• Hindi News
  • Women
  • The Girl Was From Egypt, The Saudi Administration Said Children Are Deteriorating After Seeing Small Hair, The Law Is Strict

सहेली से कहा-घर पर कोई नहीं, आ जाओ-जेल पहुंची, VIDEO:मिस्र की युवती पर लेस्बियन होने का आरोप, सऊदी प्रशासन बोला-छोटे बाल देख बच्चे बिगड़े

रियाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सऊदी अरब में मिस्र की एक यूट्यूबर को अपनी दोस्त के साथ वीडियो बनाना भारी पड़ गया। वीडियो के वायरल होने के बाद सऊदी पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। ताला सफवान नाम की यूट्यूबर पर समाज में अश्लीलता फैलाने और समलैंगिकता के प्रचार का आरोप लगाया गया है।

मूल रूप से मिस्र की ताला सफवान फिलहाल सऊदी अरब में रह रही थी। वह वीडियोज बनाकर सोशल मीडिया पर डालती थी। यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर उसके अच्छे- खासे फॉलोअर्स हैं।

दो महिलाओं के साथ को लोगों ने माना समलैंगिकता

ताला सफवान लंबे समय से वीडियो ब्लॉगिंग करती आ रही हैं। उनके ज्यादातर वीडियो फनी और प्रैंक वाले होते थे। ऐसे ही एक वीडियो ब्लॉग में ताला सफवान अपनी एक महिला दोस्त से बातचीत करती नजर आ रह थीं। इस वीडियो में वह अपनी सहेली से कहती हैं कि मेरे घर पर आ जाओ। अभी कोई नहीं है। इस हिस्से को लोगों ने समलैंगिकता का प्रचार करार दिया। जिसके बाद सऊदी अरब में उनके खिलाफ ट्विटर पर हैशटैग "Tala offends society" ट्रेंड करने लगा। जिसके बाद कुछ घंटों के भीतर ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

‘महिला के छोटे बाल देख कर बिगड़ रहे बच्चे’

सऊदी अरब पुलिस ने एक वीडियो जारी कर ताला की गिरफ्तारी की पुष्टि की। पुलिस ने बताया की मिस्र की नागरिक को सेक्सुअल कंटेंट बनाने और अश्लीलता फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इसमें यह भी बताया गया कि ‘ब्लॉगर के कंटेंट सामाजिक नैतिकता को हानि पहुंचा रहे थे। साथ ही छोटे बालों वाली ब्लॉगर को देख कर सऊदी के किशोरों पर बुरा प्रभाव पड़ रहा था।

सोशल मीडिया पर भड़का था सऊदी लोगों का गुस्सा

ताला के टिकटॉक पर 50 लाख और यूट्यूब पर 8 लाख फॉलोअर्स हैं। ताला मिस्र और दूसरे अरबी भाषी इलाके की जानी-मानी इन्फ्लूएंसर हैं। विवादित वीडियो के साथ ही उनके कई पुराने कंटेंट भी सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे। जिस पर सऊदी अरब के लोगों ने देश में अश्लीलता फैलाने के आरोप लगाए। उन्होंने ट्रेंड चलाकर पुलिस और प्रशासन से शिकायत की, जिसके बाद ताला को गिरफ्तार कर लिया गया।

सख्त है सऊदी का कानून, कई साल जेल में रहना पड़ सकता है

सऊदी अरब का कानून काफी रूढ़ीवादी माना जाता है। यहां इस्लामिक शरिया कानून का पालन होता है। कुरान को ही यहां संविधान का दर्जा दिया गया है। सऊदी अरब में आज भी पत्थर और कोड़े मारने जैसी सजा दी जाती है। समलैंगिकता के लिए यहां मौत तक की सजा दी जा सकती है। मौजूदा मामले में ताला को कई साल जेल में बिताने पड़ सकते हैं। जिसके बाद उन्हें उनके देश डिपोट कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...