूं। मैं कलाकार हूं यही मेरा प्रोफेशन है। यह मेरा करियर है।'