• Hindi News
  • Women
  • This Girl Burns With Her Own Tears, She Can Die By Taking A Bath

इस लड़की के लिए पानी बन जाता है एसिड:खुद के आंसू से झुलस जाती है, नहाने से जा सकती है जान

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिका के एरिजोना से चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां 15 साल की एक लड़की को पानी से एलर्जी है। अबीगैल यूर्टिसेरिया बीमारी से पीड़ित हैं। ये बेहद की खतरनाक बीमारी हैं और ऐसा माना जाता है कि इस समस्या से दुनियाभर में 100 से भी कम लोग पीड़ित हैं। इस बीमारी से ग्रसित लोगों को आंखों से निकलने वाले आंसुओं से भी एलर्जी होती है। पानी उनके शरीर पर एसिड/ तेजाब की तरह रिएक्ट करता है। इस समस्या की वजह से कई दवाएं लेनी पड़ती है।

यूर्टिसेरिया बीमारी से पीड़ित लोगों को पानी से डर लगता है।
यूर्टिसेरिया बीमारी से पीड़ित लोगों को पानी से डर लगता है।

पानी में जाने से होती है एलर्जी
अबीगैल को उसके आंसुओं और अपने पसीने से भी एलर्जी होती है। इन्हें खुद के आंसुओं और पसीने से होने वाली एलर्जी से बचाने के लिए गर्मियों के दिनों में उसे पूरा दिन घर के अंदर बिताना पड़ता है, क्योंकि अगर उसके शरीर से पसीने निकले तो बिना पानी छूए ही उसकी हालत बदतर हो सकती है। अजीबोगरीब बीमारी की वजह से वे स्वीमिंग भी नहीं कर पाती। वे पानी में नहीं जा सकती है, क्योंकि उसके पूरे शरीर में फफोले निकल आएंगे। इसलिए डेनियल पानी को देखकर ही घबराती है। अबीगैल को जिमनास्टिक का शौक है, लेकिन पसीना निकलने की डर से डेनियल इस शौक से भी दूर रहती है।

20 करोड़ लोगों में से एक को होती है बीमारी
डॉक्टर का मानना है कि यह अत्यंत दुर्लभ स्थिति 20 करोड़ लोगों में से एक को प्रभावित करती है। पानी से एलर्जी के 100 से कम मामले दर्ज किए गए हैं। यह आमतौर पर तब होता है जब बच्चे युवावस्था में आते हैं। अबीगैल कहती हैं कि जब बारिश होती है तो उसकी त्वचा पर "एसिड" जैसा महसूस होता है। उसने एक साल से अधिक समय से एक गिलास पानी तक नहीं पिया है। वह एनर्जी ड्रिंक या अनार के जूस ही ज्यादातर पीती हैं। वह एक बार में केवल थोड़ी मात्रा में पानी पी सकती है और इसके रिएक्शन से निपटने के लिए एंटीहिस्टामाइन और स्टेरॉयड लेती रहती हैं।

महिला एक बार में केवल थोड़ी मात्रा में पानी पी सकती है और इसके रिएक्शन से निपटने के लिए एंटीहिस्टामाइन और स्टेरॉयड लेती रहती हैं।
महिला एक बार में केवल थोड़ी मात्रा में पानी पी सकती है और इसके रिएक्शन से निपटने के लिए एंटीहिस्टामाइन और स्टेरॉयड लेती रहती हैं।

पानी से डर से बात को लोग बनाते हैं मजाक
अबीगैल कहती हैं कि शुरुआत में जब मेरे शरीर पर चकते जैसे दिखे तो मेरी मां को लगा कि बॉडी लोशन में कुछ गड़बड़ी होगी। जिससे केमिकल रिएक्शन हुआ है। लेकिन धीरे-धीरे यह स्थिति और खराब होने लगी। जब मैं लोगों को बताती हूं कि मुझे पानी से एलर्जी है, तो लोग सोचते हैं कि यह बिल्कुल जोक है और बहुत से लोग यह सुनकर हैरान हो जाते हैं। लोग हमेशा कहते हैं कि हमारा शरीर पानी से बना है। अबीगैल अब खुले तौर पर जागरूकता बढ़ाने और लोगों को इस उम्मीद के साथ शिक्षित करने की अपनी स्थिति के बारे में बात करती है कि वे इसके बारे में अधिक समझेंगे।

एक बाल्टी पानी से नहाने से जा सकती है जान
अबीगैल जब भी पानी के संपर्क में आती हैं तो उन्हें उस हिस्से में चकत्ते हो जाते हैं, जिनमें काफी दर्द होता है। यहां तक कि गर्मियों के दौरान घर में ही रहना होता है। घर से बाहर निकलने में पसीना आ जाएगा, जिस वजह से उन्हें कई तरहों की परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। पसीने की वजह से उसे खुजली होने लगती है।

पानी के कारण डेनियल को एनाफायलैक्टिक शॉक भी लग सकता है। इसी कारण एक बाल्टी पानी से नहाने से डेनियल की जान भी जा सकती है।
पानी के कारण डेनियल को एनाफायलैक्टिक शॉक भी लग सकता है। इसी कारण एक बाल्टी पानी से नहाने से डेनियल की जान भी जा सकती है।

महिलाओं को ज्यादा प्रभावित करती है बीमारी
वॉटर एलर्जी को लेकर रिसर्चर्स बताते हैं कि यह आमतौर पर महिलाओं को ज्यादा प्रभावित करता है और इसके लक्षण अक्सर प्यूबर्टी की शुरुआत के आसपास शुरू होते हैं। कुछ लोगों को खुजली की भी शिकायत होती है। पर यह शारीरिक पित्ती का एक रूप है। एक्वाजेनिक पित्ती आनुवंशिक कारण से भी हो सकता है। हालांकि, कई मौकों पर पारिवारिक मामले सामने आए हैं, जिसमें एक रिपोर्ट में एक परिवार की तीन पीढ़ियों में बीमारी का वर्णन है।

वॉटर एलर्जी के लक्षण
-स्किन का लाल हो जाना
-त्वचा में तेज जलन
- लाल छोटे दाने निकलना
- दाने आमतौर पर गर्दन, शरीर के ऊपरी हिस्सों और बाहों पर निकल आते हैं। हालांकि, यह शरीर पर कहीं भी हो सकता है।
- कुछ लोगों को बस खुजली भी हो सकती है।