अपर्णा अब गाएंगी भाजपा 'राग':पॉलिटिक्स की समझ के साथ ठुमरी गायकी में निपुण, मुलायम यादव की बहू अखिलेश की सपा को देंगी चुनौती

नई दिल्ली7 महीने पहलेलेखक: राधा तिवारी
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में दल बदल का सिलसिला जारी है। अभी इसी हफ्ते बीजेपी के 3 कैबिनेट मंत्री और कई विधायक पार्टी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे। पूर्व मुख्यमंत्री और सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव आज भाजपा में शामिल हो गईं।उन्हें दिल्ली के पार्टी मुख्यालय में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।अपर्णा यादव ने 2017 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर लखनऊ कैंट से चुनाव लड़ा था, लेकिन वो रीता बहुगुणा जोशी से हार गई थीं।

अपर्णा ने भाजपा की सदस्यता लेने के बाद पीएम मोदी और सीएम योगी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि मैं राष्ट्र की आराधना करने निकली हूं। मुझे आपका सहयोग बहुत जरूरी है। स्वच्छ भारत मिशन, महिलाओं के स्वावलंबन ओर पार्टी की अन्य योजनाओं से बहुत प्रभावित रही हूं। जो भी कर सकूंगी, पूरी क्षमता से करूंगी।

अपर्णा मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता के बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं। अपर्णा समाजवादी पार्टी में रहते हुए भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कई बार तारीफ कर चुकी हैं। माना जा रहा है कि भाजपा उन्हें लखनऊ कैंट विधानसभा सीट से उम्मीदवार बना सकती है

पॉलिटिक्स की समझ के साथ ठुमरी गायकी में निपुण
अपर्णा का जन्म 1 जनवरी 1990 को हुआ था। उनकी स्कूली शिक्षा लखनऊ के लोरेटो कॉन्वेंट इंटरमीडिएट कॉलेज से हुई है। उन्होंने राजनीति विज्ञान, आधुनिक इतिहास और अंग्रेजी में ग्रेजुएशन किया। अपर्णा ग्रैजुएट होने के साथ-साथ शास्त्रीय गायिका भी हैं। उन्होंने लखनऊ के भातखंडे संगीत विश्वविद्यालय में 9 साल तक शास्त्रीय संगीत की पढ़ाई की है। उन्हें घूमने का काफी शौक है, वह कई यूरोपीय देश घूम चुकी हैं।

साल 2011 में हुई थी अपर्णा की शादी
स्कूल में अपर्णा की मुलाकात मुलायम सिंह के बेटे प्रतीक से हुई थी। साल 2011 में परिवार की मंजूरी के बाद दोनों ने शादी कर ली। अपर्णा के पति प्रतीक यादव को दिलचस्पी राजनीति में नहीं है। वह बॉडी बिल्डर हैं और लखनऊ के सबसे बड़े जिम के मालिक हैं। इसके साथ रियल स्टेट का कारोबार करते हैं। इस शादी के अगले ही साल सपा को पूर्ण बहुमत मिला। मुलायम सिंह यादव के परिवार से जुड़ने के बाद अपर्णा राजनीति में एक्टिव हो गई थी।

पिता बड़े पत्रकार तो मां नगर निगम में अधिकारी
अपर्णा के पिता अरविंद सिंह बिष्ट पत्रकार रह चुके हैं। समाजवादी सरकार ने उन्हें अपने कार्यकाल में सूचना आयुक्त बनाया था। वहीं, अपर्णा की मां लखनऊ नगर निगम में अधिकारी हैं।

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में होगा चुनाव
उत्तर प्रदेश में सात चरणों में मतदान होना है। इसकी शुरुआत 10 फरवरी को राज्य के पश्चिमी हिस्से के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी। दूसरे चरण में 14 फरवरी को राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा।

खबरें और भी हैं...