• Hindi News
  • Women
  • Urine Infection Can Reach The Kidney, There Is Also A Possibility Of Cancer

स्विमिंग पूल में हो सकता है वेजाइनल इन्फेक्शन:यूरिन इंफेक्शन किडनी तक पहुंच सकता है, कैंसर की भी संभावना

9 महीने पहलेलेखक: दीक्षा प्रियादर्शी
  • कॉपी लिंक

गर्मियों में मस्ती के लिए स्विमिंग पूल या वाटर पार्क में जाती हैं तो पानी में उतरने से पहले ये जरूर जान लें कि ये आपके वेजाइनल हेल्थ पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। कई बार इस गलती के कारण गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं। गाइनोकॉलजिस्ट मनीषा रंजन का कहना है हैं कि महिलाओं के यूरेथरा छोटी होती है, जिसके कारण उनमें यूटीआई का खतरा अधिक रहता है। इसलिए अगर महिलाएं पानी में उतरती हैं तो उन्हें सजग होने की जरूरत है।

आसानी से हो सकता है वेजाइनल इन्फेक्शन

स्विमिंग पूल का इस्तेमाल कई लोग करते हैं। कई लोग बिना नहाए ही पूल में उतरते हैं। इससे कई तरह के कीटाणु और बॉडी सिक्रेशन पानी में आ जाते हैं। इसके अलावा कई लोग उसी पानी में थूकते हैं। यहां तक कि कई लोग उसी पानी में यूरिन भी पास कर देते हैं। ऐसे में जिन महिलाओं को किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं है, उन्हें भी आसानी से वेजाइनल इन्फेक्शन हो सकता है। इसलिए पानी में उतरने से पहले इस बात को सुनिश्चित कर लें कि पूल साफ है या नहीं।

स्विमिंग पूल में कई तरह के कीटाणु और बॉडी सिक्रेशन पानी के साथ मिल जाते हैं।
स्विमिंग पूल में कई तरह के कीटाणु और बॉडी सिक्रेशन पानी के साथ मिल जाते हैं।

इन्फेक्शन आसानी से हो जाता है तो पानी में ना उतरें

वेजाइनल डिस्चार्ज होता है या फिर आसानी से यूरिन इन्फेक्शन हो जाता है तो वाटर पार्क या स्विमिंग पूल में ना जाएं। इससे आपको तुरंत इन्फेक्शन हो सकता है और साथ-साथ दूसरों को भी इसका खतरा रहता है।

यूरिन इन्फेक्शन आसानी से हो जाता है तो वाटर पार्क या स्विमिंग पूल में ना जाएं।
यूरिन इन्फेक्शन आसानी से हो जाता है तो वाटर पार्क या स्विमिंग पूल में ना जाएं।

पूल में उतरने से पहले क्लोरीन लेवल सुनश्चित करें

पूल इस्तेमाल करने से पहले क्लोरीन या पीएच लेवल जरूर जांच लें, अगर पानी में क्लोरीन कम या नहीं डाला गया है तो कीटाणुओं के फैलने की संभावना अधिक होती है। इसके लिए पोर्टेबल टेस्ट स्ट्रिप्स का उपयोग करने कर सकती हैं।

वेजाइनल या यूरिन इन्फेक्शन से बचना चाहती हैं तो खुद को हाइड्रेट रखना जरूरी है। रोजाना तीन से चार लीटर पानी पीने की कोशिश करें ताकि आपको आसानी से इन्फेक्शन ना हो। हालांकि, आप ऐसे रिसॉर्ट या वाटर पार्क को चुन सकती हैं, जो पब्लिकली इस्तेमाल नहीं किया जा रहा हो, जिसे सिर्फ आपकी ही फैमली के मेंबर्स बिना किसी चिंता के यूज कर सकें।

पूल इस्तेमाल करने से पहले क्लोरीन या पीएच लेवल जरूर जांच लें।
पूल इस्तेमाल करने से पहले क्लोरीन या पीएच लेवल जरूर जांच लें।

ये होता है तो डॉक्टर को करें संपर्क

यूरिन पास करते समय जलन, वेजाइनल एरिया में खुजली या बदबू, पेट के निचले हिस्से में दर्द या असहजता महसूस होती है तो आपको तुंरत डॉक्टर से संपर्क करें। ऐसा इसलिए क्योंकि वेजाइनल या यूरिन इंफेक्शन किडनी तक फैल जाने पर कैंसर और दूसरी बीमारियों का खतरा रहता है।