• Hindi News
  • Women
  • Shahrukh's Son Aryan Was Caught In The Drugs Case, Not Only Dawood, Chhota Rajan, But Also Lady Dons Like Baby, Khaksa, Shabina, Najma And Fatima Have Ruled In The Drug Business.

शाहरुख के बेटे आर्यन पर ड्रग्स केस में शिकंजा:ड्रग्स के कारोबार में दाऊद, छोटा राजन का ही नहीं बेबी, खकसा, शबीना, नजमा और फातिमा जैसी लेडी डॉन का भी रहा है राज

नई दिल्ली2 महीने पहलेलेखक: दिनेश मिश्र
  • कॉपी लिंक

ड्रग्स मामले में गिरफ्तार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत 8 आरोपी 7 अक्टूबर तक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की कस्टडी में हैं। NCB ने एक पेडलर को भी पकड़ा है। इस पर रेव पार्टी के लिए ड्रग्स मुहैया करवाने का आरोप है। बताया जा रहा है कि इसी मामले में NCB कुछ और जगहों पर रेड भी कर सकती है।

एक वक्त था जब मुंबई में बड़ी-बड़ी पार्टियों के लिए ड्रग्स मुहैया कराने का काम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम, टाइगर मेमन और छोटा राजन जैसे माफियाओं का गैंग करता था। इन माफियाओं के बाद कई ऐसी महिलाएं भी थीं, जो ड्रग्स के कारोबार में उतरीं और अपना सिक्का जमाया। हालांकि, इनमें से कई पकड़ी गईं ताे कई सलाखों के पीछे हैं। आज हम आपको मुंबई समेत देश के बाकी शहरों की चकाचौंध दुनिया के स्याह सच के बारे में बता रहे हैं, जहां लेडी डॉन का राज चला करता था। ये ड्रग्स माफिया अपना सारा कारोबार कैश से करती रही हैं। इसके बदले वे दूसरों के नाम से संपत्ति खरीदते रहते हैं, ताकि अपनी अवैध आय आसानी से छिपा सकें।

1-शशिकला रमेश पाटणकर: क्वीन ऑफ ड्रग्स अंडरवर्ल्ड
ड्रग्स पेडलर और मुंबई के ड्रग्स अंडरवर्ल्ड की क्वीन शशिकला रमेश पाटणकर को बेबी पाटणकर नाम से भी जाना जाता है। 2015 में जब एक मामले में 114 किलो सफेद ड्रग अजीनोमोटो बरामद हुआ था, तब पुलिस को शशिकला के बारे में पता चला था। सतारा पुलिस के आला अफसरों पर इसके लिए गाज भी गिरी थी। रात का फायदा उठा कर ये महिला ड्रग्स माफिया अक्सर पुलिस को चकमा दिया करती थी। 2015 में पुलिस की 11 टीमों की एक महीने की कड़ी मशक्कत के बाद यह हाथ लगी थी। इसने म्याऊ म्याऊ नाम से चर्चित मेफेड्रोन ड्रग्स की सप्लाई का नेटवर्क फैला रखा था।

2-मेघा कुमारी उर्फ खकसा खातून: नेपाल तक चलता था कारोबार
बिहार में इसी साल जून में मुजफ्फरपुर जिले के ब्रह्मपुरा थाने की पुलिस ने नगर थाने की मदद से पक्की सराय चौक के समीप से ड्रग्स माफिया खकसा खातून उर्फ मेघा कुमारी को गिरफ्तार किया था। मेघा के खिलाफ ब्रह्मपुरा थाने में 22 अक्टूबर 2020 को एनडीपीएस एक्ट में एफआईआर दर्ज की गई थी। इसके बाद से वह फरार थी। मेघा रेडिमेड कपड़े का दुकान चलाती थी, जिसकी आड़ में ही वह स्मैक की तस्करी करती थी। बताया जाता है कि चंपारण व नेपाल से स्मैक मंगवाकर लोकल तस्करों को सौंपती थी।

3-शबीना खान: झुग्गियों से ऊंचे महलों तक चलाया कारोबार
मुंबई में ड्रग्स तस्कर सरफराज खान पर पुलिस ने शिकंजा कसा तो उसकी बीवी शबीना खान ने अपराध की दुनिया में कदम रखा और अपने शौहर की जगह ले ली। शबीना ने 25 ड्रग्स पेडलर्स के साथ इस कारोबार को बढ़ाया। एंटी नारकोटिक्स सेल की वर्ली यूनिट ने उसे कुर्ला से 50 लाख रुपए नकद के साथ गिरफ्तार किया, जहां वो रह रही थी। शबीना ने झुग्गियों में अपना ठिकाना बनाया और वहीं से मुंबई के पॉश इलाकों में अपना कारोबार फैलाया।

4-नजमा अहमद शेख: वर्ली से अंधेरी तक फैला साम्राज्य
ड्रग्स माफिया नजमा अहमद शेख का नाम मुंबई की संकरी गलियों में बेहद चर्चित है। जब वह पकड़ी गई तो उसके 73 लाख रुपए के ड्रग्स बरामद हुए। मुंबई के माहिम में रहने वाली नजमा का शौहर अहमद शेख हत्या के आरोप में जेल में बंद है। नजमा का ड्रग्स का कारोबार कुर्ला से ही चलता था। वर्ली से अंधेरी तक फैले उसके ड्रग्स के साम्राज्य में करीब 40 ड्रग्स पेडलर्स उसके अंदर काम करते थे।

5-फातिमा शेख: चेंबूर की खाला ने पुलिस की नाक में कर रखा था दम
चेंबूर की खाला कही जाने वाली फातिमा शेख ने पुलिस की नाक में एक समय दम कर रखा था। उसे भी गिरफ्तार किया गया। उसके पति पर मुंबई के कई थानों में मामले दर्ज हैं। उसके पास से 25 ग्राम हेम्प नामक ड्रग्स मिला। हालांकि, कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण मेडिकल ग्राउंड पर वो जमानत पाने में कामयाब रही। खुद ठीक से नहीं चल पाने वाली फातिमा के साथ सैकड़ों ड्रग्स पेडलर्स काम करते रहे हैं। भिवंडी में उसके गैंग ने कई झुग्गी-झोंपड़ियों को अपना अड्डा बनाया है।